Thursday, July 19, 2018
Follow us on
National

दुल्हन तक नहीं पहुंच पाया नाबालिग दूल्हा दूल्हा साढे 20 का निकला, दुल्हन निकली बालिग

अटल हिन्द ब्यूरो | April 28, 2018 05:23 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

दुल्हन तक नहीं पहुंच पाया नाबालिग दूल्हा
दूल्हा साढे 20 का निकला, दुल्हन निकली बालिग
सन्नी मग्गू
जीन्द, 28 अप्रैल
जिले में बाल विवाह का एक और मामला सामने आया है। जिले में शुक्रवार रात को जिला महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी कार्यालय द्वारा एक नाबालिग लडक़ेे की शादी को रुकवाया गया है। इस शादी में जहां दूल्हे की उम्र लगभग साढे 20 वर्ष थी वहीं दुल्हन बालिग पाई गई। ऐसे में दूल्हे की लोन गांव जाने वाली बारात नहीं जा सकी। विभाग द्वारा लिखित में लडक़े के बालिग होने तक शादी नहीं करवाने का टीम को ब्यान दिया गया। जिला महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी करमिंद्र कौर को गुप्त सूचना मिली थी कि खाण्डा गांव में एक नाबालिग लडक़ेे की शादी करवाई जा रही है और लडक़ेे की बारात रात को लोन गांव जाने के लिए निकलने वाली है। सूचना मिलते ही सहायक बाल विवाह निषेध अधिकारी रवि लोहान, एएसआई राजबीर सिंह, एसपीओ सुरेशकुमार, महिला हैड कांस्टेबल राजेश कुमारी, नीलम देवी अलेवा थाना पुलिस के साथ मौके पर खाण्डा गांव में हो रहे विवाह स्थल पर पहुंचे तो पाया कि लडके की घुडचढी की तैयारी चल रही थी और बाराती गाडियों में बैठने की तैयारी कर रहे थे। ऐसे में बाल विवाह निषेध टीम को देखकर लोगों में हडकंप मंच गया। इस पर दूल्हे परिजनों से उसका जन्म प्रमाण पत्र मांगा तो पहले तो परिवार ने टीम को बरगलाने की कोशिश की लेकिन जब लगभग दो घंटे के बाद सर्टिफिकेट पत्र दिखाए उनमें लडक़ा नाबालिग पाया गया और उसकी उम्र साढे 20 वर्ष निकली। इस पर टीम ने शादी न करने के लिए लडक़े व उसके अभिभावकों को समझाया कि वह लडक़े के 21 वर्ष की उम्र पूरी होने के बाद ही उसकी शादी करें इसके बावजूद भी अगर आप नाबालिग लडक़े की शादी करते हैं तो आप सभी के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाही की जाएगी। इसके बाद लोन गांव में फोन करके दुल्हन बनने वाली लडकी से भी उसकी उम्र का पता किया गया तो वह बालिग मिली
और उसकी उम्र करीब 20 वर्ष मिली। दुल्हन के परिजनों को भी लडके के नाबालिग होने बारे बताया गया और बारात के ना आने बारे बताया गया। इस पर दोनों परिवारों ने सहमति से शादी को रोक दिया और परिवार द्वारा महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध विभाग के अधिकारियों को लिखित में ब्यान दिया कि वह कानून की पालना करेंगे तथा लडक़े के बालिग होने पर ही उसकी शादी करेंगे। इसके बाद लोन गांव जाने वाली बारात नहीं जा सकी।

Have something to say? Post your comment
More National News
कल तक सोनीपत पहुंचेगी सुरभि गुप्ता की डेडबॉडी
मोबाइल फोन ने उड़ाया अंतर्राष्ट्रीय योग का मखौल
योग का नहीं किसी जाति धर्म से लेना देना - प्रभारी मंत्री, योग करने से होता है शारीरिक व मानसिक विकास- डीएम अमेठी
दिल्ली स्थित दाती महाराज के आश्रम में है गुफा?दाती महाराज के आश्रम से संदिग्ध चीजें बरामद, घटनास्थल की पहचान पुलिस
दलितों ने किया 15 अगस्त के दिन धर्मांतरण का ऐलान
चर्म रोग दूर करता है इस कुएं का पानी
बैंक बड़ौदा में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में भारी गड़बड़ी की आशंका, मांगी गयी जनसूचना 34 करोड की लागत से बना तिरुपति बालाजी मंदिर के जल्द होगे दर्शन
8 वर्षीय बच्ची के साथ 22 वर्षीय युवक ने किया दुष्कर्म,
विदेश में हरियाण्वी संस्कृति से रूबरू करवा रहा सिद्धपुर का छौरा