Wednesday, August 22, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
जिलास्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता में मॉनटेसरी स्कूल के छात्र हितेष ने जीता सिल्वर मेडलगांव के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर पौधारोपण कर पूर्व प्रधानमंत्री को दी श्रद्धांजलिअभाविप महेंद्रगढ़ द्वारा सभा का आयोजन कर अटल बिहारी वाजपेई को दी श्रद्धांजलिबकरीद के त्योहार को शान्तिपूर्ण ढंग से मनायें, अफवाहो पर न दे ध्यान-जिलाधिकारीअमेठीः समय से आय जाति निवास में लेखपाल नहीं लगा रहे रिपोर्ट, स्कॉलरशिप से छूट सकते हैं छात्रझूठे झमेले फैलाकर समाज में फूट डालने का कार्य कर रहे हैं नशाखोर भगवांधारीगांव जाट में किया गया मेले का आयोजन, विभिन्न खेल प्रतियोगिताएं संपन्ननरवाना-दो हजार ने नशा को की ना, नशा न करने का लिया संकल्प
Crime

कैथल,षडय़ंत्र के तहत बुजूर्ग को हनी ट्रैप में फंसाकर 5 लाख रुपये एंठने के मामले में सीआईए-टू पुलिस के जाल में फंसे महिला सहित 3 ब्लैकमेलर

कृष्ण प्रजापति | May 10, 2018 08:29 AM
कृष्ण प्रजापति
षडय़ंत्र के तहत बुजूर्ग को हनी ट्रैप में फंसाकर 5 लाख रुपये एंठने के मामले में सीआईए-टू पुलिस के जाल में फंसे महिला सहित 3 ब्लैकमेलर
 
हडपी गई एक लाख रुपये नकदी सहित कुल 1.40 लाख रुपये बरामद
 
2 आरोपियों को दो दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल
 
कैथल, 09 मई (कृष्ण प्रजापति): आपराधिक षडय़ंत्र रचते हुए करीब 65 वर्षीय सम्मानित नागरीक को हनीट्रैप में फांसकर योजनाबद्ध तरीके द्वारा 5 लाख रुपये नकदी हड़पने के मामले में सीआईए-टू पुलिस द्वारा की गई तत्पर कार्रवाही दौरान एक महिला सहित 3 आरोपी दबिश देते हुए गिरफ्तार कर लिए गये। महिला के कब्जा से उसके हिस्से आई एक लाख रुपये नकदी तथा शेष 2 आरोपियों को पुलिस जाल में फांसने के लिए प्रयुक्त की गई 40 हजार रुपये नकदी सहित कुल 1.40 लाख रुपये नकदी तथा दो मोबाईल फोन बरामद कर लिए गये। वारदात में लिप्त 2 अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी तथा शेष नकदी की बरामदगी के लिए दो आरोपियों का 9 मई को न्यायायल से 11 मई तक 2 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है।
    पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने जानकारी देते हुए बताया कि बिजली विभाग से वर्ष 2012 दौरान रिटायर्ड हुए शहर के करीब 65 वर्षीय एक प्रतिष्ठित नागरीक की शिकायत पर 8 मई को थाना सिविल लाईन में दर्ज मामले अनुसार हरीगढ़ किंगन में उसकी रिश्तेदारी होने के नाते उसी गांव निवासी लगभग 75 वर्षीय शमशेर सिंह नामक व्यक्ति से जान पहचान हो गई थी, जिसने करीब एक वर्ष 6 माह पुर्व उससे 30 हजार रुपये उधारी लिए थे। इसके बाद करीब एक वर्ष पुर्व उपरोक्त शमशेर सिंह निवासी हरीगढ़ किंगन ने उससे अर्जुन नगर कैथल निवासी एक महिला को भी 80 हजार रुपये एक रुपया सैंकडा की ब्याज दर पर उधारी दिलवा दिए। पैसे का तकाजा करने पर उपरोक्त दोनों शिघ्र नकदी लौटाने का आश्वासन देते रहे। दिनांक 29 अप्रैल को कैथल में उसके पास शमशेर आया तथा कहने लगा कि आपकी पुत्रवधू का दुर्भाग्य से गर्भपात हो चुका है, 30 अप्रैल को पुॢणमा के अवसर पर हरिद्वार चलो, जहां पाठ करवाने से ओपरी पराई सहित सभी क्लेश कट जाएगे, तो वह उसके बहकावे में आ गया। निर्धारित तिथि पर जब वह बस अड्डा कैथल पर पहुंचा तो शमशेर के साथ 2 औरते भी थी, जिनके बारे में उसने बताया कि वे भी पाठ करवाने हरीद्वार जा रही है। तीनों द्वारा शाम के समय हरीद्वार के किसी सतसंग भवन में कमरा बुक करवाया गया, तथा तीनों उसी कमरे में रुक गये। रात के समय शमशेर द्वारा दिया दुध का गिलास पीने उपरांत उसको नशा होने लगा तथा आरोप अनुसार शमशेर द्वारा एक औरत के साथ व्याभिचार किया गया, और पिडित पुरुष के जबरन कपडे उतरवा कर एक महिला को उसके उपर जबरन लेटा दिया, जबकि वह शुगर का मरीज तथा वृद्ध होने की दुहाई देता रहा। अगली सुबह शमशेर ने बताया कि उसका दोस्त कुलदीप उर्फ दीप गाडी लेकर आया हुआ है, उसी गाडी में वापिस चलेगे। हरीद्वार बस स्टैंड पर उनको कुलदीप व सोनु नामक युवक मिले जिन्होनें उसके साथ मारपीट करते हुए जबरन उसका मोबाईल फोन छीन लिया, तथा एक औरत का अपनी रिश्तेदार बताते हुए आरोप लगाने लगे, कि तुमने महिलाओ के साथ जबरन दुराचार किया है, औरतो को हरिद्वारा क्यो लाए हो। हरीद्वार से सभी पेहवा पहुंच गए, जहां आरोपी उससे 20 लाख रुपये की मांग करने लगे, तथा अंतत: 3 घंटो मध्य 5 लाख देने तथा शेष रुपये 8 मई तक देने की कहते हुए 12 लाख की मांग पर अड गये, अन्यथा महिला का मैडिकल करवा कर रेप मामले में फसाने की धमकी देने लगे। बेईज्जत के डर कारण बुजूर्ग ने जसै तैसे प्रबंधन करके कुलदीप व उनके साथियों को 1 मई के दिन 5 लाख रुपये दे दिये तो आरोपियों द्वारा उससे जबरन प्रोनोट लिखवाया गया कि सोनु को कर्ज के 5 लाख रुपये अदा कर दिए गये, शेष कर्ज वह 8 मई तक अदा कर देगा। अगले दिन से ही आरोपियों के धमकी भरे फोन आने शुरु हो गये कि वह शेष कर्ज को शीघ्र अदा कर दे।
    पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 8 मई को मामला पुलिस के संज्ञान में आते ही सीआईए-टू पुलिस को मामले का पटाक्षेप करने के आदेश दिए गये। क्राईम ब्रांच-2 प्रभारी सबइंस्पेक्टर सत्यवान की अगुवाई में सहायक उपनिरिक्षक सत्यवान सिंह तथा उसकी टीम द्वारा 40 हजार रुपये नकदी चिंहित करते हुए मुदई को दी गई, तथा सीवन चौक कैथल स्थित एक चाय की दुकान में नकदी प्राप्त करने आए हुए आरोपियों के पास भेजते हुए हिदायत दी गई कि नकदी सौपते ही वह मौका पर छिपी हुई पुलिस को विशेष संकेत देकर सुचित करे। संकेत विशेष प्राप्त होते ही पुलिस द्वारा दबिश दी गई तथा आरोपी शमशेर हाल निवासी सिरटा रोड कैथल व कुलदीप उर्फ दीप निवासी ब्रह्मपुरी प्लॉट गांव रुआं जिला कुरुक्षेत्र हाल निवासी सिरटा रोड कैथल को काबु कर लिया गया। दोनों आरोपियों की तलाशी दौरान एएसआई सत्यवान द्वारा उनके कब्जा से चिहिंत की गई 20-20 हजार रुपये नकदी व एक-एक मोबाईल फोन बरामद कर लिया गया, जिनको धमकी देने में प्रयुक्त किया गया था। आरोपियों से पुछताछ दौरान सीआईए-टू पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्रवाई तहत महिला पुलिस को साथ लेकर 9 मई को अर्जुन नगर में दबिश देते हुए आरोपी महिला को काबु कर गिरफ्तार कर लिया गया, जिसके कब्जा से उसके हिस्से आई एक लाख रुपये नकदी बरामद कर ली गई। पुछताछ दौरान वारदात में लिप्त दूसरी महिला व पुरुष की समुचित पहचान कर ली गई है। तीनों आरोपी 9 मई को अदालत में पेश कर दिए गये, जहां से महिला को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत तथा शेष दोनों आरोपियों का दो दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल किया गया है, जिनसे व्यापक पुछताछ की जा रही है।
Have something to say? Post your comment
More Crime News
जींद-अवैध संबंध के चलते पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या
दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, नहर से मिला महिला का शव, थानाक्षेत्र बाजार शुक्ल का मामला
कभी शांति व सादगी का प्रतीक माना जाने वाला जिला आज बना अपराधों का अड्डा
नरवाना पुलिस ने डाक्टर टीम के साथ घर में रखें नशीले इंजेक्शन व दवाईयां बरामद की
सोनीपत-नकाबपोशों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
एफआईआर दर्ज करवाते समय इन बातों पर जरूर दें ध्यान
जमीन को लेकर दस दिन में दूसरा खुनी संघर्ष, एक की मौत कई घायल
बारड़ा गांव में पकड़ा गायों से भरा ट्रक, पुलिस ने खानापूर्ति कर मामले से किया किनारा
"सिर चढक़र बोलता अंधविश्वास", विज्ञान के युग में भी लोग फंस रहे पाखंडियों के जाल में