Saturday, February 23, 2019
BREAKING NEWS
अमेठी के शुकुल बाजार थाना क्षेत्र में तालाब से हो रहा अवैध खननइसंपेक्टर संदीप मोर सीआईए -56 के निरीक्षक नियुक्तहिमाचल के मुख्यमंत्री ने की रा.व.मा.पा सरोआ में अखण्ड शिक्षा ज्योति-मेरे स्कूल से निकले मोती कार्यक्रम की अध्यक्षतापूर्व सरपंच व दो पंचों को कोर्ट ने सुनाई 2 साल की सजा, जानिये क्या है पूरा मामलाजिला अस्पताल में नही है कुत्ते काटे का इंजेक्शन -- सीएमएसएनएचएम कर्मचारियों को सीएम की दो टूक काम पर लौटें, नहीं तो दूसरे युवा उनकी जगह लाइन मेंडेढ़ दर्जन भाजपा विधायकों पर लटकी तलवारतरावड़ी में ईलाज के दौरान युवती की मौत पर परिजनों ने किया हंगामाबटाला-निजी स्कूल की बस पलटी,करीब दो दर्जन बच्चे घायलसीएससी कैसे करायेगी आर्थिक जनगणना का कार्य, विद्युत मीटर लगाने का नहीं मिला पारिश्रामिक

Political

गठबंधन के बाद भाजपा व कांग्रेस के बड़े नेता उनके संपर्क में -चौटाला

May 17, 2018 05:33 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

गठबंधन के बाद भाजपा व कांग्रेस के बड़े नेता उनके संपर्क में -चौटाला
देश व प्रदेश का प्रजातंत्र खतरे में, रीजनल पार्टियां मायावती के नेतृत्व में भाजपा व कांग्रेस को उखाडऩे का करेगी काम
सन्नी मग्गू
जीन्द, 17 मई
विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि इनेलो-बसपा के गठबंधन के बाद विपक्षी दलों में घबराए हुए है। गठबंधन होने के बाद भाजपा व कांग्रेस के बड़े नेता उनके संपर्क में हैं और इनेलो में शामिल होना चाहते हैं। इन नेताओं के इनेलो में शामिल होने के बाद भाजपा व कांग्रेस में भगदड़ मच जाएगी। नेता प्रतिपक्ष वीरवार को जाट धर्मशाला में इनेलो-बसपा के जिला स्तरीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में अतिविशिष्ट अतिथि के तौर पर बसपा के हरियाणा व हिमाचल के जोनल प्रभारी दयाचंद लाकरा रहे। इस दौरान उन्होंने 12 जून को एसवाईएल के मुद्दे पर जींद में होने वाले जेल भरो आंदोलन में भाग लेने का आह्वान किया। चौटाला ने कहा कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद देश का प्रजातंत्र खतरे में पड़ गया है और भाजपा व कांग्रेस रीजनल पार्टियों को खत्म करना चाहती है। लोकतंत्र खतरे में देखकर देश की रीजनल पार्टियां एकजुट हो रही है और बसपा प्रमुख मायावती के नेतृत्व में देश में तीसरे मोर्च का गठन किया जाएगा। प्रजातंत्र को खत्म करने की शुरुआत कांग्रेस ने 1982 में की थी। जहां पर चौधरी देवीलाल के नेतृत्व में बहुमत होने के बावजूद भी कांग्रेस ने भजनलाल का मुख्यमंत्री बना दिया था। अब इसी तरीके से देश में भाजपा प्रजातंत्र को खतरे में डालकर गोवा, कर्नाटक, असम में सरकार बना ली है। इस तरीके से देश में खतरे में पड़ रहे प्रजातंत्र को देखकर रीजनल पार्टियां भी घबराई हुई है और एकजुट होने लगी है। देश को इस खतरे से बचाने के लिए इनेलो-बसपा ने गठबंधन करके शुरुआत की है। उत्तर प्रदेश में जहां बसपा-सपा संयुक्त रूप से चुनाव लड़ेगी। इसी तरीके से दूसरे प्रदेशों में तीसरे मोर्च का गठन किया जाएगा और बसपा प्रमुख मायावती को प्रधानमंत्री बनाया जाएगा, जबकि हरियाणा में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को सीएम बनाया जाएगा। प्रदेश सरकार ने निशाना साधते हुए चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार आपसी भाईचारे को तोडऩे के लिए 35-1 का नारा दे रही है, लेकिन इनेलो-बसपा ने गठबंधन करके भाईचार को बरकार रखने का काम किया है। भाजपा ने प्रदेश का विकास करने की बजाए तोडऩे का काम किया और अपनी जमीन को खिसकी देखकर मुख्यमंत्री मनोहरलाल को रोड शो करने पड़ रहे हैं। प्रदेश में आज हालात यह है कि प्रत्येक वर्ग सरकार की नीतियों से तंग है और जल्द से जल्द छुटाकार चाहता है। उन्होंने कहा कि इनेलो की सरकार बनने के बाद गरीब लडक़ी की शादी पर 5 लाख रुपये का कन्यादान दिया जाएगा, किसान के कर्ज को जड़मूल से माफ किया जाएगा, किसानों के खेतों के बिजली बिल माफ करके मुफ्त बिजली दी जाएगी, शहरों व गांवों के घरों में सप्लाई होने वाली बिजली के दामों को आधा किया जाएगा, हर घर को रोजगार दिया जाएगा, अगर उसके बाद भी जो युवा बिना रोजगार के रह जाते हैं उनको 15 हजार रुपये बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। बसपा के हरियाणा व हिमाचल के जोनल प्रभारी दयाचंद लाकरा ने कहा कि इनेलो-बसपा का गठबंधन राजनीतिक नहीं सामाजिक गठबंधन है, क्योंकि भाजपा व कांग्रेस ने प्रदेश के भाईचारे को तोडऩे का काम किया, लेकिन इस गठबंधन ने समाज को जोडऩे का काम किया है। उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव के बाद प्रदेश में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व गठबंधन की सरकार बनेगी, वहीं केंद्र में तीसरे मोर्चा का गठन करके बहन मायावती को पीएम बनाया जाएगा। गठबंधन के बाद विपक्षी दल बेमेल गठबंधन बता रहे है, लेकिन यह गठबंधन दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं का दिल का मेल है। प्रदेश में विधानसभा व लोकसभा में सभी सीटों को जीतकर भाजपा व कांग्रेस का सुपड़ा साफ कर देगी। जिला प्रधान कृष्ण राठी, विधायक परमेंद्र सिंह ढुल, पिरथी नंबरदार, डॉ. हरिचंद मिढ़ा, युवा प्रदेश प्रभारी प्रदीप गिल, बसपा के जोन प्रभारी सुमेर चाबरी, वेद सिंह मुंडे, जिले सिंह कश्यप, पूर्व विधायक सुरजभान काजल, रामफल कुंडू, कलीराम पटवारी, जिला प्रैस प्रवक्ता कृष्ण ढांडा, भगवान दास, मियां सिंह सिहाग, जींद हलका प्रधान भूपेंद्र जुलानी, सुभाष देशवाल, सुदेश चोपड़ा प्रताप लाठर, सुबे सिंह लोहान, बिल्लुपेगां, मा. सत्यवान, रणधीर घोघडिय़ां, ओम प्रकार बैरागी, बलवान कुं डु,नरेश गौतम,ईश्वर उचाना, घनश्याम घसो, रंगीन, हरीश अरोड़ा, देशराज माटा, कर्ण सिंह चहल, राजपाल, बिट्टू नैन,प्रदीप नरवाना, कृष्ण मिढ्ढा, सतीश छांछिया, संतराम सरोहा, भीम निवास, राजेश सरोहा, सतीश जैन, अशोक गोयल, बिजेंद्र रेढू, कृष्णा बधाना, सुमित्रा देवी, नीरू बंसल, उषा मोर, भगवती दहिया,रणधीर चहल, कुलबीर चहल, बलवंत जोगी, बलराज नगूरां, राममेहर दनौदा, सतबीर पड़ाना, दयानंद कु ंडू, सत्येंद्र ढुल अनुराग खटकड़, सोनू गुलिया, पार्टी कार्यालय सचिव गुरदीप सांगवान मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment

More in Political

डेढ़ दर्जन भाजपा विधायकों पर लटकी तलवार

अच्छे कार्य में आलोचनाएं मिलना तय, संयम के साथ बढऩा चाहिए आगे : विजय गोयल

हरियाणा में लोक सभा और विधानसभा चुनाव होंगे अलग-अलग तय समय में: विश्वास

पूर्व सांसद नवीन जिंदल ने दिया अफवाओं को विराम

ग्रुप-डी की भर्तियों के मुद्दे विपक्ष ने सरकार को घेरा: एमए, बीएड लग रहे माली व चपड़ासी

भूमि अधिग्रहण के मुद्दे पर विधानसभा में हंगामा

हरियाणा में कौन-कौन नेता होंगे भाजपा में शामिल ??? भाजपा प्रदेश की सियासत में हड़कंप मचाने को तैयार

अशोक तंवर ही रहेंगे हरियाणा कांग्रेस के बॉस, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा

केजरीवाल के गृहक्षेत्र लोहारू में सुभाष पंवार पर दांव खेल सकती है आम आदमी पार्टी

अभय चौटाला में अपने ही पार्टी नेताओं को बताया ठग