Sunday, February 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
संगठन सर्वोपरी होता है और इससे बडी ताकत नहीं-डा. श्रीकांतएक्शन मूढ में कांग्रेस,नए प्रभारी लोकसभा के उम्मीदवारों की सूचि तैयार करनें में जूटे,पार्टी पदाधिकारियों से ले रहे है प्रदेश अध्यक्ष की रायडॉक्टरों का एनपीए 20 प्रतिशत बढ़ामेले के अंतिम दिन रही भारी भीड़, रामकुमार के बैगपाईपर की धुन पर युवाओं की खूब मस्ती।रा.व.मा. विद्यालय बुडीन की दो छात्राओं का NMMS में हुआ चयनएग्री समिट-2019:राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 25 किसानों को 1 लाख रुपए राशि के साथ दिया कृषि रत्न पुरस्कारराज्य सरकार पर्यटन को बढावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है-राम बिलास शर्मारातभर अंधेरे में डूबा रहता है सतनाली का मुख्य बाजार, स्ट्रीट लाइटें खराब होने से कस्बे की गलियां व मुख्य चौक रहते है अंधकारमय
 
 
Punjab

जून में शादी थी,मई में आ गई मौत साऊदी अरब से ताबूत में पैक होकर पहुंचा गांव लंगरवाल में निशान सिंह का शव

अटल हिन्द ब्यूरो | May 22, 2018 03:35 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
जून में शादी थी,मई में आ गई मौत साऊदी अरब से ताबूत में पैक होकर पहुंचा गांव लंगरवाल में निशान सिंह का शव
‌बटाला(रघुवंशी / कंवल) साऊदी अरब में रोजी रोटी के लिये बटाला के कस्बा फतेहगढ़ चूडियां के गांव लंगरवाल के रहने वाले 27 साल के युवक का शव उसके पैैतृक गांव लंगरवाल में पहुंचा। उक्त युवक की मौत 7 अप्रैल को ही यमाामा की सीमेंट वाली कंपनी में केमिकल वाला सीमेंट गिरने से और झुलसने से हुई थी। युवक का शव आते ही पूरे गांव में सन्नाटा छा गया। पारिवारकि सदस्य ताबूत पर लिपट कर रोने लगे। बताया जा रहा है कि जून महीने में उसकी शादी होनी थी। मृतक युवक निशान सिंह कंपनी से पिछले एक साल से छुट्टी मांग रहा था मगर कंपनी उसे छ़ुट्टी नही दे रही थी। शव हेल्पिंग हैल्पलेस संस्था द्वारा निशान सिंह के घर पहुंचाया गया ।
 
 
मृतक निशान सिंह का गांव में ही दाह संस्कार कर दिया गया। मृतक निशान सिंह के शव को लेकर आई हेल्पिंग हैल्पलेस संस्था की संचालक अमनजोत कौर रामूवालिया ने बताया कि निशान सिंह (27) की मौत के बाद 30 अप्रैल को उनके दफ्तर मृतक के पारिवारिक सदस्यों ने उनकों अपनी मुश्किल के बारे में बताया था कि निशान सिंह की मृतक शरीर को वापस भारत नहीं भेजा जा रहा। तभी उन्होंने साउदी अरब में किसी तरह राबता बनाया और परिवार को कहा कि उनके बेटे के शव को गांव पहुंचाया जाएगा। अमनजोत कौर ने कहा कि पंजाब सरकार को ऐसे मामलों को गंभीरता से लेना चाहिए और रोजगार के मौके पैदा करने चाहिए, ताकि माताओं को ऐसा दुख न देखना पड़े। मृतक की माता हरजिंदर कौर ने बताया कि निशान सिंह तीन साल पहले साउदी अरब गया था और उसने जल्द ही आ जाना था। वहां पर यमामा सीमेंट कंपनी रियात में ट्राला ऑपरेटर का काम करता था। 31 मार्च को उसके साथ कर्मचारी ने फोन करके बताया था कि निशान सिंह केमिकल वाला सीमेंट पड़ जाने से झुलस गया है। 7 अप्रैल को अचानक उसकी इलाज के दौरान मौत की खबर आई। उन्होंने बताया कि कई राज्य नेताओं से भी संपर्क किया गया, लेकिन उनकी कोई मदद नहीं हो सकी। अंत में मैडम अमनजोत कौर रामूवालिया से संपर्क किया तो उन्होंने शव को भारत लाने में उनकी मदद की और उनके बेटे का मृत शव उनके घर पहुंचा कर बहुत पुण्य का काम किया है। मृतक की मां हरजिंदर सिंह कौर,बहन गुरबीर कौर,राजबीर कौर और भाई संदीप सिंह ने आगे बताया कि उनके भाई निशान सिंह की शादी जून महीने मे होनी थी। वह सभी तो खुशियों की तैयारी में थे मगर क्या पता था कि गमों का भुचाल आ जाएगा।
 
Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
बिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !
एवलांच की चपेट में मरने वाले डेरा बाबा नानक के दोनों युवकों का किया अतिंम संस्कार
जीजा की हत्या के मामले में नामजद आरोपी साला गिरफ्तार,भेजा जेल
सड़क हादसे में पिता-पुत्र की मौत, मां घायल
लिंग निधार्रिन टेस्ट करते हुये रंगे हाथों डॉक्टर समेत 6 लोग काबू
सचिव से किसान बोले- कॉरिडोर के लिये वह फ्री जमीन देने को तैयार मगर सरकार उनके हर सदस्य को सरकारी नौकरी दे
मामला श्री करतारपुर कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाले जमीन की मुआवजा राशि का
बटाला पुलिस ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाया- पिता ही निकला अपने बेटे का हत्यारा,आरोपी पिता गिरफ्तार
खरड़ की महिला ने पुलिस पर अपहरणकर्ता को छोड़ने के लगाए आरोप:
अकाली दल और भाजपा में हुआ समझौता ,सुखबीर बादल में की अमित शाह में मुलाक़ात