Friday, August 17, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
ढांड के बीपीआर स्कूल में राजकीय अवकाश के बावजूद लहराता रहा राष्ट्रीय ध्वजजब नए सांसदों को राजनीतिक शुचिता का पाठ पढाने हरियाणा आए वाजपेयीकन्या जन्म पर कुआं पूजन का आयोजन कर लोगों को किया प्रेरित18 अगस्त को हरियाणा बंद को लेकर किसानों व व्यापारियों से साधा संपर्कभारत में कोई नहीं है छोटा या बड़ा, सबको मिलकर करना चाहिए देशहित में कार्य: अमित यादववीर शहीदों की याद में तिरंगा यात्रा निकाल हर्षोल्लास व जोश के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवससावधान, क्षेत्र में एक बार फिर पशु चोर गिरोह सक्रिय, गांव बारड़ा से चुराई दो भैंसगुरूकुल में मिलती है संस्कारवान शिक्षा: दुष्यंत चौटाला
Punjab

इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही

अटल हिन्द ब्यूरो | May 25, 2018 04:47 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही
बठिंडा, 25 मई,(परविंद्र )पडोसियों की मारपीट का शिकार हुआ एक बजुर्ग इंसाफ लेने के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर जिला प्रशासनिक अधिकारियों के पास पहुंचता है लेकिन उसके बावजूद बजुर्ग दर्शन सिंह आयू 63 वर्ष की कोई सुनवाई नही हो रही । इस के अलावा जिला कानूनी सेवांए अथार्टी की ओर से भी बजुर्ग को अदालत में केस के लिए वकील तक मुहैया नही करवाया गया वो ए डी आर केंद्र के चक्कर काटता रहा ।एक बातचीत के दौरान बजुर्ग दर्शन सिंह निवासी गांव अब्लू कोटली ने बताया कि छह अप्रैल 2018 को उसके पडोसियों ने उसके घर दाखिल होकर उससे मारपीट की थी। जिस में घायल हो गया था और उसे गांव के लोगों ने उपचार के  लिए सिविल अस्पताल गोनियाना में दाखिल करवाया । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि घटना के बाद सिविल अस्पताल में पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला की पुलिस के पास जो उसने ब्यान लिखवाने चाहे वो पुलिस ने लिखे नही और ब्यान लेने आए पुलिस कर्मीयों ने आरोपियों को फायदा पहुंचाने के लिए अपनी मर्जी से ब्यान लिख लिए और धारा 323 के तहत रपट दर्ज कर दी । बजुर्ग ने बताया कि जब उसने चौंकी की पुलिस के ध्यान में बार बार लाया कि उसके साथ घर में घुसकर पडोसियों ने मारपीट की है, उसके बावजूद पुलिस ने सही कारवाई नही की । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि वह लगातार अपने साईकिल पर गांव से बठिंडा बीस किलोमीटर तक का सफर तय कर पुलिस अधिकारियों के पास आता रहा और जब पुलिस ने उसकी कोई सुनवाई नही की तो वह जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पास अदालत के लिए वकील की सूविधा लेने के लिए पहुंचा लेकिन वहां पर तैनात अधिकारी उसके चक्कर कटवाते रहे और उसे वकील मुहैया नही करवाया । बजुर्ग ने बताया कि अब उसे एक वकील विकास कुमार मिलें जिन्होनें उसका दर्द सुनते ही अपने खर्च पर खुद पुलिस व आरोपियों के खिलाफ अदालत में केस दायर किया है।इस संबंधी जब पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला के मुंशी गुरमेल सिंह से बात की गई तो उन्होनें डयूटी ज्यादा लगने का बहाना लगाते हुए कहा कि वह इसी कारण आगे की कारवाई नही कर पाए । दूसरी तरफ थाना नेहियां वाला प्रभारी इंस्पैक्टर अंग्रेज सिंह ने कहा कि वह मामले की जांच करवा बजुर्ग को इंसाफ देगें । जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पेनल वकील कंवलजीत सिंह कुटी से जब बात की गई तो उन्होनें कहा कि अगर कोई ऐसा मामला सामने आया है तो वह इस बारे में अपने उच्च अधिकारी के ध्यान में लाएगें । 
Have something to say? Post your comment
More Punjab News
बठिंडा-स्कूल प्रिंसीपल को बिना बताए होस्टल से दो छात्राओं को बाहर भेजने के आरोप में फरीदकोट में हुई बैंक डकैती के दो आरोपियों को फायरिंग कर बठिंडा के सेलबराह से किया गिरफतार अकाली नेता की बसों में डीजल भरने वाला टैंकर पकडा,गौरखधंधे का किया पर्दाफाश टैक्सी वंगार में नही दी तो तीन एएसआई ने चोरी के झुठे केस दर्ज कर दी जिंदगी तबाह -पीडित टैक्सी डराईवर बठिंडा,खाकी की गुंडागर्दी हुई कैमरे में कैद-जेल से छुटटी पर आए कैदी के घर छापामरी कर
बेकाबू कार वृक्ष से टकराई,एक ही परिवार के तीन लोगों की हुई मौत,दो गंभीर
प्यार में नाकाम प्रेमी प्रेमिका की शादी के दिन उठवाना चाहता था अर्थी, निगला जहर
अमित शाह के नेतृत्व में चलने वाले बैंक में हुआ सबसे बड़ा घोटाला-पाहड़ा
हमलावरों ने पूर्व सरपंच के बेटे पर फायरिंग की बरगाड़ी कांड में बड़ा खुलासा- सिरसा डेरे से गए थे हथियार?