Monday, February 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
संगठन सर्वोपरी होता है और इससे बडी ताकत नहीं-डा. श्रीकांतएक्शन मूढ में कांग्रेस,नए प्रभारी लोकसभा के उम्मीदवारों की सूचि तैयार करनें में जूटे,पार्टी पदाधिकारियों से ले रहे है प्रदेश अध्यक्ष की रायडॉक्टरों का एनपीए 20 प्रतिशत बढ़ामेले के अंतिम दिन रही भारी भीड़, रामकुमार के बैगपाईपर की धुन पर युवाओं की खूब मस्ती।रा.व.मा. विद्यालय बुडीन की दो छात्राओं का NMMS में हुआ चयनएग्री समिट-2019:राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 25 किसानों को 1 लाख रुपए राशि के साथ दिया कृषि रत्न पुरस्कारराज्य सरकार पर्यटन को बढावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है-राम बिलास शर्मारातभर अंधेरे में डूबा रहता है सतनाली का मुख्य बाजार, स्ट्रीट लाइटें खराब होने से कस्बे की गलियां व मुख्य चौक रहते है अंधकारमय
 
 
Punjab

इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही

अटल हिन्द ब्यूरो | May 25, 2018 04:47 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही
बठिंडा, 25 मई,(परविंद्र )पडोसियों की मारपीट का शिकार हुआ एक बजुर्ग इंसाफ लेने के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर जिला प्रशासनिक अधिकारियों के पास पहुंचता है लेकिन उसके बावजूद बजुर्ग दर्शन सिंह आयू 63 वर्ष की कोई सुनवाई नही हो रही । इस के अलावा जिला कानूनी सेवांए अथार्टी की ओर से भी बजुर्ग को अदालत में केस के लिए वकील तक मुहैया नही करवाया गया वो ए डी आर केंद्र के चक्कर काटता रहा ।एक बातचीत के दौरान बजुर्ग दर्शन सिंह निवासी गांव अब्लू कोटली ने बताया कि छह अप्रैल 2018 को उसके पडोसियों ने उसके घर दाखिल होकर उससे मारपीट की थी। जिस में घायल हो गया था और उसे गांव के लोगों ने उपचार के  लिए सिविल अस्पताल गोनियाना में दाखिल करवाया । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि घटना के बाद सिविल अस्पताल में पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला की पुलिस के पास जो उसने ब्यान लिखवाने चाहे वो पुलिस ने लिखे नही और ब्यान लेने आए पुलिस कर्मीयों ने आरोपियों को फायदा पहुंचाने के लिए अपनी मर्जी से ब्यान लिख लिए और धारा 323 के तहत रपट दर्ज कर दी । बजुर्ग ने बताया कि जब उसने चौंकी की पुलिस के ध्यान में बार बार लाया कि उसके साथ घर में घुसकर पडोसियों ने मारपीट की है, उसके बावजूद पुलिस ने सही कारवाई नही की । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि वह लगातार अपने साईकिल पर गांव से बठिंडा बीस किलोमीटर तक का सफर तय कर पुलिस अधिकारियों के पास आता रहा और जब पुलिस ने उसकी कोई सुनवाई नही की तो वह जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पास अदालत के लिए वकील की सूविधा लेने के लिए पहुंचा लेकिन वहां पर तैनात अधिकारी उसके चक्कर कटवाते रहे और उसे वकील मुहैया नही करवाया । बजुर्ग ने बताया कि अब उसे एक वकील विकास कुमार मिलें जिन्होनें उसका दर्द सुनते ही अपने खर्च पर खुद पुलिस व आरोपियों के खिलाफ अदालत में केस दायर किया है।इस संबंधी जब पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला के मुंशी गुरमेल सिंह से बात की गई तो उन्होनें डयूटी ज्यादा लगने का बहाना लगाते हुए कहा कि वह इसी कारण आगे की कारवाई नही कर पाए । दूसरी तरफ थाना नेहियां वाला प्रभारी इंस्पैक्टर अंग्रेज सिंह ने कहा कि वह मामले की जांच करवा बजुर्ग को इंसाफ देगें । जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पेनल वकील कंवलजीत सिंह कुटी से जब बात की गई तो उन्होनें कहा कि अगर कोई ऐसा मामला सामने आया है तो वह इस बारे में अपने उच्च अधिकारी के ध्यान में लाएगें । 
 
Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
बिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !
एवलांच की चपेट में मरने वाले डेरा बाबा नानक के दोनों युवकों का किया अतिंम संस्कार
जीजा की हत्या के मामले में नामजद आरोपी साला गिरफ्तार,भेजा जेल
सड़क हादसे में पिता-पुत्र की मौत, मां घायल
लिंग निधार्रिन टेस्ट करते हुये रंगे हाथों डॉक्टर समेत 6 लोग काबू
सचिव से किसान बोले- कॉरिडोर के लिये वह फ्री जमीन देने को तैयार मगर सरकार उनके हर सदस्य को सरकारी नौकरी दे
मामला श्री करतारपुर कॉरिडोर के लिये एकवाइर की जाने वाले जमीन की मुआवजा राशि का
बटाला पुलिस ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाया- पिता ही निकला अपने बेटे का हत्यारा,आरोपी पिता गिरफ्तार
खरड़ की महिला ने पुलिस पर अपहरणकर्ता को छोड़ने के लगाए आरोप:
अकाली दल और भाजपा में हुआ समझौता ,सुखबीर बादल में की अमित शाह में मुलाक़ात