Thursday, June 21, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
पांच घण्टे रिक्शा चला कर नही होती योग की जरूरत--------मां की ममता भी नहीं जागी, दोनों बच्चियों को बिलखता छोड़ चली गई मायकेतरावड़ी थाने की चार दिन से बिजली खराब -नही हो रहे कामकाज, शिकायत करने के बावजूद भी सो रहा बिजली विभागमोबाइल फोन ने उड़ाया अंतर्राष्ट्रीय योग का मखौल योग का नहीं किसी जाति धर्म से लेना देना - प्रभारी मंत्री, योग करने से होता है शारीरिक व मानसिक विकास- डीएम अमेठीघरौंडा जनस्वास्थ्य विभाग अधिकारियों के पसीने छूट , जताई मांगों पर सहमतिभारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा द्वारा नरवाना मण्डल में पौधारोपण का कार्यक्रम किया गया जींद-पति समेत पांच लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का मामला दर्ज
Punjab

इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही

अटल हिन्द ब्यूरो | May 25, 2018 04:47 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
इंसाफ के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर पहुंचता अधिकारियों के पास-पर सुनवाई कोई नही
बठिंडा, 25 मई,(परविंद्र )पडोसियों की मारपीट का शिकार हुआ एक बजुर्ग इंसाफ लेने के लिए साईकिल पर बीस किलोमीटर का सफर तय कर जिला प्रशासनिक अधिकारियों के पास पहुंचता है लेकिन उसके बावजूद बजुर्ग दर्शन सिंह आयू 63 वर्ष की कोई सुनवाई नही हो रही । इस के अलावा जिला कानूनी सेवांए अथार्टी की ओर से भी बजुर्ग को अदालत में केस के लिए वकील तक मुहैया नही करवाया गया वो ए डी आर केंद्र के चक्कर काटता रहा ।एक बातचीत के दौरान बजुर्ग दर्शन सिंह निवासी गांव अब्लू कोटली ने बताया कि छह अप्रैल 2018 को उसके पडोसियों ने उसके घर दाखिल होकर उससे मारपीट की थी। जिस में घायल हो गया था और उसे गांव के लोगों ने उपचार के  लिए सिविल अस्पताल गोनियाना में दाखिल करवाया । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि घटना के बाद सिविल अस्पताल में पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला की पुलिस के पास जो उसने ब्यान लिखवाने चाहे वो पुलिस ने लिखे नही और ब्यान लेने आए पुलिस कर्मीयों ने आरोपियों को फायदा पहुंचाने के लिए अपनी मर्जी से ब्यान लिख लिए और धारा 323 के तहत रपट दर्ज कर दी । बजुर्ग ने बताया कि जब उसने चौंकी की पुलिस के ध्यान में बार बार लाया कि उसके साथ घर में घुसकर पडोसियों ने मारपीट की है, उसके बावजूद पुलिस ने सही कारवाई नही की । बजुर्ग ने आरोप लगाया कि वह लगातार अपने साईकिल पर गांव से बठिंडा बीस किलोमीटर तक का सफर तय कर पुलिस अधिकारियों के पास आता रहा और जब पुलिस ने उसकी कोई सुनवाई नही की तो वह जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पास अदालत के लिए वकील की सूविधा लेने के लिए पहुंचा लेकिन वहां पर तैनात अधिकारी उसके चक्कर कटवाते रहे और उसे वकील मुहैया नही करवाया । बजुर्ग ने बताया कि अब उसे एक वकील विकास कुमार मिलें जिन्होनें उसका दर्द सुनते ही अपने खर्च पर खुद पुलिस व आरोपियों के खिलाफ अदालत में केस दायर किया है।इस संबंधी जब पुलिस चौंकी किली निहाल सिंह वाला के मुंशी गुरमेल सिंह से बात की गई तो उन्होनें डयूटी ज्यादा लगने का बहाना लगाते हुए कहा कि वह इसी कारण आगे की कारवाई नही कर पाए । दूसरी तरफ थाना नेहियां वाला प्रभारी इंस्पैक्टर अंग्रेज सिंह ने कहा कि वह मामले की जांच करवा बजुर्ग को इंसाफ देगें । जिला कानूनी सेवांए अथार्टी के पेनल वकील कंवलजीत सिंह कुटी से जब बात की गई तो उन्होनें कहा कि अगर कोई ऐसा मामला सामने आया है तो वह इस बारे में अपने उच्च अधिकारी के ध्यान में लाएगें । 
Have something to say? Post your comment
More Punjab News
हमलावरों ने पूर्व सरपंच के बेटे पर फायरिंग की बरगाड़ी कांड में बड़ा खुलासा- सिरसा डेरे से गए थे हथियार?
दूध सप्लाई करने वाली गाड़ी नहर में गिरी,एक की मौत
पत्नी औैर ससुरालियों से तंग परेशान होकर पति ने जहरीली चीज निगल कर मौत को गले लगाया
बटाला के गांव मुरीदके में हुये गोली कांड में नामजद दो गैंगस्टर गिरफ्तार कीटनाशक दवाई ‌निगलने वाले चाचा-भतीजा समेत तीन पर मामला दर्ज इंग्लैंंड भेजने ने नाम पर 5 लाख रूपये की ठग्गी मारने के आरोप में तीन पर मामला दर्ज जमीनी विवाद के चलते चाचा-भतीजा ने कीटनाशक दवाई निगली, दोनों गंभीर
पांच खालिस्तानी समर्थकों में से तीन को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्ट्डी में भेजा
ननंद से दुष्कर्म करवाने वाली भाभी समेत तीन आरोपी गिरफ्तार