Saturday, December 15, 2018
Follow us on
National

खालिस्तान का प्रचार और हिंसक घटनाओं को अंजाम देने के आरोप में तीन युवक गिरफतार

अटल हिन्द ब्यूरो | June 02, 2018 08:30 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

खालिस्तान का प्रचार और हिंसक घटनाओं को अंजाम देने के आरोप में तीन युवक गिरफतार

पकड़े गये आरोपियो से दो पिस्टल,मोटरसाइकिल और अन्य सामग्री बरामद

आई बार्डर रेंज औैर एसएसपी बटाला ने प्रेसवार्ता के दौरान दी जानकारी

 


रघुवंशी,कंवल

बटाला। बटाला पुलिस ने खालिस्तान का प्रचार करने औैर हिंसक घटनाओ को अंजाम देने के आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार करने का दावा कया है। पुलिस ने दोनों ने दो रिवालवर, दीवारों पर लिखने वाला स्प्रे पेंट इसके अलावा सिख रिफरेंडम 2020 से संबंधित पोस्टर, खालिस्तान जिंदाबाद के पोस्टर और एक मोटरसाइकल भी बरामद किया। शनिवार को एसएसपी कार्यालय बटाला में आईजी बार्डर रेंज एसपीएस परमार पहुंचे। शनिवार को बटाला एसएसपी कार्यालय में बटाला के एसएसपी उपिंदरजीत सिंह घुम्मण औैर आईजी बार्डर रेंज एमपीएस परमार ने एक प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि उकत तीनों की पहचान धरमिंदर सिंह उर्फ कमांडो (21) निवासी गांव हरपुरा बटाला ,किरपाल सिंह (26) निवासी फतेहपुर नवां पिंड जिला तरनतारन और रविंदर सिंह उर्फ राजू वासी गांव दौलतपुर कादियां के रूप में हुई है। पुलिस के आलाधिकारियों का कहना है कि गिरफ्तार किए गए युवक इलाके में खालिस्तानी विचारधारा को फैलाने का काम कर रहे थे। खास करके 1 से 6 जून तक चलने वाले घल्लूघारा सप्ताह में हिंसक गतिविधियां करना था, ताकि मीडिया और सोशल मीडिया द्वारा लोगों को अपनी ओर खींचा जा सके।

उक्त युवक सिख रिफरेंडम 2020 के लिए इलाके में लोगों को गुमराह और प्रेरित करने के मुख्य उद्देश्य से काम कर रह थे। अपनी कार्रवाइयों को अंजाम देते हुए उक्त दोनों आरोपियो ने शुरूआत श्री हरगोबिंदपुर के गांव हरपुरा दंधोई और पंज गराइयां के गांवों में दो ‌दिन पहले दो शराब के ठेकों को आग लगा कर की थी। दोनोंं धरमिंदर और किरपाल को पुलिस ने धरमिंदर सिंह के बटाला के पास गांव हरपुरा स्थित घर से गिरफ़तार किया हैैै जबकि रविंदर उर्फ राजू को धरमिंदर की निशान देही पर काबू किया गया। रविंदर सिंह राजू वही है जिसने धरमिंदर को 40 दिन पहले दो रिवालवर दिये थे और धरमिंदर ने एक रिवालवर खुद रख लिया था औैर दूसरा किरपाल को दे दिया था। धरमिंदर सिंह सेना की 105 युनिट राजपूताना राईफल्स में सैनिक था और जनवरी 2016 में भर्ती हुआ था ।

धरमिंदर सिंह ने टेरोटोरियल आर्मी में 9 महीने की बेसिक ट्रैनिंग ली थी, जिसमें हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी शामिल थी। डीआईजी एसपीएस परमार ने बताया कि दोनों युवकों को विदेशों से खालिस्तानी गतिविधियों के लिए पैसा मिलता था। पंजाब के युवकों को गुमराह किया जा रहा है। इसके अलावा गैंगस्टरों और अपराधिक गतिविधियों में शामिल लोगों की मदद भी ली जा रही है ताकि पंजाब को भारत से अलग करने की लड़ाई लड़ी जा सके। उन्होंने बताया कि 2 अप्रैल 2018 में नवाशहर पुलिस ने चार युवकों को गिरफ्तार किया था, जो गांव गुणाचौर में शराब के ठेकों को आग लगाने की योजना बना रहे थे। बंगा थाना की पुलिस ने उन से स्प्रे पेंट, पोस्टर और रिफरेंडम 2020 का लिट्रेचर भी बरामद किया था।

Have something to say? Post your comment
More National News
भारत में हैं सर्वाधिक रक्त कैंसर रोगी, अमेरिका व चीन के बाद
मामूली सी कहा सुनी पर रेहड़ी वाले ने युवक को चाकू मारा।
केजरीवाल की कैथल रैली से पहले कई भाजपा नेताओं ने पहनी 'आप' की टोपी
पलवल के दबंग इंस्पेक्टर विश्वगौरव को पुलिस कमिश्नर संजय कुमार और फरीदाबाद इंडस्ट्री एसोसियन ने किया सम्मानित।
कार्यकर्ताओं ने पांच राज्यों मे आए विधानसभा चुनावों के नतीजों पर मनाया जश्न
कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्ग
पृथला से जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द भरद्वाज सेकड़ो गाडी और बसों को लेकर जींद रैली में पहुँचे।
भूपेश रावत (पूर्व युवा महासचिव कांग्रेस) ने सुरेन्द्र तेवतिया की अगुवाई में सीएम खट्टर को गुलदस्ता देकर बीजेपी का दामन थामा।
आतंकवाद पर अंकुश लगाने में विफल रही भाजपा : शिल्पी गर्ग
सुरेन्द्र तेवतिया (चैयरमैन हरियाणा सरकार) 23 दिसम्बर को होने वाली मोहना रैली का गाँव गाँव जाकर निमंत्रण देते हुए।