Monday, December 10, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
30 साल का लड़का प्रदेश की राजनीति में बहुत धमाकेदार एंट्री मार गया ,दुष्यंत ने चाचा अभय को जींद में दी मात कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्गपॉजिटिव विचार है खुशहाल जीवन का आधार - ब्रहमाकुमार ओंकार चंदपृथला से जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द भरद्वाज सेकड़ो गाडी और बसों को लेकर जींद रैली में पहुँचे।सादलपुर-सिवानी रूट पर आज ट्रेनें रहेगी बाधित आम जनता के लिए पर्याप्त ट्रेनें व बसें भी उपलब्ध नहीं करवा पा रही सरकारें, वीआईपी सुविधाओं पर इतना खर्च क्यों व कब तक ?भारत में दो प्रधानमंत्रियों को छोड़कर जितने भी प्रधानमंत्री हुए है वो मुस्लमान ही हुए है:दिनेश भारती बिजली निगमों के लिए दिसंबर माह एक ऐतिहासिक माह : शत्रुजीत कपूर
National

अमेठी - प्रतिष्ठा की जंग में, अस्पताल बन्द, मरीज परेशान

सुरजीत यादव | June 08, 2018 05:20 PM
सुरजीत यादव

प्रतिष्ठा की जंग में, अस्पताल बन्द, मरीज परेशान
अमेठी- इस जंग की शुरूवात बाजार शुक्ल से होकर पूरे जनपद में हो गई है। एक तरफ हिन्दू युवा वाहिनी के एक कार्यकर्ता की प्रतिष्ठा तो दूसरी ओर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बाजार शुक्ल अधीक्षक शैलेष कुमार गुप्ता की प्रतिष्ठा लग गई है। दोनों प्रतिष्ठा की वजह थानाध्यक्ष बाजार शुक्ल अब माने जा  रहें हैं। जिससे मरीजों को हैरानी उठानी पड़ रही है।

विगत दिवस हियुवा कार्यकर्ता रमेश तिवारी और केन्द्र अधीक्षक शैलेष कुमार गुप्ता के बीच स्वास्थ्य असुविधा की बात पर झड़प होने की बात बतायी जा रही है। जिसके चलते केन्द्र अधीक्षक द्वारा थाना बाजार शुक्ल में मुकदमा पंजीकृत कराने हेतु एक तहरीर दी गई। जिस पर कोई कार्यवाही न होते देख डॉ. शैलेष गुप्ता द्वारा जिला मुख्य चिकित्साधिकारी के संज्ञान में बात दी गई। सी.एम.ओ. के हस्तक्षेप पर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर रमेश तिवारी पर मुकदमा दर्ज तो हुआ वहीं थानाध्यक्ष बाजार शुक्ल ने रमेश तिवारी की तहरीर पर चिकित्सक के खिलाफ भी मुदकमा पंजीकृत कर लिया । यही से चिकित्सक भड़क गये। अपने सम्मान की रक्षा हेतु चिकित्सक सामुदायिक अवकाश पर अड़ गये। अब यह सामुहिक अवकाश पूरे जनपद में फैल गया। अस्पतालों में ताला लटकता देखा जा रहा है।, और मरीज हैरान हो रहें है। चिकित्सकों के आवास से लेकर पूरे अस्पताल में ताला लटक रहा है। दोनों पक्ष अपनी-अपनी प्रतिष्ठा व सम्मान की रक्षा पर अड़े हुए हैं। जिसका सीधा दंश जनपद के मरीजों को झेलना पड़ रहा है। लोगों की माने यदि एस.ओ. की कार्यशैली में कहीं किसी कारण से लोच न आई होती तो शायद ऐसी स्थिति न उत्पन्न होती ं लोग इस अव्यवस्था के लिए और मरीजों की हैरानी की वजह कोई बना है तो सिर्फ थानाध्यक्ष। यदि एस.ओ. ने समझ से काम लिया होता तो एक हाथ की ककड़ी नौ हाथ का बीजा न बनता। बहरहाल देखना है कि अब ऊँट किस करवट बैठेगा और प्रकरण सामान्य होने पर सी.एम.ओ. अमेठी चिकित्सकों की कार्यशैली पर कितना सजग रहेंगे। जिससे कोई व्यक्ति ऐसा ही कृत्य न कर बैठे और चिकित्सक अपने सम्मान के लिए अवकाश न ले ।

Have something to say? Post your comment
More National News
कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्ग
पृथला से जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द भरद्वाज सेकड़ो गाडी और बसों को लेकर जींद रैली में पहुँचे।
भूपेश रावत (पूर्व युवा महासचिव कांग्रेस) ने सुरेन्द्र तेवतिया की अगुवाई में सीएम खट्टर को गुलदस्ता देकर बीजेपी का दामन थामा।
आतंकवाद पर अंकुश लगाने में विफल रही भाजपा : शिल्पी गर्ग
सुरेन्द्र तेवतिया (चैयरमैन हरियाणा सरकार) 23 दिसम्बर को होने वाली मोहना रैली का गाँव गाँव जाकर निमंत्रण देते हुए।
पुलिस आयुक्त संजय सिंह ने बहादुर बहु - सास को 5000-5000 रुपए का इनाम देकर सम्मानित किया।
अनाज मण्डी में किसान, मजदूर व व्यापारी सम्मेलन का आयोजन, हिमाचल के राज्यपाल ने बतौर मुख्यातिथी की शिरकत किसान रसायनिक खेती की बजाये प्राकृतिक खेती के तरीके अपनाएं:- आचार्य देवव्रत
राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद का जन्मदिन नरवाना में मनाया
विद्या रानी दनोदा ने किए गांवों के दौरे
असम: कामाख्या-देकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में विस्फोट, 11 लोग जख्मी