Friday, August 17, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
ढांड के बीपीआर स्कूल में राजकीय अवकाश के बावजूद लहराता रहा राष्ट्रीय ध्वजजब नए सांसदों को राजनीतिक शुचिता का पाठ पढाने हरियाणा आए वाजपेयीकन्या जन्म पर कुआं पूजन का आयोजन कर लोगों को किया प्रेरित18 अगस्त को हरियाणा बंद को लेकर किसानों व व्यापारियों से साधा संपर्कभारत में कोई नहीं है छोटा या बड़ा, सबको मिलकर करना चाहिए देशहित में कार्य: अमित यादववीर शहीदों की याद में तिरंगा यात्रा निकाल हर्षोल्लास व जोश के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवससावधान, क्षेत्र में एक बार फिर पशु चोर गिरोह सक्रिय, गांव बारड़ा से चुराई दो भैंसगुरूकुल में मिलती है संस्कारवान शिक्षा: दुष्यंत चौटाला
Crime

महेन्द्रगढ़-बेटे के सामने ही आरोपी ने कैंची घोपकर की महिला की निर्मम हत्या

अटल हिन्द ब्यूरो | June 11, 2018 05:38 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

महेन्द्रगढ़-बेटे के सामने ही आरोपी ने कैंची घोपकर की महिला की निर्मम हत्या

महेन्द्रगढ़ (विनीत पंसारी) शहर के मौहल्ला लाला वाला कुआं रविवार सुबह जोगेन्द्र नामक एक अधेड़ व्यक्ति ने कपड़ा काटने वाली कैंची से ताबड़तोड़ वार करके एक लगभग 35 वर्षीय महिला को मौत के घाट उतार दिया। यह सारी घटना मृतका के 14 वर्षीय पुत्र की आंखों के सामने घटी। वारदात को अजांम देने के बाद आरोपी ने मौके से फरार होने की कोशिश की मगर वहां पर जमा भीड़ ने उसे भागने का मौका नहीं दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए उसे उपनागरिक अस्पताल पहुंचाया तथा आरोपी जोगेन्द्र को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया।
मृतका सुनीता के पुत्र तथा उक्त घटना के चश्मदीद गवाह निक्की ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया कि वह अटेली कस्बे के गांव ताजपुर का रहने वाला है। पिछले काफी समय से उसके पिता संजय व माता सुनीता के बीच अदालत में तलाक का केस चल रहा है। जिसके चलते वह और उसकी माता सुनीता मौहल्ला लाला वाला कुआं में एक किराये के कमरे में रह रहें थे। नौवीं कक्षा में पढ़ने वाले निक्की ने बताया कि निकटवर्ती गांव बुचौली वासी जोगेन्द्र गांव लावन के रहने वाले उसके मामा के रिश्तेदारी में है। इसी वजह से उसकी मृतका मां सुनीता ने जोगेन्द्र को कुछ रूपए उधार दे रखे थे। शनिवार सायं भी जब जोगेन्द्र उनके कमरे पर आया था तो उसकी मां ने उससे उधार लिये रुपए लौटने की बात कही थी। इसी से नाराज होकर जोगेन्द्र व उसकी मां के बीच कहा सुनी हुई थी। उस समय तो जोगेन्द्र वापस लौट गया मगर आज प्रातः लगभग 6 बजे अचानक वह दोबारा कमरे पर आया तथा शाम की बात को लेकर उसकी माता सुनीता से झगड़ने लगा। इसी बीच तैश में आकर जोगेन्द्र ने अपने बैग से कैंची निकालकर सुनीता पर ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। यह सब इतना तेजी से हुआ कि निक्की भी अपनी मां के बचाव में कुछ नहीं कर पाया।


गिड़गिड़ाता रहा चौदह साल का बेटा, नहीं पसीजा आरोपित का दिल

महिला का 14 वर्षीय पुत्र अपनी मां को बचाने के लिए गुहार लगाता रहा, लेकिन न आरोपित का दिल पसीजा और न बचाने के लिए कोई आगे आया। लोग खूनी मंजर को देखते रहे। पड़ोस में रहने वाले सुरेश नाम का व्यक्ति महिला को बचाने के लिए आगे आया उसको भी आरोपी ने नहीं बख्सा। उसे भी मामूली चोट आई है। फिलहाल पुलिस ने मकान को सील कर दिया है। बेटा निक्की पूरी घटना के बाद सहमा हुआ है।

रुपये के लेन-देन में हुई हत्या
मौके पर मौजूद लोगों की मानें तो आरोपित महिला का दूर का रिश्तेदार है। महिला की पति के साथ अनबन होने के कारण आर्थिक हालत खराब थी। इसी के चलते महिला ने आरोपित से रुपये लिए हुए थे। आरोपित व महिला के बीच अक्सर झगड़ा होता रहता था। कुछ दिन पहले भी आरोपित का महिला के साथ झगड़ा हुआ बताया गया है।

बॉक्स:-
मृतका के बेटे की शिकायत पर बुचौली निवासी जोगेंद्र के खिलाफ घर में घुसकर हत्या करने का केस दर्ज कर लिया है। आरोपित को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। आरोपित ने हत्या क्यों की इस बात का पर्दाफाश तो जांच में ही हो पाएगा।
कैलाशचंद वर्मा, सब इंस्पेक्टर, चौकी प्रभारी, महेंद्रगढ़।

Have something to say? Post your comment
More Crime News
जींद-अवैध संबंध के चलते पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या
दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, नहर से मिला महिला का शव, थानाक्षेत्र बाजार शुक्ल का मामला
कभी शांति व सादगी का प्रतीक माना जाने वाला जिला आज बना अपराधों का अड्डा
नरवाना पुलिस ने डाक्टर टीम के साथ घर में रखें नशीले इंजेक्शन व दवाईयां बरामद की
सोनीपत-नकाबपोशों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
एफआईआर दर्ज करवाते समय इन बातों पर जरूर दें ध्यान
जमीन को लेकर दस दिन में दूसरा खुनी संघर्ष, एक की मौत कई घायल
बारड़ा गांव में पकड़ा गायों से भरा ट्रक, पुलिस ने खानापूर्ति कर मामले से किया किनारा
"सिर चढक़र बोलता अंधविश्वास", विज्ञान के युग में भी लोग फंस रहे पाखंडियों के जाल में