Thursday, October 18, 2018
Follow us on
National

34 करोड की लागत से बना तिरुपति बालाजी मंदिर के जल्द होगे दर्शन

राकेश शर्मा | June 11, 2018 07:17 PM
राकेश शर्मा

34 करोड की लागत से बना तिरुपति बालाजी मंदिर के जल्द होगे दर्शन
आंध्रप्रदेश की तर्ज पर कुरुक्षेत्र के तिरुपति बालाजी मंदिर का प्रोजैक्ट तैयार:प्रसाद
कुरूक्षेत्र 11 जून राकेश शर्मा
हरियाणा सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद ने कहा कि कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर आंध्रप्रदेश की तर्ज पर तिरुमला तिरुपति देवास्थानम (टीटीडी) ट्रस्ट की तरफ से तिरुपति बालाजी मंदिर स्थापना कर दी गई है। इस मंदिर में भगवान श्री विष्णु की मुर्ति प्राण प्रतिष्ठा समारोह 28 जून से 1 जुलाई तक चलेगा। इस पूजा अर्चना के लिए आंध्रप्रदेश से 60 विद्ववान लोग पहुंचेंगे और इस कार्यक्रम में कोई भी नागरिक शिरकत कर सकता है। अहम पहलु यह है कि इस प्रोजैक्ट पर 34 करोड़ रुपए का बजट खर्च होगा और इसमें से 12 करोड़ रुपए का दान एन सेतिया फांउडेशन लंदन द्वारा किया गया है।एसीएस टीवीएसएन प्रसाद सोमवार को देर सायं ब्रहमसरोवर के निकट श्री तिरुपति बालाजी मंदिर के प्रांगण में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले एसीएस टीवीएसएन प्रसाद, आंध्रप्रदेश सरकार के आईएएस अधिकारी आयुक्त प्रवीण प्रकाश, संयुक्त कार्यकारी अधिकारी भास्कर, उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, विधि विधान पद्धति को देखने वाले विद्ववान श्रीनिवासा, केडीबी सीईओ पूजा चांवरिया, एन सेतिया फांउडेशन ट्रस्ट से सतीश गहलोतरा, शस्त्र जैन सहित अन्य अधिकारियों ने तिरुपति बालाजी मंदिर में चल रही तैयारियों का अवलोकन किया और समारोह की तैयारियों को लेकर अधिकारियों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।एसीएस ने कहा कि कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर टीटीडी द्वारा आंध्र्रप्रदेश के श्री तिरुपति बालाजी मंदिर की तरह हूबहू मंदिर की स्थापना कर दी गई है। यह ट्रस्ट 1933 से कार्य कर रहा है और मंदिर का सौ फीसदी संचालन सरकार द्वारा ही किया जाता है। इस ट्रस्ट ने कुरुक्षेत्र की पावन धरा की महता को समझते हुए यहां पर तिरुपति बालाजी मंदिर की स्थापना करने का प्रस्ताव राज्य सरकार के समक्ष रखा था, इस प्रस्ताव पर कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की तरफ से 5.52 एकड़ जमीन ट्रस्ट को मंदिर बनाने के लिए दी। इस मंदिर में भगवान श्री विष्णु के साथ-साथ दो अन्य मंदिर भी बनाए जाएंगे। इस मंदिर के प्रोजैक्ट पर 34 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा, जिसमें से अब तक 18 करोड़ रुपए खर्च किया जा चुका है। इस मंदिर निर्माण पर तमिलनायडू से 1500 टन विशेष पत्थर लगाया गया है।
उन्होंने कहा कि इस मंदिर में मंत्रौच्चारण, वेदों और परम्परा अनुसार 28 जून से 1 जुलाई तक भगवान श्री विष्णु की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा के लिए पूजा अर्चना की जाएगी। यह पूजा अर्चना निंरतर जारी रहेगी और 60 विद्ववानों को आंध्रप्रदेश से बुलाया गया है। उन्होंने कहा कि इस मंदिर का संचालन स्थानीय प्रशासन व टीटीडी के सहयोग से किया जाएगा। इस मंदिर में मुर्ति स्थापना के बाद विधिवत रुप से उदघाटन किया जाएगा और इसका संचालन करने के लिए एक लोकल कमेटी का गठन किया जाएगा। इस मंदिर को सुबह 6 बजे से लेकर रात्रि 9 बजे तक श्रृद्धालुओं के लिए खुला रखा जाएगा तथा तमाम सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। आंध्रप्रदेश के आईएएस अधिकारी प्रवीण प्रकाश का कहना है कि अब उतर भारत के लोगों को भगवान श्री विष्णु की पूजा करने के लिए आंध्रप्रदेश जाने की जरुरत नहीं होगी। कुरुक्षेत्र की पावन धरा के साथ-साथ देश के प्रमुख शहरों में भी भगवान श्री तिरुपति बालाजी मंदिर की स्थापना की जाएगी।
बाक्स
सेवा निवृत एचसीएस अधिकारी प्रेम गांगल को नियुक्त किया मंदिर में अधिकारी
एसीएस टीवीएसएन प्रसाद ने कहा कि कुरुक्षेत्र के तिरुपति बालाजी मंदिर में रोजाना की गतिविधियों का संचालन करने के लिए सेवा निवृत एचसीएस अधिकारी प्रेम गांगल को नियुक्त किया है।

Have something to say? Post your comment
More National News
नवरात्रि के सुअवसर पर हुआ नवाचार, किया गया फलाहार का आयोजन
मुम्बई-ईसाई मशीनरी द्वारा धर्म परिवर्तन का घिनौना खेल जोरो पर
डिजिटल फाउन्डेशन ने अमेठी मुसाफिरखाना के युवक को बनाया ठगी का शिकार आखिर पुलिस कब करेगी कार्यवाही
तीसरा मोर्चा मजबूत हुआ तो मायावती पीएम और इनेलो की सरकार बनने के लिए तैयार है : औमप्रकाश चौटाला
डिजिटल फाउन्डेशन के अन्य प्रदेशों से जुड़े तार, करोड़ों लेकर फरार
बेरोजगारों के पैसों से होती थी अय्यासी, हजारों को बनाया ठगी का शिकार, करोड़ो लेकर फरार
जीन्द-दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने मुख्य अतिथि के रूप में की शिरकत
श्राद्धपक्ष में ढूंढे नहीं मिलते कौवे कंक्रीट के जंगलों के कारण कौओं के अस्तित्व पर खतरा
अमेठी सांसद राहुल गांधी की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की हुयी बैठक, राज्यमंत्री सुरेश पासी भी रहे मौजूद, बैठक में कई बार नाराज हुये अमेठी सांसद, जानिए क्यों ?
परिचय सम्मेलन में लांच की रोहिल्ला ऐप 251 युवक-युवतियों को हुआ परिचय सम्मेलन