Tuesday, October 23, 2018
Follow us on
Political

इनेलो-बसपा की अग्रिपरीक्षा-जींद में एसवाईएल के पानी को लेकर इनेलो के जेल भरो आंदोलन

अटल हिन्द ब्यूरो | June 11, 2018 08:00 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

जींद में एसवाईएल के पानी को लेकर इनेलो के जेल भरो आंदोलन आज
-आंदोलन में भीड़ जुटाने को लेकर पार्टी नेताओं में भारी दबाव
-जेल भरो आंदोलन को सफल बनाना इनेलो के लिए बड़ी चुनौती
सन्नी मग्गू
जींद, 11 जून
एसवाईएल नहर के मसले पर हरियाणा में मुख्य विपक्षी दल इनेलो द्वारा शुरू किए गए जेल भरो आंदोलन को लेकर जींद में इनेलो नेताओं पर भारी दबाव बन गया है। जींद में कल यानि 12 जून को विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला की अगुवाई में इनेलो और बसपा का जेल भरो आंदोलन है और इसमें भारी भीड़ जुटाना जींद के इनेलो नेताओं के लिए बहुत बड़ी राजनीतिक चुनौती है। इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने जिस तरह भिवानी के जेल भरो आंदोलन को रद्द कर नए सिरे से वहां गिरफ्तारियां देने के फरमान जारी किए हैं, उससे जींद में इनेलो नेताओं पर इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए दबाव बहुत ज्यादा बढ़ गया है। सीएम मनोहर लाल ने पिछले दिनों जींद में रोड शो कर बीजेपी को नई राजनीतिक जमीन देने का प्रयास किया था। अब 12 जून को इनेलो के पास सीएम के रोड शो का मुंह तोड़ जवाब देने का मौका है और देखना यह है कि इनेलो का यह जवाब कितना जोरदार होता है। इनेलो ने 2019 के लोकसभा और विधानसभा चुनाव से पहले एसवाईएल नहर के मसले पर प्रदेश और केंद्र सरकार के खिलाफ बड़ा राजनीतिक मोर्चा अपने जेल भरो आंदोलन के साथ खोल दिया है। इसकी शुरूआत पिछले महीने भिवानी जिले में जेल भरो आंदोलन से हुई थी। कल यानि 12 जून को जींद में इनेलो का जेल भरो आंदोलन है। इसमें इनेलो के साथ बसपा भी भाग लेगी और 12 जून को जींद में इनेलो के जेल भरो आंदोलन में भारी भीड़ जुटाने को लेकर जींद जिले में के नेताओं पर बहुत ज्यादा दबाव बना हुआ है। इसकी वजह यह है कि एक तो जींद जिले को सिरसा के बाद इनेलो का सबसे मजबूत गढ़ माना जाता है और दूसरे पार्टी सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने जिस तरह भिवानी के जेल भरो आंदोलन में कम भीड़ जुटने को लेकर वहां के जेल भरो आंदोलन को रद्द कर दोबारा वहां गिरफ्तारी देने के फरमान जारी किए हैं, उससे जींद जिले में नेताओं की सांसें फूली हुई हैं। जींद जिले के इनेलो नेता यह नहीं चाहेंगे कि भिवानी की तरह जींद में भी दोबारा जेल भरो आंदोलन करना पड़े।
बॉक्स-
गठबंधन के बाद पहली बार जींद में इनेलो-बसपा की अग्रिपरीक्षा
इनेलो और बसपा के बीच चुनावी गठबंधन के बाद पहली बार 12 जून को जींद में इस गठबंधन की अग्रिपरीक्षा जेल भरो आंदोलन को लेकर होने जा रही है। 12 जून को जींद में कितने लोग गठबंधन के जेल भरो आंदोलन में भाग लेने पहुंचते हैं और कितने लोग गिरफ्तारी देते हैं, इससे तय होगा कि यह गठबंधन जींद जिले में जनाधार के मामले में कहां पर खड़ा है। सीएम मनोहर लाल ने पिछले दिनों जींद में रोड शो कर बीजेपी को नई राजनीतिक जमीन देने का प्रयास किया था। अब 12 जून को इनेलो के पास सीएम के रोड शो का मुंह तोड़ जवाब देने का मौका है और देखना यह है कि इनैलो का यह जवाब कितना जोरदार होता है।
बॉक्स-
पानी के लिए 20 हजार लोग देंगे गिरफ्तारी-
जिला प्रधान कृष्ण राठी ने कहा कि 12 जून को जींद में इनेलो का जेल भरो आंदोलन को लेकर 20 हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तारी देंगे। नई अनाज मंडी में इनेलो के हरे और बसपा के नीले रंग के झंडों के साथ भारी जन सैलाब उमड़ेगा। जेल भरो आंदोलन को लेकर किसान और कमेरा वर्ग में भारी उत्साह है।

Have something to say? Post your comment
More Political News
अधिकार मांगने से नहीं, कई बार छीनने से ही मिलते हैं-दुष्यंत चौटाला
घरौंडा-रेखा राणा के बाद सतीश राणा व दिलावर चौहान ने भाजपा में अपने पदों से दियाा त्यागपत्र
साढ़े पांच करोड़ रुपये की लागत से होगा सेक्टर 23 की सभी सडकों का निर्माण : कविता जैन
घरौंडा में भाजपा को झटका, पूर्व विधायिका रेखा राणा ने छोड़ी पार्टी
सुप्रीम कोर्ट ने दबंग इनैलो नेता अभय चौटाला को दिया झटका,याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज
आप पार्टी की सरकार आने पर हरियाणा का होगा चहुंमुखी विकास: कमांडो सुरेन्द्र
हरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकी
बच्चा बढ़ा हो रहा है और बूढो के जाने का वक़्त आ गया है:सांसद सुशील
इनेलो-बसपा गठबंधन पर अभी भी लगे हुए हैं कई सवालिया निशान
शिरोमणी अकाली दल हरियाणा में सत्ता का दावेदार बनेगा