Monday, December 10, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
आम जनता के लिए पर्याप्त ट्रेनें व बसें भी उपलब्ध नहीं करवा पा रही सरकारें, वीआईपी सुविधाओं पर इतना खर्च क्यों व कब तक ?भारत में दो प्रधानमंत्रियों को छोड़कर जितने भी प्रधानमंत्री हुए है वो मुस्लमान ही हुए है:दिनेश भारती बिजली निगमों के लिए दिसंबर माह एक ऐतिहासिक माह : शत्रुजीत कपूरअभय की भाभी व भतीजे को चुनौती दोनों की जमानत भी बच गई तो राजनीति छोड़ दूंगावे तू लोंग ते मैं लाची, तेरे पिछे मैं गवाची . . . पर लगाए नन्हों ने ठुमकेदुष्यंत व नैना को मैंने दिलवाया था टिकट, बड़े साहब नहीं देना चाहते थे: अभय ये है चौटाला परिवार- हरियाणा में जननायक जनता पार्टी का आगाज, दुष्यंत बोले- इनेलो, बीजेपी व कांग्रेस को उखाड़ फेंकेंगेकर्मचारी सड़कों पर टांकियाँ लगाकर कैथल भी नहीं पहुंचते, इतने में ही उखड़ जाती है सड़क
Haryana

भतीजों की हत्या में चाचा को दी मौत के घाट उतारने की धमकी

रणबीर रोहिल्ला | June 13, 2018 08:01 PM
रणबीर रोहिल्ला

भतीजों की हत्या में चाचा को दी मौत के घाट उतारने की धमकी
सोनीपत में 8 जून को थी गवाही
चाचा डर में नहीं गया देने गवाही
रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत।

गांव मदीना में हत्या के मामले में गवाही नहीं देने को लेकर कुछ युवकों द्वारा मृतकों के चाचा को पिस्तौल दिखाकर धमकाने व गवाही देने पर पूरे परिवार को मौत के घाट उतारने की धमकी दी है। पुलिस ने व्यक्ति की शिकायत पर युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
मदीना निवासी धनराज पुत्र लालचंद ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 10 अक्टूबर 2017 को उसके भतीजे राकेश व 22 अप्रैल 2018 को उसके दूसरे भतीजे राजेश की हत्या इसी गांव निवासी पवन उर्फ पौना व सिटा ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर की थी। इन दोनों ही हत्या के मामलों में धनराज गवाह है। उन्होंने बताया कि इन दोनों मामलों में अभी तक पवन उर्फ पौना व सिटा की गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं दोनों का साथी गांव मदीना निवासी आरोपी साहिल उर्फ पहल भी जमानत पर बाहर आया हुआ है। साहिल गांव के युवक रोहित, ढील्लू, साहिल उर्फ चंदौला, संजू उर्फ बाबा व शोकीन के साथ मेरे व मेरे परिवार पर नजर रखते है। धनराज ने बताया कि उसमें 8 जून राकेश की हत्या को लेकर सोनीपत की अदालत में गवाही देने के लिए जाना था, लेकिन उपरोक्त युवकों की गतिविधियां देखकर वह गवाही देने से डर गया। वहीं मंगलवार की सुबह लगभग आठ बजे वह घुमने के बाद वापस अपने घर की तरफ आ रहा था तो तालाब के पास बनी धर्मशाला के पास पहुंचा तो धर्मशाला के अंदर से आवाज आ रही थी। उसने जब धर्मशाला में छुप कर देखा तो साहिल उर्फ पहल, रोहित, ढील्लू, साहिल उर्फ चंदौला, संजू उर्फ बाबा व शौकीन उसको गहवाही नहीं देने तक पहुंचने की बात कर रहे थे। इस काम को करने के लिए साहिल व रोहित को पिस्तौल व कारतूस दे रखे है। धनराज के अनुसार आरोपी आपस में बातचीत कर रहे थे कि मामले की अगली गवाही से पहले उसे धमकाने का काम करेंगे। धनराज ने बताया कि वह वापस आने लगा तो उन्होंने पीछे से आकर घेर लिया। जिसके बाद सभी ने पिस्तौल तानकर उसे गवाही नहीं देने की बात कहीं। धनराज ने कहा कि उसने डर में गवाही नहीं देने की हामी भरी और आ गया। पुलिस ने धनराज के बयान पर उपरोक्त युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
आम जनता के लिए पर्याप्त ट्रेनें व बसें भी उपलब्ध नहीं करवा पा रही सरकारें, वीआईपी सुविधाओं पर इतना खर्च क्यों व कब तक ?
भारत में दो प्रधानमंत्रियों को छोड़कर जितने भी प्रधानमंत्री हुए है वो मुस्लमान ही हुए है:दिनेश भारती
बिजली निगमों के लिए दिसंबर माह एक ऐतिहासिक माह : शत्रुजीत कपूर
अभय की भाभी व भतीजे को चुनौती दोनों की जमानत भी बच गई तो राजनीति छोड़ दूंगा
दुष्यंत व नैना को मैंने दिलवाया था टिकट, बड़े साहब नहीं देना चाहते थे: अभय
ये है चौटाला परिवार- हरियाणा में जननायक जनता पार्टी का आगाज, दुष्यंत बोले- इनेलो, बीजेपी व कांग्रेस को उखाड़ फेंकेंगे
कर्मचारी सड़कों पर टांकियाँ लगाकर कैथल भी नहीं पहुंचते, इतने में ही उखड़ जाती है सड़क
बूथ मैनेजमेंट, डोर-टू-डोर और संगठन विस्तार की रणनीति पर होगा संवाद : गोपाल राय
जीवन में सकारात्मक सोच पैदा करती है आध्यात्मिकता : मनोहर लाल
इनेलो व भाजपा ने भोगा सत्ता का सुख नहीं किया लाडवा का विकास : गर्ग