Thursday, January 24, 2019
Follow us on
National

मोबाइल फोन ने उड़ाया अंतर्राष्ट्रीय योग का मखौल

प्रवीण कौशिक | June 21, 2018 08:15 PM
प्रवीण कौशिक

मोबाइल फोन ने उड़ाया अंतर्राष्ट्रीय योग का मखौल
मोबाइल प्रेम की भेंट चढ़ा योग शिविर
घरौंडा : 21 जून प्रवीण कौशिक
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर मोबाइल फोन इस कदर भारी रहा कि योग दिवस मखौल-सा लगा। एक घंटे के लिए भी योग करने आए साधक मोबाइल फोन को अपने से दूर नहीं कर पाए। हालात यह थे कि योग के दौरान ही मोबाइल फोन का इस्तेमाल होता नजर आया। क्या अधिकारी, क्या कर्मचारी, आम जनता भी मोबाइल फोन लेकर योग शिविर में पहुंचें। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित योग शिविर में स्कूली बच्चे भी मोबाइल फोन से अछूते नहीं रहे। अधिकारियों का तो मोबाइल फोन प्रेम इस कदर नजर आया कि उनके सामने तीन-तीन मोबाइल फोन नजर आए।

 
आपको बता दें कि वैज्ञानिक रूप से यह प्रामाणित हो चुका है कि योगासन शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार से लाभ पहुंचाता हैं। योग की शरण में जाए बिना हम बीमारियों से दूर नही रह सकते। लेकिन एक तरफ जहां योग ट्रेनर योग का महत्त्व बता रहे थे तो दूसरी ओर कुछ लोग योग के दौरान मोबाइल से चिपके नजऱ आ रहे थे। ऐसे में योग दिवस पर लगाई गई योगा क्लासिज मोबाइल प्रेम की भेंट चढ़ गई। एक्सपर्ट के अनुसार योग करते समय फोन आस-पास भी नही होना चाहिए, क्योंकि मोबाइल से निकलने वाली तरंगों से कई तरह के घातक रोग हो सकते हैं।
योगाचार्य संदीप कुमार के अनुसार योग के दौरान मोबाइल फोन का इस्तेमाल गलत है। मोबाइल फोन से घातक तरंगे निकलती हैं। जिनसे कही न कही हाई बीपी, हाईपरटेंशन के साथ-साथ केंसर जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता हैं। इन सब को दूर करने के लिए योग से जुडऩा बहुत जरूरी हैं। योग के दौरान मोबाइल अगर पास भी होता है तो योग की क्रिया का पूर्ण लाभ नहीं मिल पाता। इसके साथ ही बार-बार मोबाइल के बजने से एकाग्रता भी भंग होती है।

 
अब ऐसे में सवाल यह उठता है कि योग शिविर में पहुंचनें वाले आम व खास को मोबाइल फोन से दूर रहने की आखिर नसीहत क्यों नही दी गई और यदि दी गई तो अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित योग शिविर में भारी तादाद में मोबाइल फोन आखिर कैसे पहुंचें।

 
बॉक्स-
कार्यक्रम के मुख्यअतिथि हैफेड चेयरमैन हरियाणा व हल्का विधायक हरविंद्र कल्याण ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार साल पहले योग को लेकर एक बहुत बड़ी पहल शुरू की थी। आज योग दिवस के रूप में पूरे विश्व ने भारत के नेतृत्व को स्वीकारा है। देश के कोने-कोने में बड़े और छोटे लेवल पर योग दिवस मनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस पहल के भविष्य में ओर भी सार्थक परिणाम सामने आएंगे।

Have something to say? Post your comment
More National News
क्रिकेट के खिलाड़ी ने बॉल छोड़ उठाई बंदूक, बना बदमाश, गिरफ्तार
महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्कॉट की कामयाबी नाबालिग सहित 9 संदिग्ध गिरफ्तार,
आरएसएस ऑफिस में बर्तन तक धोए--पीएम मोदी
हिंदू महिला की मुस्लिम पुरुष से शादी अवैध, पर उनसे जन्मे बच्चे वैध- सुप्रीम कोर्ट
चौटाला परिवार ने 16 साल बाद कंडेला कांड के लिए माफी मांगी, अभय चौटाला ने मानी गलती
भाजपा के कार्यालय फाईव स्टार जैसे, जनता विकास को तरसी : गर्ग
भारत गरीब नहीं ,आम जनता गरीब है ,देश का आधा खजाना सिर्फ 9 लोगो के पास
पीएम मोदी से लोग नाराज होते तो महागठबंधन की जरुरत क्यों पड़तीः अरुण जेटली
पैरोल रद्द होने से भड़के ओ पी चौटाला ,कहा दिग्विजय ने पीठ में घोंपा छुरा
साधना सिंह ने मांगी मांफी, -एफआईआर की चिट्ठी आते ही