Saturday, November 17, 2018
Follow us on
Political

अगर कंवर सिंह यादव महेंद्रगढ़ से लड़ते हैं चुनाव तो बिगड़ सकते हैं विधानसभा के समीकरण

सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट | June 22, 2018 06:36 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

अगर कंवर सिंह यादव महेंद्रगढ़ से लड़ते हैं चुनाव तो बिगड़ सकते हैं विधानसभा के समीकरण
यादव के चुनाव लडऩे की चर्चा से ही प्रत्याशियों की बढ़ी दिल की धडक़नें


सतनाली मंडी (प्रिंस लांबा)।

 

बीजेपी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कंवर सिंह यादव महेंद्रगढ़ की राजनीति के चाणक्यकार कहे जाते हैं। जो महेंद्रगढ़ के पूर्व जिलाध्यक्ष रहने के साथ-साथ, 1987 से आज तक बीजेपी के वरिष्ठ व सक्रिय सदस्य तथा फिलहाल सैंटर को-ऑपरेटिव बैंक चेयरमैन व भूमि विकास बैंक के जिला डायरेक्टर हैं। बीजेपी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य तथा को-ऑपरेटिव बैंक चेयरमैन सहित विभिन्न पदों पर रहते हुए कंवर सिंह यादव ने जिले के अनेकों गांवों के आमजन तक पहुंचकर उनके सुख-दु:ख की स्थिति में भागीदार बनते आए हैं। इन्होंने प्रत्येक गांवों में बैठकों का आयोजन कर जनता के दिलों पर राज किया है। महेंद्रगढ़ जिले के आमजन की समस्या सुन जहां तक संभव हो सका मौके पर ही निदान करते आ रहे हैं। महेंद्रगढ़ जिलावासियों को उन्हें विधायक के रूप में देखने की कमी आज भी खल रही है।

सुत्रों के हवाले से पता चला कि बड़ी से बड़ी राजनीतिक पार्टी आज उनको तवज्जों दे रही है। महेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र से जिस पार्टी से कंवर सिंह यादव चुनाव लड़ेंगे, उस पार्टी को भरपूर फायदा मिलेगा क्योंकि महेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र में इनके व्यक्तिगत भारी तादाद में वोटर हैं, जो इनकी कार्यशैली के प्रति पूरी तरह समर्पित हैं। कंवर सिंह यादव के चुनाव लडऩे की चर्चा से ही इस विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडऩे वालों की दिल की धडक़ने बढ़ गई हैं। यहां की जनता के दिलों पर राज करने वाले कंवर सिंह यादव राजनीतिक समीकरण बिगाडक़र छुपेरूस्तम साबित हो सकते हैं।

राजनीति में आज तक बेदाग है कंवर सिंह यादव की छवि:
राजनीति की धरा में बहुत कम लोग जमीनी राजनीति से जुड़े होने के बावजूद बेदाग रह पाते हैं। यदि एक पीढ़ी ऐसा कर ले तो उसके भावी वंशज उनका अनुकरण नहीं उदाहरण मिलते हैं। ऐसे ही गौरवशाली महेंद्रगढ़ जिले के श्री रामप्रसाद यादव के सुपुत्र समाजसेवी कंवर सिंह यादव ने अपनी कत्र्तव्यनिष्ठा के चलते जनमानस में अपनी इतनी गहरी पैठ बना ली है कि लोग हृदय से लम्बे समय से निर्विवाद नेतृत्व करते आ रहे हैं। जन भावनाओं से नजदीकी रिस्ता रखने वाले कंवर सिंह यादव महेंद्रगढ़ जिले में एक अनूठा उदाहरण हैं। शुरू से ही राजनैतिक पार्टी बीजेपी के सानिध्य और संपर्क में रहे हैं।

प्रत्येक सामाजिक कार्य में रहता है उल्लेखनीय योगदान:
वैसे तो कंवर सिंह यादव अनेकों पदों पर रहते हुए जिले के हजारों लोगों के बिना लोभ-लालच, निष्ठाभाव से कार्य किए हैं। तो वहीं यादव की हर तरह के सामाजिक कार्यक्रमों में अहम व उल्लेखनीय भूमिका रहती है। जिले में रचनात्मक, सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रमों में उनका भरपूर सहयोग मिलता रहा है। चाहे वे गरीब परिवार की बेटी की शादी में आर्थिक मदद हो या धार्मिक कार्य के लिए दिया गया दान हो। अपने पिता और अपने भाइयों को आदर्श मानने वाले कंवर सिंह यादव ने उन्हीं के पद चिन्हों पर चलकर अपने जीवन को भी समाजसेवा हेतु समर्पित कर दिया है। यादव के मतानुसार मानव सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है, जनकल्याण ही सबसे बड़ा परोपकार है तथा जरूरतमंदों की सेवा ही मानव धर्म है। उनकी इसी सकारात्मक सोच के कारण वे जनप्रिय हैं।

 


फोटो कैप्शन: कंवर सिंह यादव फाईल फोटो।

Have something to say? Post your comment
More Political News
राजनीतिक ड्रामा - अभय चौटाला और अशोक अरोड़ा का फर्जीवाड़ा
खट्टर सरकार के मंत्री गाली-गलौच पर उतारू हो गये हैं और भाजपा के गुंडे हमारे होर्डिंग-पोस्टर फाड़ रहे हैं :नवीन जयहिंद
बॉलीवुड स्टार सलमा आगा ने लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी में जताई आस्था
बसपा ने हमेशा गरीब व दलित वर्ग के लोगो के हितो की लड़ाई लड़ी-शशि सैनी
भाजपा सरकार ने प्रदेश में परिवारवाद, जातिवाद तथा क्षेत्रवाद के भेदभाव को समाप्त किया - विधायक स. बख्शीश सिंह विर्क
दुष्यंत व दिगविजय का हो निष्कासन रद्द बैठक में नही पहुंचे इनैलों के पूर्व विधायक,
प्रदेश में दोनों विपक्षी पार्टियां अपने वजूद के लिए लड़ाई लड़ रही हैं-पवन सैनी
हरियाणा मे भाखड़ा के पानी का समान रूप से करेंगे बंटवारा - किरण चौधरी
दुष्यंत चौटाला अपने परदादा ताऊ देवीलाल की राह पर जींद की धरती से न्याययुद्ध शुरू करने का किया ऐलान
देवीलाल परिवार की महाभारत लगातार बढ़ती जा रही दुष्यंत अपने चाचा अभय चौटाला पर जमकर भड़के