Wednesday, April 24, 2019
BREAKING NEWS
नेताओ की निगाह में कार्यकर्ताओं की कोई हैसियत नहीं ,कोई कार्यकर्त्ता नेता बने ये सहन नहीं 10 लोकसभा क्षेत्रों से नामांकन प्रक्रिया के आखिरी दिन 163 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल सोनीपत बनी सबसे हॉट सीट, राजनीति के दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव परदिल के अरमान आंसुओं में बह गए...राजकुमार सैनी नामांकन ही नहीं कर पाए दाखिल रामपाल माजरा ने किया अर्जुन चौटाला के चुनावी कार्यालय का उद्घाटन कर श्रीगणेश डेरा बाबा वडभाग सिंह के बाबा पर धोखाधड़ी का मामला दर्जजो पार्टी 72 हजार रूपए में श्रीमद्भगवत गीता को बेच सकते हैं , कुरूक्षेत्र से क्या न्याय कर पाएगी :- रणदीप सिंह सुरजेवालाजयहिंद के खिलाफ दर्ज हैं चार केसफरीदाबाद को गुंडाराज से मुक्ति दिलाएंगे पंडित नवीन जयहिंद:सिसोदियातरावड़ी नपा ने घोषित किया जहरीला जल, फिर भी पाली जा रही मछलियां

Uttar Pradesh

डॉन को सता रहा है एनकाउंटर डर, सुल्तानपुर में मीडिया से हुआ मुखातिब,

June 22, 2018 07:40 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

डॉन को सता रहा है एनकाउंटर डर, सुल्तानपुर में मीडिया से हुआ मुखातिब, बुलेट प्रूफ जैकेट का कर रहा मांग 

डॉन छोटा राजन के बेहद करीबी शूटर खान मुबारक को आज सुल्तानपुर कोर्ट में पेशी पर गया जहॉ वकीलों साथ मीडिया से मुखातिब हुआ। डॉन मुबारक खॉन ने बताया की नेता विधायक पुलिस से मिल कर उसकी हत्या करवा सकते हैं जिसके लिए उसने प्रशासन से सुरक्षा की मांग की है । उसने बताया की मेरी सुरक्षा में पुलिस के जवान तैनात है। और अपनी सुरक्षा के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट की भी मांग किया है। मुझे डर सता रहा है कि कहीं पुलिस नेताओं के मिलीभगत से मेरा एनकाउंटर न कर दें इसके लिए मैं हाईकोर्ट भी जाऊंगा। पिछअजे कुछ दिन पहले एसटीएफ ने उसे पीजीआई थाना क्षेत्र में सुलतानपुर रोड के पास से पकड़ा है। वह लखनऊ में कोई बड़ी वारदात करने के इरादे से आया हुआ था। उसके पास से 15 आधुनिक हथियार और 56 कारतूस बरामद हुये थें। खान मुबारक के खिलाफ इलाहाबाद और अम्बेडकर नगर में दो दर्जन मुकदमे हत्या, लूट व अपहरण के दर्ज हैं। बरामद असलहों में 7.62 बोर, नाइन एमएम और 0.32 बोर की पिस्टल थें।

कौन हैं डॉन खॉन मुबारक
डॉन खान मुबारक मुम्बई में एक फिल्म डायरेक्टर की हत्या में जेल में बंद जफर खान उर्फ जफर सुपारी का भाई है। जफर ने ही उसे छोटा राजन के गिरोह में जोड़ा था। खान मुबारक मूल रूप से अम्बेडकरनगर के हसंवर, हरसंभार इलाके का रहने वाला है।

रन आउट देने पर गोली मारी थी
पहला अपराध खान मुबारक ने वर्ष 2006 में किया था। तब क्रिकेट खेलने के दौरान उसे रन आउट दे दिया गया था। इस विवाद में ही उसने एक युवक को गोली मार दी थी, इसके बाद से वह अपराध करता गया।

ये प्रमुख वारदातें
वर्ष 2007 में जेल से छूटने के बाद पोस्टआफिस में लूटपाट की, इसे भी गोली लगी थी पुलिस की।
वर्ष 2012 में छोटा राजन के दूसरे शूटर ओसामा की 50 लाख रुपये की सुपारी लेकर हत्या कर दी। इस अपराध से पहले वह पांच साल जेल में बंद रहा था।
वर्ष 2012 में ही ईंट भट्ठा मालिक अईनुद्दीन की हत्या रंगदारी न देने पर कर दी थी।
वर्ष 2014 में जमीन के विवाद में अम्बेडकर नगर में मोहन यादव को गोली से उड़ा दिया था।
वर्ष 2016 में अपने ही गिरोह के शार्प शूटर शेरू आलम की हत्या कर दी। यह वारदात उसने अपने विरोधी जुगरान को फंसाने के लिए की थी।

फेसबुक प्रोफाइल में खुद को क्राइम ब्रांच का सदस्य बताया
खान मुबारक एक डॉन की तरह अपना वर्चस्व कायम करना चाहता था। यही वजह थी कि वह अपना एक अलग गिरोह भी तैयार कर रहा था। लोगों में खुद को अच्छा व्यक्ति दिखाने के लिये फेसबुक प्रोफाइल पर ‘वर्क्ड एट क्राइम ब्रांच’ लिख रखा था। उसने कई महिला मित्र भी बना रखी थीं।

Have something to say? Post your comment

More in Uttar Pradesh

हम महिलाओं को देंगे 6 हजार रूपये महीने, मोदी से डरती है मीडिया- राहुल गांधी

ललित कला अकादमी अलीगंज में कलाकारों का सम्मान, कला प्रदर्शनी का समापन

अजय क्रांतिकारी व रवि अग्रहरी पत्रकार की सहायता से घायल बेजुबान बैल को मिला नया जीवनदान

योगी आदित्यनाथ 72 घंटे तक मायावती 48 घंटे तक चुनाव प्रचार नही करेंगे

10 दिन के अंदर मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, आज से बदल जाएगी व्यवस्था

झूठी खबर फैलाने वाले बीएसपी एजेंट पर मुकदमा दर्ज।

यूपी-उत्तराखंड : गाजियाबाद, बिजनौर और बागपत से ईवीएम खराब होने की खबरें, मतदान प्रभावित

गठबंधन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश–‘लाठी, हाथी और 786

नियमो को ताक पर रखकर मंदिर के बगल में खोल दी बियर शॉप

लोकतंत्र की रक्षा का हथियार है मताधिकार-ग्रीनमैन अजय क्रान्तिकारी