Monday, July 16, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
एम.बी.बी.एस. में चयनित विक्रम यादव को सरताज जनसेवा ग्रुप द्वारा किया गया सम्मानितसतनाली के राजकीय महाविद्यालय में किया दो दिवसीय अभिमुख कार्यक्रम का आयोजनडेंगू व मलेरिया को लेकर जागा स्वास्थ्य विभागनांगल सिरोही में आयोजित शिविर में तीसरे दिन लोगों को किया योग के प्रति जागरूकडीएम अमेठी ने जिला कृषि अधिकारी एवं एलडीएम को लगायी फटकार, फसल ऋण मोचन योजना में लापरवाही का मामलाहृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधनआपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापनलम्बोरा एकेडमी में पौधारोपण कर बच्चों को किया पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक
Uttar Pradesh

डॉन को सता रहा है एनकाउंटर डर, सुल्तानपुर में मीडिया से हुआ मुखातिब,

अटल हिन्द ब्यूरो | June 22, 2018 07:40 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

डॉन को सता रहा है एनकाउंटर डर, सुल्तानपुर में मीडिया से हुआ मुखातिब, बुलेट प्रूफ जैकेट का कर रहा मांग 

डॉन छोटा राजन के बेहद करीबी शूटर खान मुबारक को आज सुल्तानपुर कोर्ट में पेशी पर गया जहॉ वकीलों साथ मीडिया से मुखातिब हुआ। डॉन मुबारक खॉन ने बताया की नेता विधायक पुलिस से मिल कर उसकी हत्या करवा सकते हैं जिसके लिए उसने प्रशासन से सुरक्षा की मांग की है । उसने बताया की मेरी सुरक्षा में पुलिस के जवान तैनात है। और अपनी सुरक्षा के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट की भी मांग किया है। मुझे डर सता रहा है कि कहीं पुलिस नेताओं के मिलीभगत से मेरा एनकाउंटर न कर दें इसके लिए मैं हाईकोर्ट भी जाऊंगा। पिछअजे कुछ दिन पहले एसटीएफ ने उसे पीजीआई थाना क्षेत्र में सुलतानपुर रोड के पास से पकड़ा है। वह लखनऊ में कोई बड़ी वारदात करने के इरादे से आया हुआ था। उसके पास से 15 आधुनिक हथियार और 56 कारतूस बरामद हुये थें। खान मुबारक के खिलाफ इलाहाबाद और अम्बेडकर नगर में दो दर्जन मुकदमे हत्या, लूट व अपहरण के दर्ज हैं। बरामद असलहों में 7.62 बोर, नाइन एमएम और 0.32 बोर की पिस्टल थें।

कौन हैं डॉन खॉन मुबारक
डॉन खान मुबारक मुम्बई में एक फिल्म डायरेक्टर की हत्या में जेल में बंद जफर खान उर्फ जफर सुपारी का भाई है। जफर ने ही उसे छोटा राजन के गिरोह में जोड़ा था। खान मुबारक मूल रूप से अम्बेडकरनगर के हसंवर, हरसंभार इलाके का रहने वाला है।

रन आउट देने पर गोली मारी थी
पहला अपराध खान मुबारक ने वर्ष 2006 में किया था। तब क्रिकेट खेलने के दौरान उसे रन आउट दे दिया गया था। इस विवाद में ही उसने एक युवक को गोली मार दी थी, इसके बाद से वह अपराध करता गया।

ये प्रमुख वारदातें
वर्ष 2007 में जेल से छूटने के बाद पोस्टआफिस में लूटपाट की, इसे भी गोली लगी थी पुलिस की।
वर्ष 2012 में छोटा राजन के दूसरे शूटर ओसामा की 50 लाख रुपये की सुपारी लेकर हत्या कर दी। इस अपराध से पहले वह पांच साल जेल में बंद रहा था।
वर्ष 2012 में ही ईंट भट्ठा मालिक अईनुद्दीन की हत्या रंगदारी न देने पर कर दी थी।
वर्ष 2014 में जमीन के विवाद में अम्बेडकर नगर में मोहन यादव को गोली से उड़ा दिया था।
वर्ष 2016 में अपने ही गिरोह के शार्प शूटर शेरू आलम की हत्या कर दी। यह वारदात उसने अपने विरोधी जुगरान को फंसाने के लिए की थी।

फेसबुक प्रोफाइल में खुद को क्राइम ब्रांच का सदस्य बताया
खान मुबारक एक डॉन की तरह अपना वर्चस्व कायम करना चाहता था। यही वजह थी कि वह अपना एक अलग गिरोह भी तैयार कर रहा था। लोगों में खुद को अच्छा व्यक्ति दिखाने के लिये फेसबुक प्रोफाइल पर ‘वर्क्ड एट क्राइम ब्रांच’ लिख रखा था। उसने कई महिला मित्र भी बना रखी थीं।

Have something to say? Post your comment
More Uttar Pradesh News
डीएम अमेठी ने जिला कृषि अधिकारी एवं एलडीएम को लगायी फटकार, फसल ऋण मोचन योजना में लापरवाही का मामला
माँ कामाख्या धाम को मिली तीन बसें, अमेठी के शुकुल बाजार को मिलेगा लाभ- जानिए रूपरेखा
जानिए -आज योगी के दो मंत्रियों ने जिला योजना समिति की बैठक में अमेठी के विकास लिए दी कितने अरब रूपये की मंजूरी ?
सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का प्राथमिकता से हो निस्तारण- राज्यमंत्री सुरेश पासी
जिलाधिकारी ने स्कूल चलो अभियान सहित विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह को दिखायी हरी झण्डी, सम्पूर्ण समाधान दिवस कल
हिन्दू समाज पार्टी ने जलाया राहुल गॉधी का पुतला जानिए क्यों ?
भ्रष्टाचार की चपेट में अमेठी का सिंहपुर ब्लॉक मुख्यालय, भ्रष्टाचारी पर कार्यवाही कब ?
सीएमओ साहब ! अस्पताल तो फार्मासिस्ट चला रहा है, गौर तो करेंगें ?
एक व्यक्ति, एक वृक्ष, योजना में जनसहभागिता की आवश्यकता डीएम अमेठी
1862 में बना था मुग़लसराय स्टेशन इतिहास के पन्नों में दर्ज