Wednesday, September 19, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
सरस्वती शिक्षा समिति सतनाली द्वारा शिक्षा मंत्री की माता के निधन पर किया शोक सभा का आयोजनहरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकीगैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोषPartapgarh- खुुुलेे में शौच मुक्ति दिवस के रुप में मनाया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिनश्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्नसब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्जदरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान
Haryana

सांसद चोपड़ा ने डीजीएम के रवैये को कटघरे में खड़ा किया

प्रवीण कौशिक | June 26, 2018 08:00 PM
प्रवीण कौशिक

सांसद चोपड़ा ने डीजीएम के रवैये को कटघरे में खड़ा किया
घरौंडा : 26 जून ,प्रवीण कौशिक
टोल प्लाजा पर मारपीट व तोडफ़ोड़ के बाद डीजीएम संजय माथुर द्वारा करनाल के सांसद अश्विनी चोपड़ा के ब्यान को गैर जिम्मेदाराना करार दिए जाने के बाद करनाल के सांसद ने डीजीएम के रवैये को ही कटघरे में खड़ा कर दिया। सांसद ने पलटवार करते हुए कहा कि तोडफ़ोड मेरे ब्यान के बाद नही, बल्कि संजय माथुर के गलत रवैये के कारण हुई है। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि मैं अब खामोश नही बैठुंगा, बल्कि मंत्रालय में डीजीएम की शिकायत करूंगा। गौरतलब है कि टोल प्लाजा के डीजीएम संजय माथुर ने टोल प्लाजा पर टोल को लेकर हुए विवाद व तोडफ़ोड के बाद करनाल के सांसद के ब्यान को गैर-जिम्मेदाराना करार देते हुए आरोप लगाया था कि उनके ब्यान के बाद जनता में टोल के प्रति आक्रोश पैदा हुआ। मंगलवार को दोपहर बाद करनाल के सांसद अश्विनी चोपड़ा से फोन पर बात हुई तो उन्होंने बताया कि लोकल टोल वाहनों के लिए टोल फ्री करवाने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी से फोन पर उनकी बात हो चुकी है और वे अगले सप्ताह केंद्रीय मंत्री से मुलाकात भी करेंगे।
रविवार को टोल पहुंचें थे सांसद-
बीते रविवार को करनाल के सांसद अश्विनी चोपडा टोल टैक्स पर लोगों के साथ पहुंच गए थे और उन्होंने टोल अधिकारियों को साफतौर से कहा था कि जब तक वे केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी से बात नही करते, तब तक लोकल वाहन चालक पहले की तरह आवाजाही करेंगे। सांसद ने दो टूक शब्दों में कहा था कि वे इलाके की जनता के साथ है। आपको बता दें अगले ही दिन सोमवार को टोल कर्मचारियों व वाहन चालकों के बीच जमकर मारपीट हुई और टोल के बूथों पर तोडफ़ोड़ हो गई थी।
ब्यान देते है लिखकर कोई नही देता-
टोल के डीजीएम संजय माथुर ने बताया कि टोल को लेकर ब्यान देने के लिए तो नेता आते है लेकिन उन्हें लिखित रूप से देने के लिए कोई तैयार नही हैं। हमारे पास जो गजट है उसमें फ्री का कोई प्रावधान नही हैं। नेताओं को भी चाहिए कि इलाके की जनता को भी समझाए ताकि किसी प्रकार टोल पर तनाव बढ़े।
वहीं दूसरी ओर डीजीएम के ब्यान के बाद सांसद अश्विनी चोपडा ने कहा कि डीजीएम ने जो ब्यान दिया है, वह गलत है। उनको इस प्रकार की ब्यानबाजी नहीं करनी चाहिए। सासंद ने कहा कि उन्होंने कोई विवादित ब्यान नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि लोकल वाहनों के लिए टोल फ्री करवाने के लिए वे प्रयासरत है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
सरस्वती शिक्षा समिति सतनाली द्वारा शिक्षा मंत्री की माता के निधन पर किया शोक सभा का आयोजन
गैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोष
श्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्न
सब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज
दरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर
25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान
महम के गांव मेंऑनर किलिंग का मामला जला रहे थे लड़की का शव,ऑनर किलिंग का शक
दिन-प्रतिदिन बढ़ रही आपराधिक घटनाओं ने हरियाणा को अंतराष्ट्रीय स्तर कर दिया शर्मसार
नांवा महापंचायत में पहुंचकर किसान दें अपनी एकता का परिचय: सांगवान
बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल 18वें दिन भी जारी, इनेलो ने जताया अपना समर्थन