Thursday, January 24, 2019
Follow us on
Punjab

बेकाबू कार वृक्ष से टकराई,एक ही परिवार के तीन लोगों की हुई मौत,दो गंभीर

अटल हिन्द ब्यूरो | June 27, 2018 07:09 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

बेकाबू कार वृक्ष से टकराई,एक ही परिवार के तीन लोगों की हुई मौत,दो गंभीर
मरने वाले तीनों में से आठ महीने की बच्ची भी शामिल, परिवार के सभी सदस्य होशियारपुर के हैं
बटाला के गांव बूढ़े नंगल के पास हुआ भीषण हादसा
गुरदासपुर के पिंडोरी धाम मंदिर में माथा टेकने के लिये जा रहे थे सभी पारिपारिक सदस्य
(रघुवंशी,कंवल)
बटाला। बटाला के पास जालंधर रोड पर स्थित गांव बूढेनंगल के पास एक इंडिका कार के बेकाबू होने से सड़क के किनारे पर एक पीपल के वृक्ष से टकरा गई। जिससे कार में सवार 8 महीने की एक बच्ची समेत तीन लोगों की मौत हो गई जबकि दो लोग बुरी तरह घायल हो गये। घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए एंबूलेंस के द्वारा घायलों को बटाला के सिविल अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन डॉक्टरों ने उनकी नाजुुक हालत को देखते हुये उन्हें अमृतसर रेफर कर दिया है। हादसा बुधवार शाम करीब चार बजे का है। कार में सवार पांचों लोग एक ही परिवार के थे। सभी लोग होशियारपुर के गांव पूंटां के रहने वाले थे और अमृतसर में श्री दरबार साहिब में माथा टेकने के बाद गुरदासपुर के निकट श्री पंडोरी धाम में माथा टेकने जा रहे थे। सिविल अस्पताल बटाला में मौजूद मृतकों के परिजनों ने बताया कि पूंटां के रहने वाले बलविंदर सिंह (25) जो गुजरात में जेसीबी चलाने का काम करता था औैर शुक्रवार को उसने वापिस गुजरात चले जाना था। बलविंदर सिंह की दो साल पहले शादी हुई थी और 8 महीने पहले घर में बच्ची ने जन्म लिया था। बेटी होने की खुशी में बलविंदर सिंह उसका पिता ओंकार सिंह, ससुर आज्ञा सिंह वासी भोगपुर, पत्नी मीनू और आठ महीने की बेटी इश्मीत के साथ बुधवार सुबह घर से अमृतसर में श्री दरबार साहिब माथा टेकने गए थे।

श्री दरबार साहिब में माथा टेकने के बाद गाड़ी चला रहा बलविंदर सिंह वाया मेहता चौक होते हुए गुरदासपुर के पास श्री पंडोरी धाम में माथा टेकने जा रहा था। कार को बलविंंदर सिंह चला रहा था जब वह बटाला के गांव बूड़े नंगल के निकट पहुंचे तो उसकी इंडिका कार अचानक अनियंत्रित हो गई और सडक़ किनारे पीपल के पेड़ से जा टकराई।

 

हादसा इतना जब्रदस्त था, कि गाड़ी चला रहे बलविंदर सिंह, उसके साथ बैठे ससुर आज्ञा सिंह (65) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पीछे बैठा बलविंदर का पिता ओंकार सिंह और पत्नी मीनू और बेटी इश्मीत गंभीर घायल हो गई। घायलों को इलाज के लिए सिविल अस्पताल बटाला लाया गया, लेकिन हालत गंभीर होने के कारण उन्हें अमृतसर रेफर कर दिया गया, जहां 8 महीने की बेटी इश्मीत की भी मौत हो गई। सूचना मिलने पर थाना रंगडऩंगल की पुलिस मौके पहुंच गई। जांच अधिकारी एएसआई मेजर सिंह ने हादसे की पुष्टि करते हुए बताया कि एक परिवार के तीन लोगो की मौत हो गई जबकि दो गंभीर हालत में अमृतसर के अमनदीप अस्पताल में हैं। खबर लिखे जाने तक थाना रंगड नंगल की पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई थी।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
जीरकपुर नगर निगम ने करवाई फ्लाईओवर के नीचे सफाई,एनएचआई नहीं कर रहा देखरेख
दुष्कर्म पीडिता ने बठिंडा थाना प्रभारी पर लगाए आरोप ,कह रहा है पैसे लेकर केस दफा करो
नाबालिगों को शराब पिलाने वाले होटल में पुलिस ने की छापामरी
गुंडागर्दी का नंगा नाच, पत्रकार को घेर कर डेढ दर्जन हमलवारों ने पीटा…
अकाली दल को छोड कर गए चार पार्षद अपने साथियों समेत मनप्रीत बादल की हाजरी में होगें कांग्रेस में शामिल
आठ पुलिस वालों समेत नौ पर केस दर्ज करने के दिए आदेश पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने
बठिंडा कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष के घर पर हरियाणा पुलिस की छापामरी
जीरकपुर की अवैध मंडी में आग से दिनभर राख में उम्मीद ढूंढते रहे सभी दुकानदार
जीरकपुर : कांग्रेस जिला उपप्रधान की फिर बढ़ी मुश्किलें,महिला से बदतमीजी और हाथापाई करने का आरोप
बठिंडा में सुनवाई न होने पर गुस्साए लोगों ने पुलिस चौकी के आगे लगाया धरना