Monday, July 16, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
एम.बी.बी.एस. में चयनित विक्रम यादव को सरताज जनसेवा ग्रुप द्वारा किया गया सम्मानितसतनाली के राजकीय महाविद्यालय में किया दो दिवसीय अभिमुख कार्यक्रम का आयोजनडेंगू व मलेरिया को लेकर जागा स्वास्थ्य विभागनांगल सिरोही में आयोजित शिविर में तीसरे दिन लोगों को किया योग के प्रति जागरूकडीएम अमेठी ने जिला कृषि अधिकारी एवं एलडीएम को लगायी फटकार, फसल ऋण मोचन योजना में लापरवाही का मामलाहृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधनआपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापनलम्बोरा एकेडमी में पौधारोपण कर बच्चों को किया पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक
Haryana

घरौंडा-टोल प्लाजा पर चल रहे फर्जीवाड़े का खामियाजा लोकल वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा हैं।

प्रवीण कौशिक | June 28, 2018 07:24 PM
प्रवीण कौशिक


घरौंडा-टोल प्लाजा पर चल रहे फर्जीवाड़े का खामियाजा लोकल वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा हैं।
घरौंडा : 28 जून , प्रवीण कौशिक
हाइवे स्थित टोल प्लाजा पर चल रहे फर्जीवाड़े का खामियाजा लोकल वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा हैं। टोल कम्पनी ने खुलासा किया है कि मुफ्त में क्रासिंग के लिए फर्जी लोकल आईडी का प्रयोग धडल्ले से किया जा रहा है। टोल कंपनी द्वारा की गई चेकिंग में यह सनसनीखेज खुलासा हुआ है कि हजारों की संख्या में वाहन चालकों ने टोल पार करने के लिए लोकल एड्रेस के फर्जी आईडी प्रूफ बना रखे हैं। बीते कई वर्षो से टोल प्लाजा पर लोकल वाहनों की आड़ में अवैध वसूली का धंधा खूब फला-फुला है । टोल पर पनपे माफिया ने सरकार को लाखों का चूना लगाते हुए मोटी कमाई की हैं। टोल कंपनी की सख्ती के बाद हजारों फर्जी आईडी जब्त की गई हैं। टोल कम्पनी के डीजीएम संजय माथुर के अनुसार टोल पर जब्त की गई। फर्जी आईडी के चालकों के खिलाफ कंपनी कानूनी कार्रवाई करेगी।
करीब साढ़े तीन वर्ष पहले बसताड़ा गांव के पास टोल स्थापित करते समय इलाके के लोग टोल के खिलाफ लामबंद हो गए थे। टोल का पुरजोर विरोध करते हुए स्थानीय लोगों ने टोल शिफ्ट करने के लिए आन्दोलन छेड़ दिया। स्थानीय लोगों के विरोध के आगे झुकते हुए टोल कंपनी ने स्थानीय लोगों को मुफ्त क्रासिंग का आश्वासन दिया था। तभी से लोकल वाहन चालको को टोल पर फ्री क्रासिंग की सुविधा मिल रही थी। लेकिन कुछ समय बाद लोकल वाहनों के लिए शुरू की गई। इस सुविधा को गलत इस्तेमाल शुरू हो गया। असमाजिक तत्वों के लिए हाइवे का यह टोल कमाई का अड्डा बनता चला गया। टोल के आस-पास कई गिरोह सक्रिय हुए। जिन्होंने फर्जी आईडी के प्रयोग से टोल क्रासिंग का धंधा चलाया। फर्जी आईडी के इस्तेमाल के कारण टोल पर लोकल वाहनों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती गई। टोल पर फ्री वाहनों के आंकड़ों को बढ़ता देख टोल कंपनी ने शिकंजा कसना शुरू किया। चेकिंग के दौरान टोल कर्मियों ने सैकड़ों की संख्या में फर्जी आईडी पकड़ी हैं। इन आईडी प्रूफ के जरिये वाहन चालक लोकल होने का हवाला देकर निशुल्क टोल पार करते थे। दरअसल टोल कंपनी द्वारा घरौंडा शहर व आस-पास के गांवों के स्थानीय वाहनों को छूट दे रखी हैं। इस छूट का फायदा उठाने के लिए दूर-दराज के गांवों व अन्य जिलों के वाहन चालकों ने फर्जी एड्रेस के डाक्यूमेंट्स बना रखे हैं । टोल कंपनी के डीजीएम संजय माथुर ने बताया कि टोल पर चेकिंग के दौरान उन्होंने दो हजार से अधिक ऐसे फर्जी आईडी कार्ड पकड़े है जिन पर लोकल एड्रेस दिखाया गया है।
फर्जी आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस व वोटर कार्ड-
टोल कम्पनी डीजीएम संजय माथुर ने बताया कि टोल पर पकड़े गए दस्तावेजों में बड़ी संख्या में फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस, फर्जी पते के आधार कार्ड व वोटर कार्ड शामिल हैं। उन्होंने बताया कि वाहन चालकों ने मुफ्त टोल क्रासिंग के लिए रंगीन फोटोस्टेट के जरिये आईडी कार्डस पर लोकल एड्रेस दर्ज करके फर्जी आईडी बना रखी है। टोल पर वाहन चालक ऐसे लाइसेंस व कार्ड दिखाकर आस-पास स्थित गांवों से संबंधित होने का दावा करते है और बिना टोल दिए गाडिय़ां निकालते हैं।
फर्जी आईडी बनाने वाले पुलिस कर्मी, सरकारी कर्मचारी और पांच हजार व्हीकल निकलते है फ्री
टोल कंपनी से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार रोजाना करीब चार से साढ़े चार हजार कारें व हल्के वाहन फ्री निकलते हैं। इसके इलावा 150 से 200 कैंटर, 150 के करीब ट्रक व 550 से 600 की संख्या में भारी वाहन बिना टोल दिए निकलते हैं। टोल प्लाजा के मैनेजर कौशल शर्मा ने बताया कि लोकल वाहनों के लिए कंपनी ने टोल में ख़ास छुट दे रखी, लेकिन लोकल की आड़ में बड़ी संख्या वाहन बिना टोल दिए निकलते हैं। उन्होंने कहा कि फर्जी आईडी कार्ड दिखाकर गाड़ी निकालने वालो में बड़ी संख्या छोटे वाहनों की होती है, जिसमें कार व जीप शामिल हैं।
फर्जी वाहनों ने बढाई लोकल लोगो की दिक्कत-
हजारों की संख्या में फर्जी आईडी तैयार होना गंभीर मामला है। टोल पर प्रयोग हो रही नकली आईडी का खामियाजा स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ रहा है। बड़ी संख्या में फ्री जा रहे वाहनों से हो रहे नुकसान पर अंकुश लगाने के लिए टोल कम्पनी ने सभी वाहनों पर टोल टेक्स लागू करने का आदेश जारी किया। डीजीएम संजय माथुर ने कहा कि फ्री गाडिय़ां निकलने से सरकार व कम्पनी को रोजाना लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा हैं। उन्होंने कहा कि इस फर्जीवाड़े पर नकेल कसने के लिए कम्पनी ने कड़ा संज्ञान लिया हैं। अब फर्जी आईडी कार्ड के साथ पकडे जाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ कम्पनी क्रिमिनल केस दर्ज करवाएगी।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
एम.बी.बी.एस. में चयनित विक्रम यादव को सरताज जनसेवा ग्रुप द्वारा किया गया सम्मानित
सतनाली के राजकीय महाविद्यालय में किया दो दिवसीय अभिमुख कार्यक्रम का आयोजन
डेंगू व मलेरिया को लेकर जागा स्वास्थ्य विभाग
नांगल सिरोही में आयोजित शिविर में तीसरे दिन लोगों को किया योग के प्रति जागरूक
हृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधन
लम्बोरा एकेडमी में पौधारोपण कर बच्चों को किया पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक
स्कूल व बारात की बस में जबरदस्त टक्कर, आधा दर्जन बच्चे घायल
दीप प्रज्वलित कर किया 5 दिवसीय नि:शुल्क योग शिविर का शुभारंभ
शिक्षक नहीं, कैसे हो पढ़ाई, शिक्षा मंत्री के गृहक्षेत्र के इस स्कूल को है शिक्षकों का इंतजार
मौत की सवारी बन बच्चों को ढो रही हैं जर्जर स्कूली बस