Wednesday, September 19, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
त्रिवेणी लगाकर व पौधारोपण करके मनाया बेटे का जन्मदिनताऊ देवीलाल के 105वें जन्मदिवस को लेकर इनेलो-बसपा कार्यकर्ताओं ने किया बैठक का आयोजनसरस्वती शिक्षा समिति सतनाली द्वारा शिक्षा मंत्री की माता के निधन पर किया शोक सभा का आयोजनहरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकीगैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोषPartapgarh- खुुुलेे में शौच मुक्ति दिवस के रुप में मनाया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिनश्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्नसब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज
Haryana

हृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधन

सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट | July 12, 2018 07:18 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

हृदय गति रूकने से मालड़ा सराय के लाडले सैनिक लीलाराम का निधन
राजकीय सम्मान के साथ गमगीन माहौल में किया अंतिम संस्कार


महेंद्रगढ़ (प्रिंस लांबा)।

 

गत 11 जुलाई को देर रात ड्यूटी के दौरान हृदय गति रूकने से हवलदार लीलाराम का निधन हो गया। आज उनके पार्थिव शरीर का गांव मालड़ा सराय में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जांबाज की अंतिम विदाई के मौके पर पूरा गांव व आसपास के गांव के सैकड़ों लोग उमड़ पड़े तथा लोगों ने अश्रुपूर्ण माहौल में अपने जांबाज लाडले को अंतिम विदाई दी। आर्मी की ओर से सूबेदार महेंद्र यादव 102 गार्ड रेजीमेंट अलवर की तरफ से सैनिक के शव को तिरंगे में लेकर गांव पहुंचे तथा राजकीय सम्मान प्रदान करते हुए मातमी धून बजा, शस्त्र उल्टे कर श्रद्धांजलि दी।

सूबेदार महेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि लीलाराम आर्मी की 102 गार्ड रेजीमेंट अलवर में हवलदार के पद पर कार्यरत था। गत 11 जुलाई को वह अपनी यूनिट के साथ किसी काम से हिसार गया हुआ था जहां देर रात्रि अचानक वह बेहोश हो गया। जिसे देखकर लीलाराम के साथियों ने उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया तथा वहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

उन्होंने बताया कि लीलाराम बेहद अनुशासनप्रिय, होनहार व जांबाज सैनिक था तथा मिलनसार स्वभाव के चलते वह सबसे मित्रतापूर्वक व्यवहार करता था। उनकी उम्र 37 वर्ष थी। उनके पीछे उनकी माता संतरा, पत्नी व दो लडक़े रह गए हैं। जैसे ही बृहस्पतिवार शाम को ग्रामीणों को अपने जांबाज सैनिक की मौत का पता चला तो गांव में सन्नाटा छा गया तथा शौक का गमगीन माहौल बन गया। अंतिम संस्कार के इस मौके पर पूर्व जिला प्रमुख सुरेंद्र कौशिक, सरंपच बिल्लु मालड़ा सराय, जिला पार्षद प्रदीप मालड़ा, युद्धवीर पालड़ी, कनीना सरंपच एसोसिएसन के प्रधान रविंद्र गागड़वास सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने पुष्प अर्पित कर लाडले सैनिक को श्रदांजली दी।

 


फोटो कैप्शन: पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देते हुए यूनिट सदस्य व ग्रामवासी।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
त्रिवेणी लगाकर व पौधारोपण करके मनाया बेटे का जन्मदिन
ताऊ देवीलाल के 105वें जन्मदिवस को लेकर इनेलो-बसपा कार्यकर्ताओं ने किया बैठक का आयोजन
सरस्वती शिक्षा समिति सतनाली द्वारा शिक्षा मंत्री की माता के निधन पर किया शोक सभा का आयोजन
गैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोष
श्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्न
सब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज
दरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर
25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान
महम के गांव मेंऑनर किलिंग का मामला जला रहे थे लड़की का शव,ऑनर किलिंग का शक
दिन-प्रतिदिन बढ़ रही आपराधिक घटनाओं ने हरियाणा को अंतराष्ट्रीय स्तर कर दिया शर्मसार