Sunday, October 21, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
माधोगढिय़ा सदन में किया गया माता के भव्य जागरण का आयोजनविदेशी वस्तुओं का बहिष्कार कर स्वदेशी दीपावली मनाने का दिया संदेशबाबा समताई नाथ गौशाला में धूमधाम से मनाया गया वार्षिकोत्सवडालनवास गांव के पूर्व सरंपच वीरपाल सिंह के पिता का निधनब्रेकिंग-पंजाब के अमृतसर से दशहरे के दिन बड़े हादसे की ख़बर ,शोक में बदलीं विजयदशमी की खुशियाँअहीर रेजिमेंट यादव समाज का स्वाभिमान व अधिकार, केंद्र सरकार जल्द से जल्द करे इसका गठन: कुलदीप यादवरोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में बिजली कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ किया विरोध-प्रदर्शनखालड़ा फेन जनसेवा ग्रुप द्वारा सम्मान समारोह में उत्कृष्ट खिलाडिय़ों को किया सम्मानित
Crime

कभी शांति व सादगी का प्रतीक माना जाने वाला जिला आज बना अपराधों का अड्डा

सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट | July 25, 2018 07:01 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

जिले की जनता पर गहराता जा रहा है असामाजिक तत्त्वों का भय


पुलिस जल्द लगाए आपराधिक घटनाओं पर अंकुश अन्यथा लोग होंगे आंदोलन करने को मजबूर: कुलदीप यादव


कभी शांति व सादगी का प्रतीक माना जाने वाला जिला आज बना अपराधों का अड्डा


महेंद्रगढ़ (प्रिंस लांबा)।

 

जिले में दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा अपराध चिंता का विषय बनता जा रहा है। जिससे व्यापारियों सहित समाज के सभी वर्गों में भय का माहौल बना हुआ है। उक्त विचार सामाजिक संगठन सरताज जनसेवा ग्रुप पीआरओ कुलदीप यादव ने पुलिस की शून्य कार्यप्रणाली का विरोध करते हुए प्रकट किए तथा कहा कि अगर जल्द ही आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु कोई ठोस कदम नहीं उठाया जाता है तो जनता को आंदोलन करने की मजबूर होना पड़ेगा।

इस अवसर पर कुलदीप यादव ने बताया कि महेंद्रगढ़ जिला शांति व साधारणता का प्रतीक होना के साथ-साथ अन्य जिलों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है। परंतु विगत कुछ समय से यह आपराधिक तत्वों का अड्डा बन गया है। हर तरफ आतंक का माहौल बना हुआ है, जिससे समाज के प्रत्येक व्यक्ति का जीना दूर्भर हो गया है। यहां पर गोलीबारी, मारपीट, लूटमार जैसी घटनाएं आम बात हो गई हैं तथा आए दिन आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने वाले असामाजिक तत्त्वों के खिलाफ पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई न किए जाने से इनके हौंसले बुलंद हैं।

उन्होंने बताया कि मंगलवार देर रात असामाजिक तत्त्वों द्वारा एक व्यापारी को मोहरा बनाते हुए पिस्तौल की नोक पर 3 लाख रूपये लूट लिए तो वहीं नारनौल में इसी रात 6 लाख रूपये की लूट की घटना सामने आई है। जिससे यह बिल्कुल स्पष्ट हो जाता है कि चोरों को पुलिस प्रशासन का कोई भय नहीं है तथा पुलिस भी आपराधिक तत्त्वों के खिलाफ कार्रवाई करने के प्रति कितनी सचेत है। वहीं अगर महेंद्रगढ़ व नारनौल की बात की जाए तो फायरिंग तथा चोरी की घटनाएं दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं तथा कमजोर कानून व्यवस्था महेंद्रगढ़ जिले की पहचान बनती जा रही है।

यादव ने बताया कि जिले में बढ़ती आपराधिक घटनाओं के कारण पिछले काफी समय से व्यापारी ही नहीं बल्कि समाज के प्रत्येक व्यक्ति में डर व्याप्त है, जिसका मुख्य कारण जनप्रतिनिधी का कमजोर होना व पुलिस की शून्य कार्यप्रणाली है। आपराधिक घटनाओं को अंजाम देकर असामाजिक तत्त्व लगातार कानून व्यवस्था का माखौल उड़ा रहे हैं तथा स्थानिय विधायक सिर्फ अपने आप तक सिमट कर रह गये हैं। जिले में न तो कानून व्यवस्था पर ध्यान दिया जा रहा है तथा न ही विकास करवाया जा रहा है। प्रतिनिधि सिर्फ चुनाव के समय विभिन्न मुद्दे उठा वोट की राजनीति करके जनता को मुर्ख बनाते हैं। सत्ता हासिल करने के बाद उन्हें जनता की कोई फिर्क नहीं होती।

उन्होंने कहा कि प्रशासन का काम है जनता की सुरक्षा करना तथा अपराध व अपराधियों पर लगाम लगाना, परंतु पुलिस अधिकारियों के कान पर जूं तक नही रेंगती। जब पुलिस विभाग के अधिकारियों से आपराधिक घटनाओं पर ध्यान देने की बात की जाती है तो वे पुलिस फोर्स की कमी बताकर मामलों को दरकिनार कर देते हैं, जैसे उन्हें किसी घटना के बारे में कुछ भी न पता हो। यादव ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर पुलिस प्रशासन द्वारा जल्द ही बढ़ती आपराधिक घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया जाता है तो जिले की जनता को सडक़ों पर उतर आंदोलन करने को मजबूर होना पड़ेगा।

 


फोटो कैप्शन: बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर मीटिंग का आयोजन करते कुलदीप यादव।

Have something to say? Post your comment
More Crime News
गोली लगने से युवक की मौत, पुलिस जांच में जुटी चचेरे भाईयो ने की कस्सी से काटकर भाई की हत्या
जींद-अवैध संबंध के चलते पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या
दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, नहर से मिला महिला का शव, थानाक्षेत्र बाजार शुक्ल का मामला
नरवाना पुलिस ने डाक्टर टीम के साथ घर में रखें नशीले इंजेक्शन व दवाईयां बरामद की
सोनीपत-नकाबपोशों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
एफआईआर दर्ज करवाते समय इन बातों पर जरूर दें ध्यान
जमीन को लेकर दस दिन में दूसरा खुनी संघर्ष, एक की मौत कई घायल
बारड़ा गांव में पकड़ा गायों से भरा ट्रक, पुलिस ने खानापूर्ति कर मामले से किया किनारा