Friday, February 22, 2019
BREAKING NEWS

Haryana

पुलिस कर्मी की हत्या करने वाले जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे - पुलिस महानिदेशक

August 09, 2018 08:57 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

 

पुलिस कर्मी की हत्या करने वाले जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे - पुलिस महानिदेशक
चंडीगढ, 9 अगस्त- (अटल हिन्द ब्यूरो )हरियाणा पुलिस महानिदेशक  बी.एस.सन्धू ने आज कहा कि पुलिस कर्मी की हत्या करने वाले जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे। शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार के परिजनों को हरियाणा सरकार की तरफ से 30 लाख तथा बैंक की ओर से 30 लाख समेत कुल 60 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। इसके अतिरिक्त, नरेन्द्र कुमार के बेटे को सरकारी नौकरी दिए जाने की सरकार को सिफारिश की जाएगी।
 संधू आज हांसी रोड स्थित शिवपुरी, करनाल में रोहतक में शहीद हुए पुलिसकर्मी नरेन्द्र कुमार के अंतिम संस्कार के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। 
उन्होने इस घटना पर खेद व्यक्त करते हुए कहा कि श्री नरेन्द्र रोहतक की अदालत में करनाल से युवती को लेकर पेशी के लिए गए थे। अचानक हमलवारों ने हमला बोल दिया। सब इन्सपैक्टर नरेन्द्र कुमार ने बहादुरी का परिचय देते हुए अपनी जान की परवाह न करते हुंए युवती को बचाने की कोशिश की। वहां मौजूद महिला पुलिसकर्मी ने युवती की सास को बचाया। मगर इस हमले में सब इन्सपैक्टर नरेन्द्र कुमार शहीद हो गए। युवती की भी हत्या कर दी गई। 
हरियाणा पुलिस पर हुए हमले को कायरतापूर्ण बताते हुए डीजीपी ने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने कुछ लोगो को राऊंडअप किया है। किसने हमला करवाया के सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा कि शुरूआती जांच में सामने आया कि हमला युवती के परिजनों ने ही करवाया है। फिर भी पुलिस जांच कर रही है। हरियाणा पुलिस इस केस को सख्ती से निपटेगी। 
एक सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा कि पुलिस की नौकरी मुश्किलो से भरी है। कई चुनौतियां सामने है। लेकिन मुझे हरियाणा पुलिस पर विश्वास है कि वह हर चुनौती से निपटेगी। उन्होने यह भी कहा कि कोर्ट कम्पलैक्स में कैमरे भी लगे है। लेकिन पुलिस पर इस तरह से हमला होगा इसकी उम्मीद कतई नहीं थी कि परिवार के लोग ही ऐसा करेगे। उन्होने कहा कि पुलिस की कोशिश रहेगी कि अपराधियों को न केवल जल्द ही पकड़ा जाए। बल्कि इस केस को फास्ट टै्रक अदालत में ले जाकर जल्द ही सजा दिलवाई जाए। 
क्या युवती के परिजनो ने शूटर हायर किए थे, के सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा कि पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है। उन्होने यह भी कहा कि जिस महिला पुलिसकर्मी ने युवती की सास की जान बचाई है। उसे हरियाणा पुलिस रिवार्ड देगी। शहीद की विधवा को विभाग की तरफ से पेंशन दी जाएगी। 
डयूटी के दौरान शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार को शहीद का दर्जा देने पर सरकार फैंसला करेगी। उन्होने यह भी कहा कि पूरा पुलिस महकमा शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार के परिजनों के साथ खड़ा है। शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार हमेशा हरियाणा पुलिस के कर्मियों को न केवल प्ररेणा देते रहेंगे बल्कि हमेशा याद रखे जाएंगे। 
इससे पहले डीजीपी बी.एस सन्धू ने शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार के  पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें सैल्यूट करते हुए सलामी दी। इस अवसर पर भाजपा के जिलाध्यक्ष जगमोहन आनन्द ने प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की तरफ से पुलिसकर्मी पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। करनाल के आई.जी नवदीप सिंह विर्क तथा करनाल के एसपी सुरेन्द्र सिंह भोरिया, नीलोखेड़ी के विधायक भगवानदास कबीरपंथी तथा स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र ने भी पुष्प अर्पित कर शहीद हुए उपनिरीक्षक नरेन्द्र कुमार को अंतिम विदाई के समय श्रद्धांजलि अर्पित की

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

पिहोवा विधानसभा क्षेत्र की मांगों को लेकर मुख्यमंत्री से मिलेंगे गगनजोत संधू कहा मुख्यमंत्री द्वारा 2016 में विकास रैली में की गई घोषणाएं को भी ध्यान में लाया जाएगा

हरियाणा विधानसभा में उठा नेता प्रतिपक्ष का मुद्दा, विधायक नैना चौटाला ने कहा कि हां हमारी अब है अलग पार्टी

पुलिस एसआई राजपाल ने ईमानदारी का दिया परिचय

गुरू रविदास जी द्वारा बताए समरसता और समभाव के मार्ग का अनुसरण करें- राज्यपाल

जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष राव कमलबीर सिंह कांग्रेस में शामिल

किसान सम्मान निधि योजना का प्रधानमंत्री 24 फरवरी को करेंगे शुभारंभ

अनपढ़ता है रिमोट कंट्रोल, शिक्षा से व्यक्ति जीवन का खुद ले सकता है फैसला : जया किशोरी

नलोई के वार्ड न0 8 मे सफाई व्यवस्था चरमराई , गदे पानी मे तबदील हुई गलिया

इनेलो के हल्का युवा प्रधान बने विशाल मिर्धा।

हरियाणा का एक और जवान हवलदार संदीप शहीद