Thursday, October 18, 2018
Follow us on
Political

शिरोमणी अकाली दल हरियाणा में सत्ता का दावेदार बनेगा

राकेश शर्मा | August 19, 2018 06:51 PM
राकेश शर्मा

शिरोमणी अकाली दल हरियाणा में सत्ता का दावेदार बनेगा

पीपली की रैली में उमड़ा जनसैलाब

सुखबीर बादल ने ऐलान किया कि शिअद 2019 के चुनाव लड़ेगा और विजयी होगा

कुरुक्षेत्र राकेश शर्मा 19 अगस्तः

शिरोमणी अकाली दल ने आज स्पष्ट किया है कि वह हरियाणा में सत्ता का दावेदार बनेगा। पार्टी अध्यक्ष सुखबीर बादल ने घोषणा की है कि शिअद 2019 के लोकसभा चुनाव व्यक्तिगत तौर पर लड़ेगा और विजयी होगा। हरियाणा में पार्टी की पहली एक लाख से ज्यादा संख्या वाली ऐतिहासिक रैली को संबोधित करते हुए शिअद अध्यक्ष ने कहा कि हमने पंजाब में जो वायदा किया वो पूरा करके दिखाया । अब हम हरियाणा के लोगों के कल्याण व खुशहाली के लिए काम करने की जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार हैं। मैं पंजाबियों से हरियाणा में एक नया इतिहास लिखने के लिए अकाली दल के ंझंडे तले एकजुट होने का आग्रह करता हूं। अगर एक बार आप शिअद के साथ मिलकर एकजुट हो गए तो कोई आपको सत्ता हासिल करने से नही रोक सकता।

जोश भरे लोगों के इकट्ठ में गूजंते नारों के बीच तकरीर करते हुए सरदार बादल ने कहा कि अगर शिअद हरियाणा में सत्ता में आ गया तो खेती सैक्टर के लिए मुफ्त बिजली की नीति लागू की जाएगी। उन्होने सभी खेत खलिहानों को सिंचाई के लिए मुफ्त पानी, दलितों को प्रतिमाह 400 यूनिट बिजली तथा समाज के सभी वर्गो को बहुत सी सुविधाए भी देने की घोषणा की।

यह स्पष्ट करते हुए कि हरियाणा में शिअद, कांग्रेस को कड़े हाथों लेगा, पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस हमेशा अकाली दल के लिए एक दुश्मन पार्टी रहेगी। उन्होने लोगों को आश्वासन दिया कि 1984 कत्लेआम पीड़ितों को न्याय दिलाने की लड़ाई तब तक जारी रखेगा ,जब तक दोषियों को जेल नही हो जाती। उन्होने कहा कि कांग्रेस लगातार इन दोषियों की हिफाजत करती आ रही है।

सरदार बादल ने बताया कि किस तरह कांग्रेस पंजाबी समुदाय के साथ भेदभाव करती रही है। फिर चाहे अमरजेंसी का दौर हो या फिर पंजाब में आतंकवाद का समय हो। उन्होने कहा कि अब भी सिख समुदाय को भेदभाव की घटनाओं का सामना करना पड़ रहा है , जैसा कि हाल ही में हिसार में एक सिख परिवार को निशाना बनाया गया है। उन्होने कहा कि यह सब हम सिर्फ राजनैतिक सत्ता हासिल करके ही रोक सकते हैं।

इस अवसर पर शिअद हरियाणा के इचांर्ज बलविंदर सिंह भुंदड़ ने बताया कि कैसे पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पंजाब मे मुफ्त बिजली तथा शगुन व आटा दाल जैसी अनुठी स्कीमों के जरिए किसानों और गरीबों की मदद की। उन्होने कहा कि अगर लोग शिअद का साथ दे ंतो ऐसी स्कीमे हरियाणा में भी लागू की जा सकती हैं।

सीनियर नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने पंजाबियों से आग्रह किया कि वे किसी के संकीर्ण राजनैतिक उद्देश्यों के लिए अपना इस्तेमाल न होने दें, और उन्हे शिअद का सर्मथन करने का आग्रह किया जो कि उनकी सच्ची प्रतिनिधी पार्टी है। बीबी जागीर कौर ने बताया कि शिअद ही एक ऐसी पार्टी है,जिसने होंद चिल्लड़ में सिखों के कत्लेआम के खिलाफ न्याय की लड़ाई लड़ी थी।

हरियाणा शिअद अध्यक्ष शरणजीत सिंह सहौता ने कहा कि लोगों में यह भावना पनप रही है, हरियाणा के राजनैतिक दलों ने पंजाबियों को सही सत्कार नही दिया और अब सिख समुदाय चाहता है कि शिअद उनकी अगुआई करे।

इस अवसर पर संबोघित करने वाले बाकी नेताओं में सुरजीत सिंह रखड़ा, जीत महेंद्र सिद्दू, अवतार सिंह,हरिंदरपाल चंदूमाजरा व चरनजीत सिंह बराड़ शामिल थे।शिअद हरियाणा के नेताओं में बलकौर सिंह, रघुजीत सिंह विर्क, अमरजीत सिंह मंगी, बलदेव सिंह कैम्मपूर, रविंदर कांैर अजराना, करतार कौर,बलवीर सिंह व सुखवीर सिंह मंडी भी मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment
More Political News
घरौंडा में भाजपा को झटका, पूर्व विधायिका रेखा राणा ने छोड़ी पार्टी
सुप्रीम कोर्ट ने दबंग इनैलो नेता अभय चौटाला को दिया झटका,याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज
आप पार्टी की सरकार आने पर हरियाणा का होगा चहुंमुखी विकास: कमांडो सुरेन्द्र
हरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकी
बच्चा बढ़ा हो रहा है और बूढो के जाने का वक़्त आ गया है:सांसद सुशील
इनेलो-बसपा गठबंधन पर अभी भी लगे हुए हैं कई सवालिया निशान
जब नए सांसदों को राजनीतिक शुचिता का पाठ पढाने हरियाणा आए वाजपेयी
करोड़ों रूपये रैली में खर्च करने की बजाए आमजन की सुविधा में लगाते तो बाहरी लोगों को लाने की नहीं आती नौबत
15 वर्ष के कार्यकाल में महेंद्रगढ़ को मूलभूत सुविधाएं तक नहीं दे पाए राव दानसिंह, चुनाव के समय लाने चले क्रांति: कुलदीप यादव
पूर्व विधायक राव दानसिंह करवाएं चाहे जनक्रांति या पैदल यात्रा, जनता नहीं आएगी झांसे में: कुलदीप यादव