Thursday, January 24, 2019
Follow us on
National

घरौंडा की कथित भूतिया कोठी का किया पर्दाफाश

प्रवीण कौशिक | August 23, 2018 05:49 PM
प्रवीण कौशिक

घरौंडा की कथित भूतिया कोठी का किया पर्दाफाश


हमारे संवाददाता ने सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ बताई यहां आधी रात।


घरौंडा,प्रवीण कौशिक


पिछले 2 दिनों से मीडिया में घरौंडा के सरकारी हस्पताल में पिछले 10 वर्षों से बंद पड़े क्वार्टर को कथित भूतिया कोठी का नाम दे दिया गया था जिसके कारण अस्पताल में आए मरीज अब भी दहशत में आ गए थे ।जैसे ही यह मुद्दा सामाजिक संस्थाओं की नजर में आया तो कुछ संस्थाओं ने इस भूतिया कोठी में रात बिताने की घोषणा की।
आपको बता दें कि गत रात युवा बोलेगा मंच व अंबेडकर सभा के कुछ सदस्य इस भूतिया कोठी के सामने इकट्ठे हो गए और सारी रात वहीं बिताई इस मौके पर हमारे संवाददाता ने अपनी टीम के साथ इस जगह का दौरा किया और इसकी सच्चाई जानने की कोशिश की । जिसमें पाया गया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एसएमओ के लिए जो क्वार्टर बनाया गया था वह पिछले 10 सालों से खाली पड़ा है जिस पर सरकार द्वारा लाखों रुपए खर्च किया गया था और खाली रहने की वजह से यह क्वार्टर खंडहर में तब्दील होता जा रहा है इसके कमरों के दरवाजे व खिड़किया,फर्श सब टूट चुके हैं और इस ओर से प्रशासन की लापरवाही के कारण इसके आसपास झाड़ियां ही झाड़ियां होने से यहां का माहौल डरावना लगना शुरू हो गया है जिसके कारण रात्रि के समय इधर कोई नहीं आता।
ऐसी अफवाहें भी फैलाई गई की इस क्वार्टर में भूतों का वास हो गया है जिसके कारण कोई डॉक्टर इस में रहने के लिए तैयार नहीं हुआ और 10 सालों से यह प्रशासन की लापरवाही के कारण खंडहर में तब्दील होता जा रहा है ।
जब हमारे संवाददाता और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस क्वार्टर का दौरा किया तो पाया गया कि प्रशासन की लापरवाही के कारण इसकी दुर्दशा हो रही है और पिछले चार-पांच दिन से इस क्वार्टर के कमरे में ठेकेदार द्वारा कुछ मजदूर रखे गए हैं आस पास झाड़ियां व गंदगी होने के कारण इन मजदूरों के साथ कोई भी हादसा हो सकता था । बरसात के कारण यहां चारों और कीचड़ और गंदगी तथा झाड़ियां भयानक रूप ले रही थी।


युवा बोलेगा मंच के प्रदेश अध्यक्ष जेपी शेखपुरा और अंबेडकर सभा के मलखान सिंह ने यहां मौके पर बताया कि यह सिर्फ एक मात्र अफवाह है जिसके कारण मरीजों व उनके परिजनों में दहशत का माहौल हो गया था यहां पर ऐसा कुछ नहीं पाया गया कि किसी भूत का यहां बसेरा हो । मगर हां यह देखने को मिला कि यहां पर स्वच्छता अभियान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। गंदगी व कीचड़ का पूरा आलम है ,मच्छरों की भरमार है कांग्रेस घास की भरमार है जिसके कारण यहां का माहौल डरावना लगता है और आस-पास क्वार्टर में रह रहे कर्मचारियों के लिए किसी भी समय कोई खतरा हो सकता है ।
हमारे संवाददाता ने लगभग आधी रात वहां बिताई और ऐसा वहां कुछ नहीं मिला कि इस सरकारी खंडहर में किसी भूत या प्रेत का वास हो । क्योंकि आसपास क्वाटरों में अन्य कर्मचारी यहां रहते देखे गए। इस तरह मरीजों के लोगों के दिल में इस क्वार्टर में भूत को लेकर जो दहशत फैली हुई थी उस का पर्दाफाश हुआ और प्रशासन की लापरवाही स्पष्ट रूप से सामने आई।

Have something to say? Post your comment
More National News
क्रिकेट के खिलाड़ी ने बॉल छोड़ उठाई बंदूक, बना बदमाश, गिरफ्तार
महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्कॉट की कामयाबी नाबालिग सहित 9 संदिग्ध गिरफ्तार,
आरएसएस ऑफिस में बर्तन तक धोए--पीएम मोदी
हिंदू महिला की मुस्लिम पुरुष से शादी अवैध, पर उनसे जन्मे बच्चे वैध- सुप्रीम कोर्ट
चौटाला परिवार ने 16 साल बाद कंडेला कांड के लिए माफी मांगी, अभय चौटाला ने मानी गलती
भाजपा के कार्यालय फाईव स्टार जैसे, जनता विकास को तरसी : गर्ग
भारत गरीब नहीं ,आम जनता गरीब है ,देश का आधा खजाना सिर्फ 9 लोगो के पास
पीएम मोदी से लोग नाराज होते तो महागठबंधन की जरुरत क्यों पड़तीः अरुण जेटली
पैरोल रद्द होने से भड़के ओ पी चौटाला ,कहा दिग्विजय ने पीठ में घोंपा छुरा
साधना सिंह ने मांगी मांफी, -एफआईआर की चिट्ठी आते ही