Tuesday, November 13, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
कांग्रेस की गंदी राजनीति -कहा -दलित को बच्चों सहित जिंदा जलाने और 14 जनवरी 2018 को 12वीं कक्षा की दलित छात्रा से गैंगरेप को भुलाया नहीं जा सकता - रणदीप सुरजेवाला चेतावनी: हरियाणा सरकार हठधर्मिता छोडक़र किलोमीटर स्कीम को रद्द करते हुए कर्मचारियों पर एस्मा के तहत की गई उत्पीडऩ की सभी कार्यवाही वापिस नहीं ली तो आंदोलन लगातार जारी रहेगाहरियाणा में स्कूल-अस्पताल की बात करके विरोधियों को रणनीति बदलने के लिए मजबूर कर रहे केजरीवालअजय चौटाला के संघर्ष ने 9 से 32 तक पहुंंचाया था: दिज्विजय चौटालापुलिस ने 6 मार डकैतों को किया काबू, हरियाणा के अलावा पंजाब और उत्तराखंड में भी वारदातों को दे चुके अंजामघोटाला-कैथल शुगर मिल में चिप घोटाले व मुरम्मत बजट में हेराफेरी गरीब अधिकार रैली ने तोड़े पिछले सभी रैलियों के रिकॉर्ड,जींद उपचुनाव चुनाव की तारीख लेकर ही यहां हाजिर हो हरियाणा सरकार
Haryana

नांवा महापंचायत में पहुंचकर किसान दें अपनी एकता का परिचय: सांगवान

सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट | September 14, 2018 06:34 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

किसान महापंचायत को लेकर अनेकों गांवों में चलाया जनसपंर्क अभियान
नांवा महापंचायत में पहुंचकर किसान दें अपनी एकता का परिचय: सांगवान


सतनाली मंडी (प्रिंस लांबा)।

 

क्षेत्र के गांव नांवा में 16 सितंबर को आयोजित होने वाली किसान महापंचायत में अधिक से अधिक संख्या में किसानों कि उपस्थिति दर्ज करवाने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा के प्रतिनिधि मण्डल ने संयोजक दलीप सिह सांगवान के नेतृत्व में जनसंपर्क अभियान चलाया। इस अवसर पर उन्होंने नांवा, बासड़ी, जड़वा, ढाणी भालोठिया सहित अनेकों गावों का दौरा किया।

सांगवान ने किसानों से रूबरू होते हुए बताया कि सरकार द्वारा किसानों को उनकी उत्पादन लागत के बराबर भाव भी नहीं दिया जा रहा है। फिर भी सरकार द्वारा किसानों को लागत का डेढ़ गुणा भाव देने का भ्रामक प्रचार किया जा रहा है जो किसानों को बदनाम करने कि साजिश का हिस्सा है। हकीकत में चुनाव घोषणापत्र में वायदा करने के बावजूद भाजपा सरकार द्वारा स्वामीनाथन आयोग रिपोर्ट लागू न करने के साथ किसानों की अन्य मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया है। आज किसान भूखमरी की कगार पर पहुंच गया है। यही कारण है देश में आज हर 35 मिनट के बाद एक किसान आत्महत्या कर रहा है।

उन्होंने कहा कि देश के नीति नियंताओं को समझना होगा कि देश की खुशहाली खेत-खलिहानों से होकर गुजरती है। सरकार तुरंत स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने के साथ फसल बीमा योजना में सुधार, उत्तम खाद व बीज की उपलब्धता, हर खेत तक सिंचाई की सुविधा, आवारा पशुओं का प्रबंध जैसी किसानों की चिरप्रतिक्षित मांगों का स्थाई समाधान करे। जनसम्पर्क अभियान के दौरान उन्होंने किसानों से आह्वान करते हुए कहा कि वे गांव नांवा में 16 सितम्बर को आयोजित होने वाली किसान महापंचायत में पहुंचकर अपनी मांगों को मनवाने के लिए सरकार पर दबाव बनाएं व अपनी एकता का परिचय दें। इस अवसर पर सरपंच कृष्ण सिंह नांवा, लीला राम, किशन लाल मोदी, धर्मबीर सरपंच, राजेन्द्र तंवर, रणसिंह सूबेदार, बहादुर व राजपाल सहित बड़ी संख्या में किसान व ग्रामीण मौजूद थे।

 


फोटो कैप्शन: गांव में किसानों से मिलते किसान मोर्चा सदस्य।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
कांग्रेस की गंदी राजनीति -कहा -दलित को बच्चों सहित जिंदा जलाने और 14 जनवरी 2018 को 12वीं कक्षा की दलित छात्रा से गैंगरेप को भुलाया नहीं जा सकता - रणदीप सुरजेवाला
चेतावनी: हरियाणा सरकार हठधर्मिता छोडक़र किलोमीटर स्कीम को रद्द करते हुए कर्मचारियों पर एस्मा के तहत की गई उत्पीडऩ की सभी कार्यवाही वापिस नहीं ली तो आंदोलन लगातार जारी रहेगा
हरियाणा में स्कूल-अस्पताल की बात करके विरोधियों को रणनीति बदलने के लिए मजबूर कर रहे केजरीवाल
अजय चौटाला के संघर्ष ने 9 से 32 तक पहुंंचाया था: दिज्विजय चौटाला
घोटाला-कैथल शुगर मिल में चिप घोटाले व मुरम्मत बजट में हेराफेरी
गरीब अधिकार रैली ने तोड़े पिछले सभी रैलियों के रिकॉर्ड,
जींद उपचुनाव चुनाव की तारीख लेकर ही यहां हाजिर हो हरियाणा सरकार
सौरभ चौधरी (गोयल) को कलायत विधानसभा का प्रभारी बनाए जाने पर कार्यकर्ताओं में खुशी
गोगड़ीपुर सरपंच गीता रानी एवं राष्ट्रीय वाल्मीकि महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रणबीर सिंह भुम्बक हुए सम्मानित
कैथल में ग्रुप डी की परीक्षा के दौरान 2 उत्तर पुस्तिकाएं हुई गायब !