Tuesday, December 11, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
सैंकडो लोगों ने एकसुर में गुस्सा न करने की शपथ लीचुनाव परिणामों से कांग्रेस कार्यकर्ता गद्गद् ,भाजपा में निराशाबीजेपी को बनियों सहित सभी वर्गों ने सिखाया सबक- कैलाश सिंगलाकार्यकर्ताओं ने पांच राज्यों मे आए विधानसभा चुनावों के नतीजों पर मनाया जश्नअंकुश हत्या कांड का 7वां आरोपी गिरफ्तार, पुलिस को मिली बड़ी कामयाबीसड़क के किनारे पर सूखे पेड़ दे रहे हादसों को अंजाम, विभाग की ओर से नही दिया जा रहा ध्यान 30 साल का लड़का प्रदेश की राजनीति में बहुत धमाकेदार एंट्री मार गया ,दुष्यंत ने चाचा अभय को जींद में दी मात कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्ग
National

डिजिटल फाउन्डेशन के अन्य प्रदेशों से जुड़े तार, करोड़ों लेकर फरार

सुरजीत यादव | October 07, 2018 12:43 PM
सुरजीत यादव

डिजिटल फाउन्डेशन के अन्य प्रदेशों से जुड़े तार, करोड़ों लेकर फरार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, सहित कई शहरों में ठगों ने डिजीटल इंडिया के सपने को हिलाकर रख दिया है। इन ठगों का जाल इतना बड़ा है कि लखनऊ पुलिस भी कार्यवाही से कतराती नजर आ रही है। दिल्ली, मुंबई, बिहार, मध्य प्रदेश तक इनका जाल बिछा हुआ है।

 

तस्वीर में दिख रही महिला डिजिटल फाउन्डेशन की मैनेजर बतायी जा रही है। खबर है कि डिजिटल फाउन्डेशन मैनेजन अंशिका लड़कों से बड़े मीठी बोली पहले फंसाती थी बाद में जब इसे बेरोजगार युवाओं ग्राहक सेवा के खोलने के इस 25000 हजार का चेक दे देते थे तो यह महिला फोन नहीं उठाती थी। और युवाओं को बड़े गर्म मिजाज में धमकी थी। इस महिला की तार वहॉ की स्थानीय पुलिस से जुड़े होने की खबर है पुलिस शिकायतकर्ताओं को अश्वासन देती थी तुम्हारा पैसा वापस कर दिया जायेगा ठीक उससे पहले अंशिका नाम की महिला हजारों युवाओं से करोड़ों रूपये लेकर फरार है।


डिजिटल फाउन्डेशन नाम की यह कम्पनी अब हजारों लोगों को ठगी का शिकार बना चुकी है लेकिन लखनऊ पुलिस शिकायत के बाद भी कार्यवाही से कतरा रही है। आपकों बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन नाम की कम्पनी के मालिक गजेन्द्र सिंह और नीतू सिंह है।

 

इस तरह शुरू की संगठित ठगी
आपको बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन कम्पनी का एक बकाया बेबसाइट, मोबाइल अप्लीकेशन टोलफ्री नम्बर कम्पनी का टेड मार्क आई एसओ का प्रमाण पत्र संख्या जिससे देश के बेरोजगार विश्वास में आ जाते थे। और ग्राहक सेवा केन्द्र डिजिटल सेवा लेने के बैंक मित्र के साइट पर आवेदन करते थे। महिला कर्मचारी द्वारा आवेदक को लखनऊ के गाजीपु थाना क्षेत्र इन्द्रा नगर प्राइम प्लाजा के ऑफिस नम्बर 410 में जाते थे जहॉ चेक द्वारा कम्पनी के नाम डिजिटल सेवा देने के लिए 25000 रूपये वसूल किए जाते थे। आपको बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन नाम की कम्पनी युवाओं को ठगी शिकार बनाती रही है और सब सब इन्द्रानगर पुलिस के नाक नीचे होती रही है ।

Have something to say? Post your comment
More National News
कार्यकर्ताओं ने पांच राज्यों मे आए विधानसभा चुनावों के नतीजों पर मनाया जश्न
कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्ग
पृथला से जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द भरद्वाज सेकड़ो गाडी और बसों को लेकर जींद रैली में पहुँचे।
भूपेश रावत (पूर्व युवा महासचिव कांग्रेस) ने सुरेन्द्र तेवतिया की अगुवाई में सीएम खट्टर को गुलदस्ता देकर बीजेपी का दामन थामा।
आतंकवाद पर अंकुश लगाने में विफल रही भाजपा : शिल्पी गर्ग
सुरेन्द्र तेवतिया (चैयरमैन हरियाणा सरकार) 23 दिसम्बर को होने वाली मोहना रैली का गाँव गाँव जाकर निमंत्रण देते हुए।
पुलिस आयुक्त संजय सिंह ने बहादुर बहु - सास को 5000-5000 रुपए का इनाम देकर सम्मानित किया।
अनाज मण्डी में किसान, मजदूर व व्यापारी सम्मेलन का आयोजन, हिमाचल के राज्यपाल ने बतौर मुख्यातिथी की शिरकत किसान रसायनिक खेती की बजाये प्राकृतिक खेती के तरीके अपनाएं:- आचार्य देवव्रत
राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद का जन्मदिन नरवाना में मनाया
विद्या रानी दनोदा ने किए गांवों के दौरे