Monday, December 10, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
30 साल का लड़का प्रदेश की राजनीति में बहुत धमाकेदार एंट्री मार गया ,दुष्यंत ने चाचा अभय को जींद में दी मात कांग्रेस की सरकार आने पर नही रहेगी हल्के मे कोई भी समस्या बाकी : संदीप गर्गपॉजिटिव विचार है खुशहाल जीवन का आधार - ब्रहमाकुमार ओंकार चंदपृथला से जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द भरद्वाज सेकड़ो गाडी और बसों को लेकर जींद रैली में पहुँचे।सादलपुर-सिवानी रूट पर आज ट्रेनें रहेगी बाधित आम जनता के लिए पर्याप्त ट्रेनें व बसें भी उपलब्ध नहीं करवा पा रही सरकारें, वीआईपी सुविधाओं पर इतना खर्च क्यों व कब तक ?भारत में दो प्रधानमंत्रियों को छोड़कर जितने भी प्रधानमंत्री हुए है वो मुस्लमान ही हुए है:दिनेश भारती बिजली निगमों के लिए दिसंबर माह एक ऐतिहासिक माह : शत्रुजीत कपूर
Haryana

22 वर्षों बाद भाजपा ने ही करवाए छात्र संघ चुनाव बहाल

सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट | October 10, 2018 06:18 PM
सतनाली से प्रिंस लांबा की रिपोर्ट

22 वर्षों बाद भाजपा ने ही करवाए छात्र संघ चुनाव बहाल
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद प्रदेश के हर कॉलेज में लड़ेगा चुनाव
चुनाव बहाली पर मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री का जताया आभार


महेंद्रगढ़ (प्रिंस लांबा)।

 

हरियाणा में 22 वर्षों के बाद छात्र संघ के चुनाव बहाल हुए हैं। इनसे पहले एनएसयूआई व इनसो से जुड़ी सरकारों ने 16 वर्षों तक हरियाणा प्रदेश में राज किया। वह अपने कार्यकाल में छात्र संघ के चुनाव बहाल नहीं करवा पाए। भाजपा सरकार ने यह साहसिक कदम उठाया है। अब हरियाणा में छात्र संघ के चुनाव 17 अक्तूबर को होने जा रहे हैं। इन चुनावों में हर कॉलेज में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपना उम्मीदवार मैदान में उतारेगी। यह बात एबीवीपी के जिला प्रमुख सचिन महायच ने बुधवार को महेंद्रगढ़ रेस्ट हाउस में छात्र संघ चुनाव के मद्देनजर प्रेस वार्ता में कही।

उन्होंने कहा कि 22 वर्षों के बाद हरियाणा में छात्र संघ के चुनाव बहाल हुए हैं। जिसके लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सरकार के इस सराहनीय कदम का स्वागत करती है। 22 वर्षों से ही निरंतर हमारी मांग प्रत्यक्ष छात्र संघ चुनाव के लिए रही है। हम अपनी मांग पर आज भी अडिग हैं कि सरकार राज्य में प्रत्यक्ष चुनाव कराए। लेकिन सरकार का निर्णय अप्रत्यक्ष चुनाव के लिए आया है। हम अन्य छात्र संगठनों की भांति चुनाव का विरोध नहीं करेंगे तथा चुनाव में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे। आपने देखा होगा कि 22 वर्षों से निरंतर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्र संघ चुनाव के लिए संघर्ष किया है। चाहे वर्ष 2010 में छात्र महापंचायत हो, चाहे 2012 में हरियाणा विधानसभा का घेराव हो तथा चाहे तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आवास का घेराव हो। अभाविप ने हर स्तर पर विद्यार्थी के लिए लड़ाई लड़ी है। जिस का सफल परिणाम है कि हरियाणा में छात्र संघ के चुनाव बहाल हुए है। जिनकी तारीख 17 अक्टूबर निश्चित की गई है।

उन्होंने अन्य छात्र संगठनों को जिनमें मुख्य रूप से एनएसयूआई व इनसो शामिल हैं, को कहा कि 16 वर्षों तक हरियाणा राज्य में आप की सरकारें रही। उस समय छात्र संघ के चुनाव बहाल क्यों नहीं कराए गए? उसका भी हमारे पास ही जवाब है क्योंकि उन्हें अपनी परिवारवाद और वंशवाद की राजनीति खिसकने का डर है। दूसरी ओर अभाविप सामान्य से सामान्य कार्यकर्ता को साथ लेकर 365 दिन कैंपस में काम करता है। उनके अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ता है तथा उनकी समस्याओं को समाधान की ओर ले जाता है। जिनके बल पर ही हम छात्र संघ चुनाव में भाग लेंगे और जिले के सभी महाविद्यालयों में भगवा परचम लहराएंगे। उन्होंने छात्र संघ के चुनाव बहाली के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल व शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा का आभार जताया। इस मौके पर अभाविप के जिला संयोजक प्रवेश कौशिक, नगर मंत्री कर्मपाल यादव, पूर्व केंद्रीय विश्वविद्यालय अध्यक्ष अभाविप छात्र नेता नरेश यादव, नगर उपाध्यक्ष विकास व पूर्व नगर मंत्री अंकित मिश्रा मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
30 साल का लड़का प्रदेश की राजनीति में बहुत धमाकेदार एंट्री मार गया ,दुष्यंत ने चाचा अभय को जींद में दी मात
गांव मांगना स्थित मां बाला सुंदरी मंदिर में हुई मूर्ति स्थापना मुख्यातिथी की तौर पर संदीप ओंकार ने की शिरकत
गांव मांगना स्थित मां बाला सुंदरी मंदिर में हुई मूर्ति स्थापना मुख्यातिथी की तौर पर संदीप ओंकार ने की शिरकत
ईसहाक फार्म से काफी संख्या में लोग हुए कांग्रेस पार्टी में शामिल हमेशा की तरह पार्टी में शामिल कार्यकर्ताओं को दिया जाएगा पृूरा मान सम्मान:-मनदीप च_ा
जिप सदस्य ने माजरी कलां स्कूल में लिया विकास कार्य का जायजा स्कूल एक मंदिर है, जिसका रखरखाव रखना हमारा नैतिक दायित्व:- सुरेन्द्र माजरी
गांव मांगना स्थित मां बाला सुंदरी मंदिर में हुई मूर्ति स्थापना मुख्यातिथी की तौर पर संदीप ओंकार ने की शिरक
पॉजिटिव विचार है खुशहाल जीवन का आधार - ब्रहमाकुमार ओंकार चंद
सादलपुर-सिवानी रूट पर आज ट्रेनें रहेगी बाधित
आम जनता के लिए पर्याप्त ट्रेनें व बसें भी उपलब्ध नहीं करवा पा रही सरकारें, वीआईपी सुविधाओं पर इतना खर्च क्यों व कब तक ?
भारत में दो प्रधानमंत्रियों को छोड़कर जितने भी प्रधानमंत्री हुए है वो मुस्लमान ही हुए है:दिनेश भारती