Sunday, March 24, 2019
BREAKING NEWS
10 के सिक्के नहीं लेने पर एफआईआर—-आरबीआई के टोल फ्री नंबर 144040फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाईजिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कीविकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहालहर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ कुलदीप बिश्रोई की गैर-मौजूदगी सेचली भाजपा में जाने की चर्चाएंलिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम लेबिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी

Haryana

भिवानी के सिविल अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत पर परिजनों ने किया जम कर हंगामा, चिकित्सकों पर लगाया लापरवाही का आरोप

January 12, 2019 07:35 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

भिवानी के सिविल अस्पताल में जच्चा-बच्चा की मौत पर परिजनों ने किया जम कर हंगामा, चिकित्सकों पर लगाया लापरवाही का आरोप

भिवानी।(अटल हिन्द न्यूज ) भिवानी के सिविल अस्पताल में एक गर्भवती महिला की मौत ने स्वास्थ्य विभाग पर एक बार फिर बड़े सवाल खड़े किये हैं। गर्भवती महिला व उसके बच्चे की संदिग्ध मौत पर परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही के आरोप लगाते हुए स्वास्थ्य विभाग से कार्यवाई की मांग को लेकर हंगामा किया। हालांकि चिकित्सकों ने लापरवाही के आरोपों को नकारते हुए महिला की मौत दौरा पडऩे से बताई है। बताया जाता है कि स्थानीय खाड़ी मौहला निवासी 19 वर्षिय गर्भवती महिला नीतू को कल शुक्रवार को चौधरी बंसीलाल सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। परिजनों का आरोप है कि नीतू को प्रस्सुति वार्ड में भर्ती करने के बाद ना तो जांच की गई और ना ही कोई देखभाल की गई। परिजनों ने कहा कि चिकित्सकों ने आज दोपहर बाद अचानक आपातकाल में भर्ती किया और हालात खराब होने की बात कहकर रोहतक पीजीआई रेफर करने लगे। तभी कुछ देर बाद ही जच्चा व बच्चा की मौत हो गई। मृतक नीतू के मामा कुलदीप व पति अशोक ने स्वास्थ्य मंत्री से चिकित्सकों के खिलाफ कार्यवाई की मांग की है ताकि आगे किसी के साथ ऐसा हादसा ना हो। वहीं, आपातकाल के चिकित्सक नीतेश गोयल ने परिजनों के आरोपों को नकारते हुए कहा कि नीतू व उसके बच्चे की पूरी तरह से देखभाल व इलाज किया गया था, लेकिन अचानक दौरा पडऩे से जच्चा व बच्चा की मौत हो गई। उन्होने कहा कि मौत के बाद अक्सर परिजन सदमा सहन नहीं कर पाते और ऐसे आरोप लगाते हैं।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा

दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाई

कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की

विकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहाल

हर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ

लिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम ले

करनाल पुलिस से मुठभेड़ में 05 लाख का ईनामी बदमाश ढ़ेर

गुहला के बदसूई में मंदिर-गुरुद्वारे की दीवार को लेकर खूनी संघर्ष, एक की मौत, 18 घायल

बच्चे बच्चे के दिल में तूफान होना चाहिए,,,,,, एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम से गूंजा नरवाना ठंडी हवाओं में, तारों की छावं में, श्रोताओं ने देर रात तक उठाया आनन्द।

रैली या सभा के लिए 48 घंटे पूर्व सम्बन्धित एआरओ के पास करना होगा ऑनलाईन आवेदन-शरणदीप कौर बराड़