Wednesday, January 16, 2019
Follow us on
Haryana

लोहारू-डिलीवरी के बाद महिला की मौत, सरकार की चिकित्सा सुविधाओं को ठेंगा, ग्रामीणों में रोष

अटल हिन्द ब्यूरो | January 12, 2019 07:45 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

लोहारू-डिलीवरी के बाद महिला की मौत, सरकार की चिकित्सा सुविधाओं को ठेंगा, ग्रामीणों में रोष

सोहांसरा का पीएचसी स्टाफ नर्सों के हवाले

लोहारू( प्रमोद सैनी) सोहांसरा स्थित पीएचसी में डिलीवरी के बाद एक 35 वर्षीय सिंधु देवी की मौत का मामला प्रकाश में आया है। इस प्रकार की घटना ने प्रदेश सरकार के चिकित्सा सुविधाओं के दावों की पोल खुलकर सामने आई है और यह घटना सरकारी तंत्र और सरकार की चिकित्सा सुविधाओं को ठेंंगा दिखाने के समान है वहीं ग्रामीणों में भी इस बात को लेकर रोष है कि सोहांसरा स्थित पीएचसी में एक भी चिकित्सक नहीं होने के कारण यहां का पीएचसी कथित तौर पर सिर्फ स्टाफ नर्स के हवाले है। ग्रामीणों की मांग है कि पीएचसी मेें सरकार या तो चिकित्सक उपलब्ध करवाए नहीं तो इसे ताला लगा दे।  

उल्लेखनीय है कि प्रदेश की सरकार लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा देने का दम भर रही है परन्तु हकीकत को पैमाने पर रखा जाए तो ढाक के तीन पात हैं यही हाल सोहांसरा के पीएचसी का है जहां पर कथित तौर पर एक भी चिकित्सक नहीं है जिसका खामियाजा शनिवार को एक महिला को डिलीवरी के बाद जान देकर चुकाना पड़ा इस प्रकार की घटना से सिस्टम पर सवाल उठने लाजमी हैं। बता दें कि करीब एक माह पूर्व डिप्टी सीएमओ डा संध्या गुप्ता ने भी लोहारू सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का औचक निरीक्षण कर असंतोष व्यक्त किया था उस दिन भी प्रशासन हरकत में आ जाता तो आज एक महिला की जान को बचाया जा सकता था। बहरहाल इस घटना के बाद ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर है और उन्होंने सोहांसरा की पीएचसी में चिकित्सक भेजने की मांग की है। 

बाक्स: इस घटना के बारे में लोहारू सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की प्रभारी डा कल्पना चतुर्वेदी ने बताया कि उनको सोहांसरा स्थित पीएचसी की स्टाफ नर्स से जानकारी मिली है कि सुबह चार बजे के करीब एक सिंधु देवी नामक महिला निवासी ढाणी कुम्हारान  डिलीवरी के लिए अपने परिजनों के साथ आई थीं बताया डिलीवरी होने के बाद उसकी बेचैनी बढ़ गई जिसके बाद महिला को भिवानी के लिए रेफर कर दिया गया जहां बीच रास्ते में महिला की मौत हो गई भिवानी पहुंचने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया गया जहां से मृतक महिला का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को दे दिया गया है। महिला की मौत के कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोट आने के बाद ही पता चल पाएगा। उन्होंने बताया कि स्टाफ नर्स ने उनको बताया कि महिला के इससे पहले तीन बेटियां थी और आज भी चौथी संतान बेटी के रूप मेेें पैदा हुई जिसके कारण वह सदमे में थी। 

बाक्स: पीएचसी सोहांसरा के चिकित्सक पंकज कुमार से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया कि वे डेपुटेशन पर भिवानी अपनी सेवाऐं दे रहेे हैं इसे बारे में उनके पास कोई जानकारी नहीं हैं इसके बारे मेें सीएचसी लोहारू की इंचार्ज डा कल्पना चतुर्वेदी से बात की जाए। बता दें कि सोहांसरा के चिकित्सक कई दिनों से डेपुटेशन पर भिवानी हैं उनके यहां से डेपुटेशन होने के बाद चिकित्सक का पद खाली पड़ा है जिसे ग्रामीणों ने शीघ्र्र भरने की मांग की है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
कृष्ण की बाल लीलाएँ अद्भुत व शिक्षाप्रद - कथाव्यास अमृता
भारी मतों से विजयी होंगे रणदीप सुरजेवाला - सतबीर दबलैन
हरियाणा के छोरे पर्वतारोही सचिन दनोदा को मिलेगा जय हिंद ह्यूमैनिटी अवार्ड
सरकार ने भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कारवाही नहीं की तो हरियाणा बंद किया जाएगा - बजरंग गर्ग
जींद चुनाव में मांगे राम गुप्ता सबसे बड़ा चेहरा ,,पार्टियों के उम्मीदवार शून्य
देखे -विडिओ --इनैलो -बसपा को लिया मतदाताओं के आड़े हाथों
जींद में इनेलो को बड़ा झटका, दलबीर खरब ने इनेलो छोड़ जेजेपी का थामा हाथ
शराबी ट्रक चालक की धुनाई लापरवाही से चलाते हुए साईड में खड़ी दो मोटरसाईकिलों को किया क्षतिग्रस्त
घरौंडा-आधा दर्जन असंतुष्ठ पार्षद कर सकते है वापसी।
चाचा-भतीजों को जींद में वोट मांगने का अधिकार नहीं-सम्पत