Wednesday, October 24, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
नीलोखेडी में ज्वैलर्स की गोली मार की हत्या, आरोपी फराररावमावि सतनाली में सडक़ सुरक्षा प्रतियोगिता का हुआ आयोजनवरिष्ठ पत्रकार डॉ. एलसी वालिया का निधनधर्म का आदि स्रोत वेद के सिवाय कोई नहीं, आओ लोट चले पुन: वेदों की ओर: महन्त शुक्राईनाथस्वदेशी दिपावली के प्रति समाज को जागरूक करने के लिए चलाई मुहिम, बच्चों को दिलाई शपथजींद में 23 वर्षीय विवाहिता ने ट्रेन के सामने कूदकर किया सुसाइड, पति और ससुर पर मामला दर्जअग्रोहा की खुदाई के लिए भारत सरकार से रेजुलेशन पास करवाएंगे- डाॅ चंद्राशिक्षा भारती विद्यालय में बच्चों व शिक्षकों को दिलवाया स्वदेशी दिपावली मनाने का संकल्प
World

पत्रकार मुश्किल में ,,दी थी पाकिस्तानी सेना और सरकार के बीच मतभेद की खबर

October 11, 2016 02:20 PM

पत्रकार मुश्किल में ,,दी थी  पाकिस्तानी सेना और सरकार के बीच मतभेद की खबर 

 
 

इस्लामाबाद। द डॉन के स्तंभकार और संवाददाता सायरिल अलमीडा ने ट्वीट करके कहा कि उन्हें ‘निकास नियंत्रण सूची’ में रखा गया है। यह पाकिस्तान सरकार की सीमा नियंत्रण की व्यवस्था है, जिसके तहत सूची में शामिल लोगों को देश छोड़ने से रोका जाता है। एक अहम बैठक में सैन्य और असैन्य नेतृत्व के बीच दरार की खबर देने वाले एक प्रसिद्ध पत्रकार को देश छोड़ने से रोक दिया गया है। इस बैठक में सरकार की तरफ से आईएसआई को कथित तौर पर कहा गया था कि आतंकी समूहों को उसके समर्थन के कारण देश वैश्विक रूप से अलग-थलग पड़ रहा है।पत्रकार मुश्किल में ,,दी थी  पाकिस्तानी सेना और सरकार के बीच मतभेद की खबर 



Have something to say? Post your comment
More World News
एनआरआई पति ने लंदन जाकर की दूसरी शादी, न्याय को भटक रही पहली पत्नी
दिल्ली गुरूदवारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष एवं अकाली दल बादल के नेता मनजीत सिंह जी पर अमेरिका में दूसरा हमला
पकिस्तान भी हरियाणा का दीवाना , स्मार्ट सिटी, कृषि, अवसंरचना विकास और निर्यात के क्षेत्र में गहरी रुचि दिखाई
इंडो कनाडा चेंबर ऑफ कार्मस (ई.सी.सी.सी.) के शिष्टïमंडल ने मनोहर लाल से भेंट की
Logic behind illogical behaviour of Kim Jong
विश्व बैंक रिपोर्ट एक ठंडी हवा का झोंका बनकर आई है
तीन पन्नो का वो गुमनाम पत्र जिसने सन्त गुरमीत राम रहीम जैसे रावण की लंका को फूंक दिया!!
भारत के नेताओ को इस महिला का करारा जबाब श्री नगर के लाल चौंक से , अंगों के प्रत्यारोपण के मामले में भारत दुनिया में दूसरे स्थान पर: डॉ. वाहिद
कोविंद बने भारत के महामहीम