Wednesday, August 22, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
जिलास्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता में मॉनटेसरी स्कूल के छात्र हितेष ने जीता सिल्वर मेडलगांव के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर पौधारोपण कर पूर्व प्रधानमंत्री को दी श्रद्धांजलिअभाविप महेंद्रगढ़ द्वारा सभा का आयोजन कर अटल बिहारी वाजपेई को दी श्रद्धांजलिबकरीद के त्योहार को शान्तिपूर्ण ढंग से मनायें, अफवाहो पर न दे ध्यान-जिलाधिकारीअमेठीः समय से आय जाति निवास में लेखपाल नहीं लगा रहे रिपोर्ट, स्कॉलरशिप से छूट सकते हैं छात्रझूठे झमेले फैलाकर समाज में फूट डालने का कार्य कर रहे हैं नशाखोर भगवांधारीगांव जाट में किया गया मेले का आयोजन, विभिन्न खेल प्रतियोगिताएं संपन्ननरवाना-दो हजार ने नशा को की ना, नशा न करने का लिया संकल्प
Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश न्यायपालिका हुई दागदार ,40 हजार रिश्वत लेता धरा जज

February 01, 2017 09:12 PM

हिमाचल प्रदेश न्यायपालिका हुई दागदार 

प्रदेश में पहला मामला दर्ज

जज ने 40 हजार में बेच डाला ईमान 

रंगे हाथो 40 हजार रिश्वत लेता धरा जज 

एन.आई.ए. एक्ट के तहत सुंदरनगर  न्यायलय में चल रहे मामले में प्राथी से मांगी रिश्वत 

जज की पुर्व कोर्ट कार्रवाही पर सवालिया निसान पैसा बड़े बड़ो का ईमान बिगाड़ देता है। यह कहावत आज एक बार फिर से चरितार्थ हुई है। हिमाचल प्रदेश न्यायिक सेवा में कार्यरत जज ने न्यायपालिका को ही दागदार कर दिया है। यह हिमाचल प्रदेश जयुड्सरी में अपनी तरह का पहला मामला है जिसमे मंडी जिला के सुंदरनगर न्यायलय में कार्यरत सीनियर जज ने  चालीस हजार में अपने ईमान की बोली लगा डाली। विजलेंस टीम ने गौरव शर्मा को रंगे हाथो 40 हजार रिश्वत लेता पकड़ा  है। 

प्राप्त जानकारी अनुसार जज गौरव शर्मा की अदालत में  एन.आई.ए. एक्ट के तहत एक व्यक्ति के लाखो रूपए के विभिन्न मामले चले हुए थे।जिन्हे जल्द निपटाने की एवज में जज ने प्राथी को अपने चैंबर में बुलाया और उससे 40 हजार रूपए रिश्वत की मांग की और उसे अपना मोबाइल नंबर भी दिया । काफी दिन बीत जाने पर जब प्राथी ने जज से सम्पर्क ना किया तो जज ने खुद ही उससे सम्पर्क कर उसे 2 दिनों के भीतर उसके के निवास पर देर शाम 40 हजार पहुचाने की मांग की । मामला हाई प्रोफाईल व न्यायपालिका से सबंधित होने के चलते शिकायत कर्ता ने शिमला मुख्यालय में डी.आई. जी. अरविन्द शारदा को पुरे मामले की 

जानकारी दी जिन्होंने मंडी रेज के एस.पी.विजलेंस कपिल शर्मा को कार्रवाही ने आदेश दिए जिस पर डी.एस.पी.अभिमन्यु वर्मा  की अगुवाई में एक 14 सदस्यीय  टीम गठित की गई जिसमे निरिक्षक राम देव,

राज कुमार ,ओम प्रकाश,एस.आई.संदीप,सुन्दर सिंह,एच.सी.हुक्म सिंह ,रमेश,धर्मेन्द्र, लेडी कांस्टेबल हेम लता,दया,

पायलट हीरा लाल, रेवन्यू ऑफिसर संजय कुमार,  तहसीलदार मनोज कुमार   ने  सभी तथ्यो की गहन छानबीन उपरांत जज गौरव शर्मा को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए उनके सरकारी आवास से पकड़ा । जिन्हें बुधवार को पेश किया जाएगा। 

 

जज की पुर्व कोर्ट कार्रवाही पर सवालिया नि

जानकारी अनुसार जज गौरव शर्मा की अदालत में  एन.आई.ए. एक्ट के तहत एक व्यक्ति के लाखो रूपए के विभिन्न मामले चले हुए थे।जिन्हे जल्द निपटाने की एवज में जज ने प्राथी को अपने चैंबर में बुलाया और उससे 40 हजार रूपए रिश्वत की मांग की और उसे अपना मोबाइल नंबर भी दिया । काफी दिन बीत जाने पर जब प्राथी ने जज से सम्पर्क ना किया तो जज ने खुद ही उससे सम्पर्क कर उसे 2 दिनों के भीतर उसके के निवास पर देर शाम 40 हजार पहुचाने की मांग की । मामला हाई प्रोफाईल व न्यायपालिका से सबंधित होने के चलते शिकायत कर्ता ने शिमला मुख्यालय में डी.आई. जी. अरविन्द शारदा को पुरे मामले की 

सान 

 उक्त जज गौरव शर्मा सुंदरनगर से पुर्व मनाली में भी सेवाए दे चूका है और पिछले एक वर्ष से ज्यादा समय से सुंदरनगर में सेवाए दे रहा था। प्राप्त जानकारी अनुसार उक्त जज पहले भी इसी तरह से समय समय पर चुनिंदा अधिवक्ताओ ,प्रथियो सहित अन्य लोगो को अकेले अपने चैंबर व घर में बुलाता था। जिससे पुर्व में  उक्त जज द्वारा न्यायलय में की गई तमाम कार्रवाही पर सवालिया निसान खड़े हो गए है।

जानकारी अनुसार जज गौरव शर्मा की अदालत में  एन.आई.ए. एक्ट के तहत एक व्यक्ति के लाखो रूपए के विभिन्न मामले चले हुए थे।जिन्हे जल्द निपटाने की एवज में जज ने प्राथी को अपने चैंबर में बुलाया और उससे 40 हजार रूपए रिश्वत की मांग की और उसे अपना मोबाइल नंबर भी दिया । काफी दिन बीत जाने पर जब प्राथी ने जज से सम्पर्क ना किया तो जज ने खुद ही उससे सम्पर्क कर उसे 2 दिनों के भीतर उसके के निवास पर देर शाम 40 हजार पहुचाने की मांग की । मामला हाई प्रोफाईल व न्यायपालिका से सबंधित होने के चलते शिकायत कर्ता ने शिमला मुख्यालय में डी.आई. जी. अरविन्द शारदा को पुरे मामले की 


हाई कोर्ट की अंनुमति उपरांत विभाग द्वारा कार्रवाही की गई है । यह कार्रवाही पूर्णतया गुप्त रखी गई थी । जज को रंगे हाथो 40 हजार की रिश्वत लेंते पकड़ने जाने उपरांत हिरासत में ले लिया गया है। 

-अभिमन्यु वर्मा,डी.एस.पी.विज़लेंस मंडी जोन

Have something to say? Post your comment
More Himachal Pradesh News
एक ही गांव की जली 19 अर्थियां, किसी के 4 तो किसी के 2 बच्चों की मौत
हथियारों के सप्लायर समेत पांच युवक अवैध हथियारों सहित काबू
सीआईए फतेहाबाद पुलिस को मिली बडी कामयाबी:
कांग्रेस नेता के घर से उड़ाए लाखों के जेवरात और नगद
संकट में हिमाचल का गत्ता उद्योग, तीन माह में आधा दर्जन उद्योग बंद
धर्मशाला,किसानों को सिंचाई की बेहतर सुविधायें देना सरकार की प्राथमिकता: सुधीर
रितिका ने स्वरोजगार से दिखाया आत्मनिर्भरता का रास्ता
धर्मशाला,परिवहन मंत्री ने किया कैशलेस टिकेटिंग सुविधा का शुभारम्भ
आंतकी आबिद की जमानत याचिका खारिज??
कदम और एक्सयन ऐड के सहयोग से हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब में तीन दिवसीय विकास विद्यालय कार्यशाला सम्पन्न