Saturday, October 20, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
ब्रेकिंग-पंजाब के अमृतसर से दशहरे के दिन बड़े हादसे की ख़बर ,शोक में बदलीं विजयदशमी की खुशियाँअहीर रेजिमेंट यादव समाज का स्वाभिमान व अधिकार, केंद्र सरकार जल्द से जल्द करे इसका गठन: कुलदीप यादवरोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में बिजली कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ किया विरोध-प्रदर्शनखालड़ा फेन जनसेवा ग्रुप द्वारा सम्मान समारोह में उत्कृष्ट खिलाडिय़ों को किया सम्मानितदुर्गा अष्टमी पर कन्या पूजा व भोजन ग्रहण करने के लिए श्रद्धालु ढूंढ़ते रहे कन्याएं!जयकरण शास्त्री नांगलमाला को मिलेगा बुलंद आवाज अवार्ड, 2018पहाड़ी माता का विशाल जागरण आजसमाजसेवी ओमशिव कौशिक को पितृशोक
Himachal Pradesh

धर्मशाला,परिवहन मंत्री ने किया कैशलेस टिकेटिंग सुविधा का शुभारम्भ

एएच ब्यूरो | March 16, 2017 06:02 PM
एएच ब्यूरो

परिवहन मंत्री ने किया कैशलेस टिकेटिंग सुविधा का शुभारम्भ
धर्मशाला, 15 मार्च: हिमाचल पथ परिवहन निगम ने अपनी बसों में सफर को कैशलेस बनाने के लिए एक और पहल करते हुए प्वाइंट ऑफ सेल मशीनें लगाने की शुरूआत की है। प्रारंभिक चरण में ये मशीनें एचआरटीसी की सुपर लक्जरी एवं वातानुकूलित बसों में तथा टिकट आरक्षण केंद्रों में उपलब्ध करवाई जा रही हैं। परिवहन मंत्री जी.एस.बाली ने आज धर्मशाला में एचआरटीसी के लिए इस कैशलेस टिकट सुविधा का शुभारंभ किया। इस दौरान एचडीएफसी बैंक के राष्ट्रीय प्रमुख नवीन पुरी भी उनके साथ उपस्थित रहे। एचआरटीसी निजी क्षेत्र के अग्रणी बैंक एचडीएफसी के सहयोग से यह प्रणाली लागू कर रही है।
जी.एस.बाली ने कैशलेस टिकट सुविधा के शुभारंभ के उपरांत पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि यात्रियों की सुविधा के लिए आरंभ में 200 सुपर लक्जरी, वातानुकूलित एवं डीलक्स बसों में प्वाइंट ऑफ सेल मशीनों की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके उपरांत लंबी दूरी की समान्य बसों में यह सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा 58 टिकट आरक्षण कंद्रों पर यह सुविधा शुरू की गई है। इससे यात्री क्रेडिट अथवा डेबिट कार्ड से टिकट खरीद सकते हैं और इसके लिए उन्हेें कोई अतिरिक्त भुगतान नहीं करना होगा। उन्होंने कहा कि बस कंडक्टरों को मशीनें चलाने की टेªनिंग दी जाएगी, जिसमें एचडीएफसी का सहयोग अपेक्षित है।
परिवहन मंत्री ने कहा कि अभी सभी बसों में मैनूअल टिकट व्यवस्था भी जारी रहेगी, ताकि किसी को भी असुविधा न हो। उन्हांेने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के रूटों पर अभी प्वाइंट ऑफ सेल मशीनों की व्यवस्था शुरू नहीं की जाएगी।
उन्होंने कहा कि एचआरटीसी पहले से ही टिकटों की ऑनलाईन बुकिंग सुविधा प्रदान कर रही है।
जी.एस.बाली ने कहा कि खाद्य आपूर्ति निगम के सभी डिपुओं में भी प्वाइंट ऑफ सेल मशीनें उपलब्ध करवाने की दिशा में प्रभावी कदम उठाए गए हैं। वर्तमान में निगम के कुल 289 थोक बिक्री केंद्रों, उचित मूल्य की दुकानों, परचून व दवाई दुकानों, गैस एजेंसियों और पेट्रोल पंपों में से 119 इकाइयों में प्वाइंट ऑफ सेल मशीनें उपलब्ध करवा दी गई हैं। शेष 170 इकाइयों में शीघ्र यह सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होेंने कहा कि धर्मशाला में कुल 41 इकाइयों में से 20 में, हमीरपुर में 24 में से 20, मंडी में 48 मे से 26, शिमला में 101 मेें से 40, सोलन में 27 में से 13 इकाइयों में प्वाइंट ऑफ सेल मशीनें उपलब्ध करवा दी गई हैं तथा चम्बा और नाहन में शीघ्र ही मशीनें दे दी जायेंगी।
इस दौरान एचडीएफसी बैंक के राष्ट्रीय प्रमुख नवीन पुरी ने कहा कि एचआरटीसी की बसों में लागू की जा रही प्रणाली में विश्व स्तर की तकनीक इस्तेमाल की गई है। उन्होंने कहा कि एचडीएफसी बैंक विभाग के साथ मिलकर बेहतर सेवायें देने के लिए कार्य करेगा।
इस अवसर पर एचआरटीसी के निदेशक मंडल के सदस्य, पूर्व विधायक सुरेन्द्र काकू व निखिल राजौर, एचआरटीसी के प्रबन्ध निदेशक अशोक तिवारी, एडीएम बलवीर ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस समिति के सचिव अजय वर्मा, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष नगरोटा बगवां मान सिंह, उपमंडलीय प्रबन्धक खाद्य आपूर्ति विभाग जेपी वशिष्ठ, आरएम पंकज चढ्डा, एचडीएफसी बैंक के अन्य पदाधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment
More Himachal Pradesh News
एक ही गांव की जली 19 अर्थियां, किसी के 4 तो किसी के 2 बच्चों की मौत
हथियारों के सप्लायर समेत पांच युवक अवैध हथियारों सहित काबू
सीआईए फतेहाबाद पुलिस को मिली बडी कामयाबी:
कांग्रेस नेता के घर से उड़ाए लाखों के जेवरात और नगद
संकट में हिमाचल का गत्ता उद्योग, तीन माह में आधा दर्जन उद्योग बंद
धर्मशाला,किसानों को सिंचाई की बेहतर सुविधायें देना सरकार की प्राथमिकता: सुधीर
रितिका ने स्वरोजगार से दिखाया आत्मनिर्भरता का रास्ता
हिमाचल प्रदेश न्यायपालिका हुई दागदार ,40 हजार रिश्वत लेता धरा जज
आंतकी आबिद की जमानत याचिका खारिज??
कदम और एक्सयन ऐड के सहयोग से हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब में तीन दिवसीय विकास विद्यालय कार्यशाला सम्पन्न