Wednesday, August 22, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
जिलास्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता में मॉनटेसरी स्कूल के छात्र हितेष ने जीता सिल्वर मेडलगांव के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर पौधारोपण कर पूर्व प्रधानमंत्री को दी श्रद्धांजलिअभाविप महेंद्रगढ़ द्वारा सभा का आयोजन कर अटल बिहारी वाजपेई को दी श्रद्धांजलिबकरीद के त्योहार को शान्तिपूर्ण ढंग से मनायें, अफवाहो पर न दे ध्यान-जिलाधिकारीअमेठीः समय से आय जाति निवास में लेखपाल नहीं लगा रहे रिपोर्ट, स्कॉलरशिप से छूट सकते हैं छात्रझूठे झमेले फैलाकर समाज में फूट डालने का कार्य कर रहे हैं नशाखोर भगवांधारीगांव जाट में किया गया मेले का आयोजन, विभिन्न खेल प्रतियोगिताएं संपन्ननरवाना-दो हजार ने नशा को की ना, नशा न करने का लिया संकल्प
Rajasthan

एस एम सहगल फाउंडेशन द्वारा अलवर में विकास सम्मलेन का आयोजन किया गया

एएच ब्यूरो | March 24, 2017 02:55 PM
एएच ब्यूरो

विकास सम्मलेन में विकास की कहानियों की पुस्तिका का विमोचन- मार्च 24, 2017

 एस एम सहगल फाउंडेशन द्वारा अलवर में विकास सम्मलेन का आयोजन  किया गया

एस एम सहगल फाउंडेशन द्वारा अलवर में स्थापित ग्रामीण सूचना और सहायता समूहों के सदस्यों को एक दूसरे के साथ अपने अनुभवों और उपलब्धियों को साँझा करने व एक दूसरे के अनुभवों से सीख लेने के लिए 24 मार्च को विकास सम्मलेन का आयोजन अलवर में किया गया.

इस मौके पर मुख्य अतिथि श्री पी.सी मीणा- उप निदेशक, कृषि, अलवर  ने ग्रामीण सूचना और सहायता समूहों के सामूहिक प्रयासों पर आधारित सफलता की कहानियों की पुस्तक का विमोचन किया.साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जो कृषि विकास, जल प्रबंधन कार्यक्रम व योजनायें सरकार द्वारा चलाई जा रही है उनका किसानों को अधिक से अधिक प्रयोग करना चाहिए.

 

 इस अवसर रितु राघव- महिला सुरक्षा एवं सलाकार ने महिलाओं को जागरूक होने और सशक्त बनने को कहा ताकि वह अपने अधिकारों को समझे  और अपनी पहचान बना सके.

 सम्मलेन में श्री नवल खा- सामाजिक न्याय विभाग, अलवर, सामुदायिक रेडियो अलवर की आवाज़ से श्री अशोक सुनहल –स्टेशन प्रमुख ने भी शिरकत की.

 सम्मेलन में जिले की लगभग 125 महिलाऐ ने शिरकत की जिसमें पंचायत की निर्वाचित महिला प्रतिनिधि, स्वास्थ्य एवं पोषण समितियों की सदस्य, स्कूल प्रबंधन समितियों की महिला सदस्य और गाँव की महिलाएं भी शामिल है.

 

 

अलवर के 14 गांवों में ग्रामीण सूचना और सहायता समूहों का गठन किया है . सहगल फाउंडेशन द्वारा इन समूहों के क्षमता निर्माण का कार्य ट्रेनिंग सेशंस और कार्यशालाओं के माध्यम से किया जाता है ताकि इनको अपने कार्यो और अधिकारों का ज्ञान हो सके और वे अपने गाँव के विकास में अहम भूमिका निभा सके.

 

 सहगल फाउंडेशन से अंजलि मखीजा-डायरेक्टर- ग्रामीण विकास कार्यक्रम, प्रोग्राम लीडर बी. आर पूनिया, सौरभ श्रीवास्तव भी शामिल होगे.

आशा है कि ग्रामीण सूचना और सहायता समूह सामूहिक रूप से अपने गाँव के विकास में बेहतर भूमिका निभाएगे.

एस एम सहगल फाउंडेशन के बारे में-- सहगल फाउंडेशन की स्थापना 1999 में की गयी. सहगल फाउंडेशन ग्रामीण समुदायों के उज्जवल भविष्य निर्माण के प्रति समर्पित है। हम पूरे भारत में ग्रामीण लोगों को अपना जीवन और अधिक सुरक्षित व समृद्ध बनाने के लिए प्रेरित व सशक्त देखना चाहते है।

Have something to say? Post your comment