Sunday, February 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
संगठन सर्वोपरी होता है और इससे बडी ताकत नहीं-डा. श्रीकांतएक्शन मूढ में कांग्रेस,नए प्रभारी लोकसभा के उम्मीदवारों की सूचि तैयार करनें में जूटे,पार्टी पदाधिकारियों से ले रहे है प्रदेश अध्यक्ष की रायडॉक्टरों का एनपीए 20 प्रतिशत बढ़ामेले के अंतिम दिन रही भारी भीड़, रामकुमार के बैगपाईपर की धुन पर युवाओं की खूब मस्ती।रा.व.मा. विद्यालय बुडीन की दो छात्राओं का NMMS में हुआ चयनएग्री समिट-2019:राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 25 किसानों को 1 लाख रुपए राशि के साथ दिया कृषि रत्न पुरस्कारराज्य सरकार पर्यटन को बढावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है-राम बिलास शर्मारातभर अंधेरे में डूबा रहता है सतनाली का मुख्य बाजार, स्ट्रीट लाइटें खराब होने से कस्बे की गलियां व मुख्य चौक रहते है अंधकारमय
 
 
Literature

श्री मद्भगवती महामाया आदि शक्ति स्वमंभू महाकाली मन्दिर का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया

एएच ब्यूरो | May 10, 2017 05:17 PM
एएच ब्यूरो

कुरुक्षेत्र, 10 मई : गांव शांति नगर कुरड़ी में जय ओंकार आश्रम आदि शांति पीठ कुरड़ी में जय ओंकार अन्तर्राष्ट्रीय सेवाश्रम संघ संस्थापक श्री श्री 1008 सदगुरूदेव स्वामी श्री शक्ति देव जी महाराज कुरड़ी वाले एवं श्री श्री 1008 सदगुरूदेव स्वामी श्री संतोष ओंकार जी महाराज वालों के सानिध्य में श्री मद्भगवती महामाया आदि शक्ति स्वमंभू महाकाली मन्दिर का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। मां आदि शक्ति का भव्य भवन 108 फुट ऊंचा सुन्दर लडिय़ों से सजाया गया और मां को भोग लगाकर मां के स्वरूप कन्याओं का पूजन कर भंडारे का श्री गणेश कुरड़ी वाले महाराज श्री जी द्वारा किया गया। मां के नाम से ओंकार महायज्ञ किया, जिसमें समस्त श्रद्धालुओं द्वारा आहुतियां डाली गई। पूर्णाहुति सद्गुरूदेव स्वामी श्री शक्ति देव जी महाराज एवं सद्गुरू मां संतोष ओंकार जी महाराज कुरड़ी वालों द्वारा डाली गई। कुरड़ी वाले महाराज जी ने प्रेरणा दी कि मां आदि शक्ति का भव्य एवं सुन्दर अन्य नहीं है। 108 फुट ऊंचे मन्दिर में  मां का सवा 7 फुट ऊंचा विशाल स्वरूप है। जो बर्बस ही अपनी ओर आकर्षित करता है अर्थात मां का मन्दिर व मूर्ति अति सुन्दर व भव्य है। आदि शक्ति मां ागवान श्री ब्रह्मा, विष्णु महेश जी कि अधिष्ठात् मां है। मां को प्रलयकारी देव भी माना गया है। मां के चरणों में आने से सभी मनोकामनाएं स्वत: ही पूर्ण हो जाती हैं। मां के दर पर हाजरी लगाने वालों को गुरू कृपा से कभी भी अकाल कष्ट नहीं आता है। संघ संचालक पं. शिवनारायण दीक्षित ने बताया कि मां के मन्दिर में प्रति नवरात्रे, अष्टमी व शनिवार के दिन श्रद्धालुजन अपनी हाजरी लगाते हैं और कन्या पूजन किया जाता है। इस अवसर पर अधिवक्ता जयनारायण दीक्षित , राजेश दहिया, प्रशांत शर्मा, रणधीर मेहरा, गुलशन शर्मा, रणवीर जागलन, राधेश्याम शर्मा, संजय मिड्डा, मान सिंह व समस्त ग्राम वासी मौजूद रहे।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Literature News
श्रीमद् भागवत कथा का प्रारंभ आज
मदहोश होकर लोग हुए आउट आफ कंट्रोल हरिनाम संकीर्तन में
अबकि बार मकर संक्रांति पर्व 14 जनवरी नहीं बल्कि 15 जनवरी को ही मान्य - पं. रामकिशन
सांई के जीवन से साधारण इंसान को अच्छा मनुष्य बनने में प्रेरणा मिलती है : सुमित पोंदा
कैथल में पूजा अर्चना के साथ हुआ श्री साई अमृत कथा का शुभारंभ
बोले सो निहाल-सत श्री अकाल धर्म हेत साका जिन किया, शीश दीया पर सिर न दिया
हजरत इलाही बू अली शाह कलंदर साहिब की दरगाह पर इन्द्री में चल रहें सालाना उर्स मुबारक व भंडारे पर आज एक विशेष शोभा-यात्रा
पूर्वाचलियों को छठ पूजा की बधाई देने आधा दर्जन स्थानों पर पहुंचे मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार
15 नवंबर को मनाया जाएगा शाह कलंदर का सालाना उर्स
5 नवंबर से दीवाली के पंच पर्व आरंभ