Thursday, January 24, 2019
Follow us on
Entertainment

ब्रेन ओ ब्रेन के बच्चों ने किए तीन मिनट में 60 सवाल हल

रोहित लामसर | May 10, 2017 06:54 PM
रोहित लामसर

ब्रेन ओ ब्रेन के बच्चों ने किए तीन मिनट में 60 सवाल हल
राष्ट्रीय अबाकस प्रतियोगिता में जीती चैम्पियनशिप ट्राफी
तरावड़ी, 10 मई। तरावड़ी में स्थित ब्रेन ओर ब्रेन के बच्चों ने राष्ट्रीय अबाकस प्रतियोगिता में चैम्पियनशिप ट्राफी जीतकर हरियाणा प्रदेश और जिले का का नाम रोशन किया। चैम्पियनशिप जीतने वाले बच्चों की टीम को तरावड़ी के ब्रेन ओ ब्रेन में स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित कर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में ब्रेन ओ ब्रेन संस्था द्वारा राष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। जिसमें पूरे भारत से ब्रेन ओर ब्रेन सैंटर के बच्चों ने हिस्सा लिया था। प्रतियोगिता में बच्चों को तीन मिनट में 60 सवाल हल करने को दिए गए। जिसमें ब्रेन ओ ब्रेन तरावड़ी सैंटर के बच्चों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए चैम्पियनशिप ट्राफी पर कब्जा जमाया। राष्ट्रीय अबाकस प्रतियोगिता में ट्राफी जीतकर प्रदेश और जिले के साथ-साथ तरावड़ी क्षेत्र का नाम रोशन करने पर अवनी गोयल को चैम्पियनशिव ट्राफी तथा कुश सिंगला, वंश सिंगला, तनमय बंसल और शैलजा नारंग को गोल्ड मैडल और देवयांशी शर्मा, लोकेश नारंग और अपूर्व नारंग को सिल्वर मैडल से सम्मानित किया गया। ब्रेन ओ ब्रेन तरावड़ी की संचालक रेनू गुप्ता ने बताया कि अबाकस की एक्टिविटी से बच्चों की एकाग्रता और स्मरण शक्ति और त्रीवता से बड़ती है और बच्चों का सवार्गीण विकास होता है। रेनू गुप्ता ने सभी विजेताओं को बधाई दी और उन्हें आगे भी जीवन में प्रगति के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर रेनू गुप्ता के साथ सौरभ गुप्ता समेत कई बच्चों के अभिभावक मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment
More Entertainment News
संभार्य थियेटर फेस्टिवल - पहले दिन नाटक विद्रोही का हुआ मंचन
अमेरिका में फिल्म-टेलीविजन हैं, तब तक कोई पुरुष किसी स्त्री से तृप्त नहीं होगा
20 साल बडे जीजा के साथ करवाई रही थी 15 वर्षीय नाबालिग लडक़ी की शादी, शादी रूकी
फिल्में दिलाऐंगी मुल्तानी भाषा को अलग पहचान : रमेश मल्हौत्रा
मेहनत पहुंचाएगी टीवी के परदे पर : बीरबल खोसला
जर्मनी के कलाकारों के मुख से भी निकला एंडी हरियाणा
मशहूर हरियाणवी सिंगर मासूम शर्मा कल कैथल में
दुनिया में अश्लील पोस्टर नहीं लगेंगे। अश्लील किताबें नहीं छपेगी
उम्र के आखिरी पड़ाव में समझ आई प्यार की कीमत, ‘‘द लास्ट डिसीजन’’ने दिया संदेश
स्कूलो में बच्चों की एक कलास थियेटर की भी लगनी चाहिए- अभिनेता यशपाल शर्मा।