Thursday, January 24, 2019
Follow us on
Entertainment

जादूगर सम्राट शंकर के जादूई कारनामों की रही दूसरे दिन भी धूम

अटल हिन्द ब्यूरो | July 21, 2017 07:07 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

जादूगर सम्राट शंकर के जादूई कारनामों की रही दूसरे दिन भी धूम
दिवान बाल कृष्ण रंगशाला में जादूगर ने दिखाए हैरतअंगेज करतब
जींद(सन्नी मग्गू):हरियाणा स्वर्ण जयंती प्राधिकरण द्वारा आयोजित जादूगर सम्राट शंकर के शो दूसरे दिन भी लोगों को खूब भाए। दर्शकों से खचाखच भरी दिवान बाल कृष्ण रंगशाला में लोगों ने जादू के अनेक हैरतअंगेज करने वाले करतब देखे। हरियाणा सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती वर्ष मनाया जा रहा है। लोगों का मनोरंजन करने व विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को कन्या भ्रूण हत्या को रोकने ,पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने, जल संरक्षण इत्यादि बिन्दुओं पर जादूगर सम्राट शंकर द्वारा अपने शोज के माध्यम से प्रेरक जानकारी लोगों को दी। एक हरा-भरा फूलों का गुलदस्ता जादू के जरिए निकालकर शंकर सम्राट ने बखूबी तरीके से यह संदेश परोसा कि बढ़ता प्रदूषण हम सब के लिए चुनौती बनता जा रहा है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को एक पौधा लगाकर उसके संरक्षण का दायित्व भी अपने ऊपर लेना होगा। इसी प्रकार कार्यक्रम में जादू के जरिए एक लड़की को आरे से काटना दिखाया गया। इसका मुख्य उदेश्य बेटियों के प्रति लोगों की सोच में बदलाव लाना था। जादूगर ने स्पष्ट शब्दों में अपना संदेश दिया कि अगर हम गर्भ में बेटियों को मरवाते रहेगें तो लिंगानुपात असंतुलित हो जाएगा और इसके समाज को बुरे परिणाम भुगतने पड़ेगें। इसलिए बेटी के प्रति सोच में बदलाव लाने की जरूरत हैं। महिलाओं को सशक्त करने के लिए उन्हें सम्मान देना जरूरी हैं। जादूगर ने रंगीन इन्द्रजाल के जरिए एक अखबार के टुकडे-टुकडे कर उसे फिर से अखबार बना देना। हाथ की सफाई से छोटी-छोटी छतरियां बनाना, एक डायरी में कबूतर का चित्र बनाकर उसमें से जीवित कबूतर को उड़ाना, पानी के लोटे को बार-बार पानी से भरना कपड़े के कई टुकड़ो से तिरंगा बनाना, ताश के पत्ते निकालना, काफी संख्या में नोट बनाना जैसी जादू की प्रस्तुति बखूबी तरीके से रखी। जादूगर ने कहा कि हमें पानी का सदुपयोग करना चाहिए व्यर्थ में पानी बहाना हम सब के लिए चुनौती बन सकता है क्योंकि लगातार भूमिगत जल स्तर नीचे जा रहा है।

Have something to say? Post your comment
More Entertainment News
संभार्य थियेटर फेस्टिवल - पहले दिन नाटक विद्रोही का हुआ मंचन
अमेरिका में फिल्म-टेलीविजन हैं, तब तक कोई पुरुष किसी स्त्री से तृप्त नहीं होगा
20 साल बडे जीजा के साथ करवाई रही थी 15 वर्षीय नाबालिग लडक़ी की शादी, शादी रूकी
फिल्में दिलाऐंगी मुल्तानी भाषा को अलग पहचान : रमेश मल्हौत्रा
मेहनत पहुंचाएगी टीवी के परदे पर : बीरबल खोसला
जर्मनी के कलाकारों के मुख से भी निकला एंडी हरियाणा
मशहूर हरियाणवी सिंगर मासूम शर्मा कल कैथल में
दुनिया में अश्लील पोस्टर नहीं लगेंगे। अश्लील किताबें नहीं छपेगी
उम्र के आखिरी पड़ाव में समझ आई प्यार की कीमत, ‘‘द लास्ट डिसीजन’’ने दिया संदेश
स्कूलो में बच्चों की एक कलास थियेटर की भी लगनी चाहिए- अभिनेता यशपाल शर्मा।