Saturday, October 20, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
ब्रेकिंग-पंजाब के अमृतसर से दशहरे के दिन बड़े हादसे की ख़बर ,शोक में बदलीं विजयदशमी की खुशियाँअहीर रेजिमेंट यादव समाज का स्वाभिमान व अधिकार, केंद्र सरकार जल्द से जल्द करे इसका गठन: कुलदीप यादवरोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में बिजली कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ किया विरोध-प्रदर्शनखालड़ा फेन जनसेवा ग्रुप द्वारा सम्मान समारोह में उत्कृष्ट खिलाडिय़ों को किया सम्मानितदुर्गा अष्टमी पर कन्या पूजा व भोजन ग्रहण करने के लिए श्रद्धालु ढूंढ़ते रहे कन्याएं!जयकरण शास्त्री नांगलमाला को मिलेगा बुलंद आवाज अवार्ड, 2018पहाड़ी माता का विशाल जागरण आजसमाजसेवी ओमशिव कौशिक को पितृशोक
Fashion/Life Style

साइकिल पर करतब दिखाकर कर रहे हैं लोगों का मनोरंजन

कृष्ण प्रजापति | November 21, 2017 12:51 PM
कृष्ण प्रजापति
साइकिल पर करतब दिखाकर कर रहे हैं लोगों का मनोरंजन
गांव टीक में कलाकार दिखा रहे हैं कई हैरतअंगेज कारनामे, लोगो की उमड़ रही है भीड़
 
कैथल, 21 नवम्बर (कृष्ण प्रजापति):  साइकिल पर सवार होकर लोगो को कई हैरतअंगेज कारनामे दिखाकर मनोरंजन का खेल आज कल लोगों को खूब आ रहा है। गांव टीक में पिछले काफी दिनों से 8 व्यक्तियों की एक टीम हैरतअंगेज कारनामे दिखाकर अपना पेट पाल रहे हैं। गरम लोहे की फाली को अपनी जीभ से ठंडी करना, चक्की के पाटों को घन जैसे मजबूत लोहे से छाती पर रखकर तोड़ा जाता है। अपने मसलो में सुई चलाकर उसके ऊपर 5 किलो के वजन उठा कर लोगों को दांतो तले उंगली दबाने को मजबूर करने जैसे खेल दिखाए जा रहे हैं। साइकिल पर करतब दिखाने वालों की एक अनोखी बात यह है कि जो व्यक्ति 10-12 दिनो के लिए साइकिल पर चढ़ता है तो वह खाना पीना भी साईकल पर ही खाता है और सोता भी साईकल पर ही है।
 
प्रजापति चौपाल में हो रहे इस खेल के छठे दिन खेल का शुभारंभ गांव में खेल कोच के नाम से मशहूर अमरनाथ पंवार, अनवर खान, रामभगत वाल्मीकि आदि ने मिलकर किया। लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमें इस प्रकार के खेलों के कलाकारो की कद्र करनी चाहिए और मनोरंजन दिखाने वाले खिलाडियों का हौसला भी बढाना चाहिए। गांव टीक और आसपास के गांवो से काफी संख्या में लोग इस खेल को देखने के लिए आ रहे हैं।
 
अभी खेल कई दिन और चलेगा। आज साइकिल पर सवार हुए कलाकार  को मिट्टी में दबा जाएगा जिस को अगले दिन निकाला जाएगा। साईकल कलाकार ने बताया कि इससे भी काफी खतरनाक स्टंट इस सर्कस ओर साईकल के खेलों के दौरान दिखाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हम मजबूरी में पेट पालने के लिए घर से सैकड़ो किलोमीटर तक रहते हैं और लोगो का मनोरंजन करके अपना पेट पालते है। डिजिटल गेम और मोबाइल फोन के अत्यधिक प्रचलन से साईकल करतब और सर्कस देखने वालों की संख्या घट रही है।
Have something to say? Post your comment