Saturday, August 18, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
ढांड के बीपीआर स्कूल में राजकीय अवकाश के बावजूद लहराता रहा राष्ट्रीय ध्वजजब नए सांसदों को राजनीतिक शुचिता का पाठ पढाने हरियाणा आए वाजपेयीकन्या जन्म पर कुआं पूजन का आयोजन कर लोगों को किया प्रेरित18 अगस्त को हरियाणा बंद को लेकर किसानों व व्यापारियों से साधा संपर्कभारत में कोई नहीं है छोटा या बड़ा, सबको मिलकर करना चाहिए देशहित में कार्य: अमित यादववीर शहीदों की याद में तिरंगा यात्रा निकाल हर्षोल्लास व जोश के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवससावधान, क्षेत्र में एक बार फिर पशु चोर गिरोह सक्रिय, गांव बारड़ा से चुराई दो भैंसगुरूकुल में मिलती है संस्कारवान शिक्षा: दुष्यंत चौटाला
Punjab

जेल में बंद बारह कैदियों से मोबाईल बरामद- आरोपियों में एक महिला कैदी शामिल

अटल हिन्द ब्यूरो | February 28, 2018 03:58 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

जेल में बंद बारह कैदियों से मोबाईल बरामद- आरोपियों में एक महिला कैदी शामिल

पुलिस ने किया केस दर्ज-जेल प्रशासन व पुलिस अधिकारी मीडिया को जानकारी देने से करते रहे टालमटोल

बठिंडा, 28 फरवरी, (परविंदर )

जिले के गांव गोबिंदपुरा स्थित बनी केंद्रीय जेल में बंद बारह कैदियों से जेल प्रशासन ने चैकिंग दौरान मोबाईल बरामद किए है। थाना नथाना पुलिस ने ‌सहायक जेल अध्यिक्षक की शिकायत पर सभी आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, आरोपियों में एक महिला कैदी सरबजीत कौर शामिल है। बाकी आरोपियों की पहचान राजिंदर सिंह, अर्जन सिंह, जोगिंदर सिंह, अवतार सिंंह, बलजीत सिंह, जसवीर सिंह, बलजिंदर सिंह गांधी, अश्वनी कुमार, आसा सिंह, सुखजिंदर सिंह, गुरदास सिंह के तौर पर हुई है।

 

थाना नथाना प्रभारी इंस्पैक्टर रछपाल सिंह से जब बात कर उक्त मामले की जानकारी लेनी चाही तो उन्होनें कहा कि अभी जानकारी उनके पास नही है और जेल में से पत्र नही आए है। थाना प्रभारी का ब्यान ही अपने आप में सवाल खडे करता है, अगर जेल से पत्र नही आया तो केस कैसे दर्ज किया गया ? इस के बाद जब डिप्टी जेल अध्यिक्षक मनजीत सिंह से बात की गई तो उन्होनें बताया कि उक्त मामले पुराने है और अलग अलग दिनों में उक्त सभी आरोपियों से रिकवरी हुई है। उन्होनें बताया कि जेल प्रशासन की ओर से जब भी ‌किसी कैदी से मोबाईल बरामद किया जाता है तो तुरंत संबंधत थाना पुलिस को पत्र लिखकर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करने हेतु कहा जाता है। उन्होनें बताया कि हो सकता है कि पुलिस ने पुराने केस अब दर्ज किए हो ।

 

थाना नथाना पुलिस की ओर से कैदियों के खिलाफ दर्ज किया गया उक्त मामला कई तरह के सवाल खडे करता है । सबसे पहले सवाल पैदा होता है कि अगर जेल प्रशासन ने कैदियों से मोबाईल पकडे जाने संबंधी समय सिर सूचना दी थी तो पुलिस ने देरी क्यों की ? दूसरा सवाल अगर उक्त सभी कैदियों से अलग अलग दिनों में मोबाईल बरामद किए गए है तो उस संबंधी पुलिस ने अपनी क्राइम रिपोर्ट में जानकारी क्यों छिपाई ?

 

इन सवालों का जवाब देने के लिए न तो जेल प्रशासन और न ही पुलिस अधिकारी मूंह खोलने को तैयार है। उक्त् मामले की जानकारी जेल प्रशासन व पुलिस एक दूसरे के पास होने का कहकर मामले से पल्ला झाड कर मामले को दबाने का प्रयास कर रहे है।

Have something to say? Post your comment
More Punjab News
बठिंडा-स्कूल प्रिंसीपल को बिना बताए होस्टल से दो छात्राओं को बाहर भेजने के आरोप में फरीदकोट में हुई बैंक डकैती के दो आरोपियों को फायरिंग कर बठिंडा के सेलबराह से किया गिरफतार अकाली नेता की बसों में डीजल भरने वाला टैंकर पकडा,गौरखधंधे का किया पर्दाफाश टैक्सी वंगार में नही दी तो तीन एएसआई ने चोरी के झुठे केस दर्ज कर दी जिंदगी तबाह -पीडित टैक्सी डराईवर बठिंडा,खाकी की गुंडागर्दी हुई कैमरे में कैद-जेल से छुटटी पर आए कैदी के घर छापामरी कर
बेकाबू कार वृक्ष से टकराई,एक ही परिवार के तीन लोगों की हुई मौत,दो गंभीर
प्यार में नाकाम प्रेमी प्रेमिका की शादी के दिन उठवाना चाहता था अर्थी, निगला जहर
अमित शाह के नेतृत्व में चलने वाले बैंक में हुआ सबसे बड़ा घोटाला-पाहड़ा
हमलावरों ने पूर्व सरपंच के बेटे पर फायरिंग की बरगाड़ी कांड में बड़ा खुलासा- सिरसा डेरे से गए थे हथियार?