Sunday, March 24, 2019
BREAKING NEWS
10 के सिक्के नहीं लेने पर एफआईआर—-आरबीआई के टोल फ्री नंबर 144040फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाईजिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कीविकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहालहर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ कुलदीप बिश्रोई की गैर-मौजूदगी सेचली भाजपा में जाने की चर्चाएंलिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम लेबिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी

Haryana

समाज की मानसिकता में बदलाव ही असली सम्मान : पांडुरंग

March 10, 2018 06:24 PM
रणबीर रोहिल्ला

समाज की मानसिकता में बदलाव ही असली सम्मान : पांडुरंग
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले सम्मान को किया जिला की जनता को समर्पित
असली काम बेटियों की जान बचाना
अवार्ड मिलने के बाद जिम्मेदारियां और बढ़ी

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत।

 

उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों मिले सम्मान को जिला की जनता को समर्पित करते हुए कहा कि यह सम्मान तभी साकार होगा जब हम समाज की मानसिकता में बदलाव लाने में सफल होंगे। पांडुरंग राजस्थान के झूंझनु में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत पीसी पीएनडीटी एक्ट को बेहतर ढंग से लागू करने पर सम्मानित होने के बाद शनिवार को सोनीपत पहुंचने के बाद लघु सचिवालय के कांफ्रेस हाल में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। पांडुरंग ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को बधाई देते हुए कहा कि इन सभी ने इस दिशा में बेहतरीन कार्य किया है। इसके बाद हर प्रत्येक वो महिला जो इस पीड़ा के दौर से गुजरी है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल व इस योजना से जुड़ी उनकी टीम को भी इस कार्य के सफल होने का श्रेय दिया। उपायुक्त ने कहा कि आठ मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के 10 जिलों को यह अवार्ड दिया। इनमें चार जिले बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत, चार जिले जनजागरण के तहत और दो जिलों को पीसीपीएनडीसी एक्ट को बेहतर ढंग से लागू करने पर सम्मानित हुए हैं। इनमें पीसीपीएनडीटी में सोनीपत जिला टॉप पर रहा है। इनमें निगरानी, लिंग परीक्षण से जुड़े लोगों की जानकारी, छापा न्यायालय में पैरवी और दोषियों को सजा दिलवाना शामिल है।
डीसी ने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या धरती पर पाप है और यह सम्मान मिलने के बाद हम सभी कि जिम्मेदारियां और भी ज्यादा बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि हमारा असली काम बेटियों की जान बचाना है और इसके लिए हमें समाज में असली बदलाव करना होगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सरकार अभियान के तहत एक लाख रुपये प्रोत्साहन राशि मुखबिर को देती है और डिकोय को भी प्रोत्साहन राशि मिलती है जल्द ही टीम में शामिल डाक्टरों को प्रोत्साहन राशि के लिए भी विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बेटियों की गर्भ में ही हत्या करना एक पाप है और इसमें सजा का प्रावधान कम है। ऐसे में सख्त सजा के लिए सरकार को सुझाव भी दिया जाएगा। पत्रकार वार्ता से पहले उपायुक्त ने स्वास्थ्य, शिक्षा व महिला एवं बाल विकास विभाग सहित सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की और सभी को इस अवार्ड के लिए बधाई भी दी।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

फरीदाबाद पहुंचे प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त -लोकसभा चुनाव को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा

दो दिवसीय वॉलीवाल प्रतियोगिता के पहले दिन लडकियों की प्रतियोगिता करवाई

कुताना--शवों को रखकर धरना-प्रदर्शन करते हुए रिफाइनरी अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की

विकास उर्फ पिंटू हत्याकांड :- आज तक भी नही थमे परिजनों के आंसू, रो-रोकर पत्नी का भी हाल बेहाल

हर व्यक्ति में देश के प्रति सच्चा जनून होना चाहिए :-राजेश वशिष्ठ

लिंग जांच की सूचना दे, दो लाख का ईनाम ले

करनाल पुलिस से मुठभेड़ में 05 लाख का ईनामी बदमाश ढ़ेर

गुहला के बदसूई में मंदिर-गुरुद्वारे की दीवार को लेकर खूनी संघर्ष, एक की मौत, 18 घायल

बच्चे बच्चे के दिल में तूफान होना चाहिए,,,,,, एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम से गूंजा नरवाना ठंडी हवाओं में, तारों की छावं में, श्रोताओं ने देर रात तक उठाया आनन्द।

रैली या सभा के लिए 48 घंटे पूर्व सम्बन्धित एआरओ के पास करना होगा ऑनलाईन आवेदन-शरणदीप कौर बराड़