Wednesday, September 19, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकीगैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोषPartapgarh- खुुुलेे में शौच मुक्ति दिवस के रुप में मनाया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिनश्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्नसब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्जदरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियानमहम के गांव मेंऑनर किलिंग का मामला जला रहे थे लड़की का शव,ऑनर किलिंग का शक
Haryana

समाज की मानसिकता में बदलाव ही असली सम्मान : पांडुरंग

रणबीर रोहिल्ला | March 10, 2018 06:24 PM
रणबीर रोहिल्ला

समाज की मानसिकता में बदलाव ही असली सम्मान : पांडुरंग
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले सम्मान को किया जिला की जनता को समर्पित
असली काम बेटियों की जान बचाना
अवार्ड मिलने के बाद जिम्मेदारियां और बढ़ी

रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत।

 

उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों मिले सम्मान को जिला की जनता को समर्पित करते हुए कहा कि यह सम्मान तभी साकार होगा जब हम समाज की मानसिकता में बदलाव लाने में सफल होंगे। पांडुरंग राजस्थान के झूंझनु में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत पीसी पीएनडीटी एक्ट को बेहतर ढंग से लागू करने पर सम्मानित होने के बाद शनिवार को सोनीपत पहुंचने के बाद लघु सचिवालय के कांफ्रेस हाल में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। पांडुरंग ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को बधाई देते हुए कहा कि इन सभी ने इस दिशा में बेहतरीन कार्य किया है। इसके बाद हर प्रत्येक वो महिला जो इस पीड़ा के दौर से गुजरी है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल व इस योजना से जुड़ी उनकी टीम को भी इस कार्य के सफल होने का श्रेय दिया। उपायुक्त ने कहा कि आठ मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के 10 जिलों को यह अवार्ड दिया। इनमें चार जिले बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत, चार जिले जनजागरण के तहत और दो जिलों को पीसीपीएनडीसी एक्ट को बेहतर ढंग से लागू करने पर सम्मानित हुए हैं। इनमें पीसीपीएनडीटी में सोनीपत जिला टॉप पर रहा है। इनमें निगरानी, लिंग परीक्षण से जुड़े लोगों की जानकारी, छापा न्यायालय में पैरवी और दोषियों को सजा दिलवाना शामिल है।
डीसी ने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या धरती पर पाप है और यह सम्मान मिलने के बाद हम सभी कि जिम्मेदारियां और भी ज्यादा बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि हमारा असली काम बेटियों की जान बचाना है और इसके लिए हमें समाज में असली बदलाव करना होगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सरकार अभियान के तहत एक लाख रुपये प्रोत्साहन राशि मुखबिर को देती है और डिकोय को भी प्रोत्साहन राशि मिलती है जल्द ही टीम में शामिल डाक्टरों को प्रोत्साहन राशि के लिए भी विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बेटियों की गर्भ में ही हत्या करना एक पाप है और इसमें सजा का प्रावधान कम है। ऐसे में सख्त सजा के लिए सरकार को सुझाव भी दिया जाएगा। पत्रकार वार्ता से पहले उपायुक्त ने स्वास्थ्य, शिक्षा व महिला एवं बाल विकास विभाग सहित सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की और सभी को इस अवार्ड के लिए बधाई भी दी।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
गैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोष
श्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्न
सब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज
दरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर
25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान
महम के गांव मेंऑनर किलिंग का मामला जला रहे थे लड़की का शव,ऑनर किलिंग का शक
दिन-प्रतिदिन बढ़ रही आपराधिक घटनाओं ने हरियाणा को अंतराष्ट्रीय स्तर कर दिया शर्मसार
नांवा महापंचायत में पहुंचकर किसान दें अपनी एकता का परिचय: सांगवान
बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल 18वें दिन भी जारी, इनेलो ने जताया अपना समर्थन
दिल्ली विश्वविद्यालय में अभाविप छात्र संगठन ने छात्र संघ चुनावों में रिकॉर्ड मतों से दर्ज की जीत