Saturday, February 23, 2019
BREAKING NEWS
अमेठी के शुकुल बाजार थाना क्षेत्र में तालाब से हो रहा अवैध खननइसंपेक्टर संदीप मोर सीआईए -56 के निरीक्षक नियुक्तहिमाचल के मुख्यमंत्री ने की रा.व.मा.पा सरोआ में अखण्ड शिक्षा ज्योति-मेरे स्कूल से निकले मोती कार्यक्रम की अध्यक्षतापूर्व सरपंच व दो पंचों को कोर्ट ने सुनाई 2 साल की सजा, जानिये क्या है पूरा मामलाजिला अस्पताल में नही है कुत्ते काटे का इंजेक्शन -- सीएमएसएनएचएम कर्मचारियों को सीएम की दो टूक काम पर लौटें, नहीं तो दूसरे युवा उनकी जगह लाइन मेंडेढ़ दर्जन भाजपा विधायकों पर लटकी तलवारतरावड़ी में ईलाज के दौरान युवती की मौत पर परिजनों ने किया हंगामाबटाला-निजी स्कूल की बस पलटी,करीब दो दर्जन बच्चे घायलसीएससी कैसे करायेगी आर्थिक जनगणना का कार्य, विद्युत मीटर लगाने का नहीं मिला पारिश्रामिक

Punjab

जेल में बंद दुष्कर्म के कैदी ने जेल की बैरक के शौचालय में फंदा लगाकर की खुकदुशी

March 31, 2018 05:19 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

जेल में बंद दुष्कर्म के कैदी ने जेल की बैरक के शौचालय में फंदा लगाकर की खुकदुशी

बीस साल की सजा होने के चलते कैदी हो गया था मानसिक तौर पर परेशान

बठिंडा, 31 मार्च,(परविंदर सिंह )

जिले के गांव गोबिंदपुरा में बनी केंद्रीय जेल में दुष्कर्म के आरोपी बीस साल की सजा काट रहे युवा कैदी अमृतपाल सिंह निवासी गांव रायखाना जिला बठिंडा ने जेल की बैरक में बने शौचालय में जाकर शुक्रवार देर रात्रि कप्डे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली । घटना के बारे में साथी कैदियों को तब पता चला जब उनमें से एक कैदी शनिवार सुबह शौचालय करने गया था तो वहां अमृतपाल का शव लटक रहा था । घटना के बाद जेल प्रशासन ने थाना नथाना पुलिस को सूचित कर शव को फंदे से नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल बठिंडा पहुंचा दिया ।

 

इस संबंधी बातचीत करते हुए जेल अध्यिक्षक सुखविंदर सिंह सहोता ने बताया कि अमृतपाल सिंह को नवंबर 2017 में जिला अदालत ने दुष्कर्म के आरोप में बीस साल की सजा और तीन लाख रूपए जुर्माना भरने की सजा सुनाई थी । जिस के बाद से उक्त युवा कैदी लगातार परेशान चला आ रहा था और वह सजा को लेकर मानसिक तौर पर परेशान रहने लगा था । ‌उन्होनें बताया कि युवक की ओर से बैरक के शौचालय में जाकर कप्डे की रस्सी बनाकर उससे फंदा लगा खुदकुशी की गई है। जेल अध्यिक्षक ने बताया कि घटना के बारे में साथी कैदियों ने शनिवार सुबह जेल प्रशासन को सूचित किया था, जब मृत्क का एक साथी कैदी शौचालय में गया था तो वहां पर उक्त युवक का शव लटक रहा था । उन्होनें बताया कि घटना का पता चलने पर वह बैरक में पहुंचे और थाना नथाना पुलिस को सूचित करने के बाद शव को पुलिस की हाजरी में फंदे से उतारा गया ।

 

वहीं इस संबंधी थाना नथाना पुलिस के प्रभारी इंस्पैक्टर रछपाल सिंह ने कहा कि पुलिस ने मृत्क कैदी के ‌परिजनों के ब्यानों पर 174 की कारवाई कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल बठिंडा में रखवा दिया है।

 

पीडिता से चल रही थी राजीनामे की बात पर विफल रही

साथी कैदियों ने जेल प्रशासन को बताया कि उक्त कैदी ने एक बार उन्हें बताया था कि पीडिता के साथ उसके परिवार की ओर से राजीनामा करने की बात चल रही थी पर वो सिरे नही चढी थी। जिस के बाद से कैदी लगातार मानसिक तौर पर परेशान लगा था । साथी कैदियों को अमृतपाल अकसर ही कहता रहता था कि उसकी आयू अब 22 वर्ष है और उसे सजा बीस साल की हो गई, ऐसे में उसकी जवानी जेल में ही गुजर जाएगी । जिस से वो आहत था

Have something to say? Post your comment

More in Punjab

बटाला-निजी स्कूल की बस पलटी,करीब दो दर्जन बच्चे घायल

करतारपुर कॉरिडोर- किसानों ने जमीन का उचित मूल्य देने को लेकर नये एसडीएम से बैठक की, मी‌टिंग रही बेनतीजा

सिद्धू बोले- मंत्री हो या संतरी, सबको ठोक दूंगा

सोसाइटी ने 15 गरीब विधवा औरतों को गरम शाल बांटे

बिल्डर ने पैसे के लालच में बरसाती नाले पर ही कब्जा कर काट दिए इंडस्ट्रियल प्लॉट !

एवलांच की चपेट में मरने वाले डेरा बाबा नानक के दोनों युवकों का किया अतिंम संस्कार

जीजा की हत्या के मामले में नामजद आरोपी साला गिरफ्तार,भेजा जेल

सड़क हादसे में पिता-पुत्र की मौत, मां घायल

लिंग निधार्रिन टेस्ट करते हुये रंगे हाथों डॉक्टर समेत 6 लोग काबू

सचिव से किसान बोले- कॉरिडोर के लिये वह फ्री जमीन देने को तैयार मगर सरकार उनके हर सदस्य को सरकारी नौकरी दे