Thursday, January 24, 2019
Follow us on
National

भर्तियों में भ्र्ष्टाचार के मामले में कहा मैं खुद भी दोषी पाया गया तो कार्रवाई अवश्य होगी’’ - मनोहर लाल

राजकुमार अग्रवाल | April 06, 2018 07:06 PM
राजकुमार अग्रवाल


भर्तियों में भ्र्ष्टाचार के मामले में कहा मैं खुद भी दोषी पाया गया तो कार्रवाई अवश्य होगी’’ - मनोहर लाल

 

चण्डीगढ़, 6 अप्रैल-(राजकुमार अग्रवाल )

 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग में भर्तियों में भ्र्ष्टाचार के मामले में कहा कि जो इन लोगों ने किया है उसका दंड उन्हें अवश्य मिलेगा। उन्होंने अपना उदहारण देते हुए कहा कि अगर भ्रष्टाचार के मामलों में ‘‘मैं खुद भी दोषी पाया गया तो कार्रवाई अवश्य होगी’’।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल आज पंचकूला में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार नहीं होने दिया जाएगा और उसी का परिणाम है कि नौकरियां पारदर्शी तरीके से और मैरिट के आधार पर मिल रही हैं।

मुख्यमंत्री ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग में भ्रष्टाचार के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि ये सिस्टम पुराने चले आ रहे हैं और यह सिस्टम आज के नहीं बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि हमें शिकायतें मिल रही थी जिस पर कार्यवाही करते हुए कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है और उन्हें दंड अवश्य मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार पर सख्त लहजे में अपना उदाहरण देते हुए कहा कि अगर किसी मामले में ‘‘मैं खुद भी दोषी पाया गया तो कार्रवाई अवश्य होगी’’। एक प्रश्र के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी जांच की जा रही है और जिस किसी का भी नाम जांच में सामने आएगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी और कार्यवाही करते समय काई बड़ा-छोटा नहीं देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि वे स्वयं भी दोषी होंगे तो उन्हें भी सजा दी जाएगी। क्रमंाक-2018

 

चण्डीगढ़, 6 अप्रैल- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग में भ्रष्टïाचार के संबंध में कहा कि इस मामले में हमें शिकायत मिली थी जिस पर कार्यवाही करते हुए कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी गिरफ्तार आरोपियों से रिश्वत के रूप में लिए गए पैसे वापस लिए जाएंगे और उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

यह जानकारी आज मुख्यमंत्री ने पंचकूला में स्वतंत्रता सेनानी सम्मान समारोह के चैयरमैन ललती राम के निवास पर हरियाणा के विभिन्न जिलों से आये आई.ऐन.ए. सैनिकों, स्वतंत्रता सेनानियों की वीरांगनाओं व उनके आश्रितों से मिले और उनका कुशल-क्षेम पूछने के दौरान दी। इस मौके पर स्वतंत्रता सेनानियों ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग में क्लर्कों की भर्ती पारदर्शिता एवं मैरिट के आधार पर किए जाने पर आभार प्रकट किया। इस अवसर पर उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों की समस्याएं व मांगे भी सुनी तथा उन्हें पूरा करवाने का आश्वासन भी दिया।

श्री मनोहर लाल ने कहा कि भारत का अपना इतिहास है। आजादी हमें स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन परिश्रम के बाद मिली है। भारत को आजादी दिलाने के लिए हमारे स्वतंत्रता सेनानियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। जैसे लोहे को एक चोट से नहीं तोड़ा जा सकता, उसी प्रकार आजादी के संग्राम में स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान के बिना आजादी मिलना संभव नहीं था, जिन्होंने भारत को आजाद करवाने में अपना सम्पूर्ण जीवन लगा दिया। उन्हीं के ऐतिहासिक संघर्ष के कारण हमें आजादी मिली, जिसकी फलस्रूप आज हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित स्वतंत्रता सेनानियों व उनके आश्रितों का आह्वान किया कि वे अपना जज्बा अपने बच्चों में भी जागृत रखें ताकि भारत को उनके जैसे वीर सपूत मिल सकें।

स्वतंत्रता सेनानियों ने मुख्यमंत्री को मांग पत्र भी सौंपा, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि हरियाणा सरकार स्वतंत्रता सेनानियों की भांति चौथी पीढी को भी शिक्षण संस्थाओं में एक प्रतिशत आरक्षण देना, हरियाणा सरकार द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों की अविवाहित बेरोजगार पुत्र-पुत्रियों को प्रदान की जाने वाली पैंशन में पुत्र के संबंध में 75 प्रतिशत विकलांगता की शर्त को हटाया जाना, इंडियन नैंशनल आर्मी के सैनिकों के आश्रितों को आरक्षण की एक्स सर्विसमेन कैटेगरी में शामिल किया जाना, आई.एन.ए. के स्वतंत्रता सेनियों की प्रथम पीढी के उत्तराधिकारियों को पैंशन देना तथा स्वतंत्रता सेनानी सम्मान समिति का गठन शीघ्र करवाया जाना शामिल है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता सेनानी जिला रेवाड़ी से श्री आनंद लाल, दवारिका से दुली चंद, अंबाला से जगीर सिंह व केहर सिंह, हिसार से भाले राम, मानेसर से भाग मल नम्बरदार, जींद से प्रभी देवी पत्नी स्व. श्री चंदन सिंह, आश्रितों में गुरुग्राम से रविंदर दहिया, लेख राज राघव व कपूर सिंह दलाल तथा चरखी दादरी से भगवान फौगाट, राजेन्द्र सिंह, हरी सिंह, उमेद सिंह, राकेश, सनातन, राज करन व झज्जर से रामबीर तथा गुरुग्राम से सूबेदार विजेन्द्र ठकरान को शॉल देकर सम्मानित किया।

इस मौके पर स्वंतंत्रता सेनानी सम्मान समारोह के चैयरमैन ललती राम, अंबाला के सांसद रतन लाल कटारिया, पंचकूला के विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञानचंद गुप्ता, पुलिस आयुक्त एएस चावला, उपायुक्त मुकुल कुमार सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
More National News
क्रिकेट के खिलाड़ी ने बॉल छोड़ उठाई बंदूक, बना बदमाश, गिरफ्तार
महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्कॉट की कामयाबी नाबालिग सहित 9 संदिग्ध गिरफ्तार,
आरएसएस ऑफिस में बर्तन तक धोए--पीएम मोदी
हिंदू महिला की मुस्लिम पुरुष से शादी अवैध, पर उनसे जन्मे बच्चे वैध- सुप्रीम कोर्ट
चौटाला परिवार ने 16 साल बाद कंडेला कांड के लिए माफी मांगी, अभय चौटाला ने मानी गलती
भाजपा के कार्यालय फाईव स्टार जैसे, जनता विकास को तरसी : गर्ग
भारत गरीब नहीं ,आम जनता गरीब है ,देश का आधा खजाना सिर्फ 9 लोगो के पास
पीएम मोदी से लोग नाराज होते तो महागठबंधन की जरुरत क्यों पड़तीः अरुण जेटली
पैरोल रद्द होने से भड़के ओ पी चौटाला ,कहा दिग्विजय ने पीठ में घोंपा छुरा
साधना सिंह ने मांगी मांफी, -एफआईआर की चिट्ठी आते ही