Saturday, February 23, 2019
BREAKING NEWS
अमेठी के शुकुल बाजार थाना क्षेत्र में तालाब से हो रहा अवैध खननइसंपेक्टर संदीप मोर सीआईए -56 के निरीक्षक नियुक्तहिमाचल के मुख्यमंत्री ने की रा.व.मा.पा सरोआ में अखण्ड शिक्षा ज्योति-मेरे स्कूल से निकले मोती कार्यक्रम की अध्यक्षतापूर्व सरपंच व दो पंचों को कोर्ट ने सुनाई 2 साल की सजा, जानिये क्या है पूरा मामलाजिला अस्पताल में नही है कुत्ते काटे का इंजेक्शन -- सीएमएसएनएचएम कर्मचारियों को सीएम की दो टूक काम पर लौटें, नहीं तो दूसरे युवा उनकी जगह लाइन मेंडेढ़ दर्जन भाजपा विधायकों पर लटकी तलवारतरावड़ी में ईलाज के दौरान युवती की मौत पर परिजनों ने किया हंगामाबटाला-निजी स्कूल की बस पलटी,करीब दो दर्जन बच्चे घायलसीएससी कैसे करायेगी आर्थिक जनगणना का कार्य, विद्युत मीटर लगाने का नहीं मिला पारिश्रामिक

National

कैशलैस अभियान में डिजीटल भुगतान के लिए सोनीपत जिला को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया सम्मानित

April 21, 2018 05:25 PM
रणबीर रोहिल्ला
कैशलैस अभियान में डिजीटल भुगतान के लिए सोनीपत जिला को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया सम्मानित 
दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त विनय सिंह ने प्राप्त किया सम्मान 
देशभर के 100 से ज्यादा जिले अवार्ड के लिए हुए थे शामिल, सिर्फ दो को मिला अवार्ड, सोनीपत जिला रहा टॉप पर
प्रधानमंत्री की काफी टेबल बुक में जिला की दो सक्सेस स्टोरी को भी मिला स्थान 
अवार्ड के लिए चार स्तरीय मानकों की कसौटी पर जांचा गया अभियान को, सभी में अव्वल रहा जिला  
 
रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत।
 
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के हाथों सम्मानित होने के बाद शनिवार को जिला को एक और बड़ी उपलब्धि मिली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिला को कैशलैस अभियान के दौरान डिजीटल भुगतान के लिए बेहतरीन कार्य करने पर जिला को सम्मानित किया है। उपायुक्त विनय सिंह ने शनिवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के हाथों यह सम्मान और 10 लाख रुपये का चैक प्राप्त किया। यह सम्मान देशभर में सिर्फ दो जिलों को मिला है और सोनीपत इनमें से एक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के बाद देशभर में लोगों को डिजीटल भुगतान के अभियान से जोडऩे का आह्वान किया गया था। इसके लिए देशभर में अभियान चलाया गया। अभियान के तहत जिला सोनीपत में तत्कालीन उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग के नेतृत्व में इस अभियान की कमान संभाली गई। इसके लिए सभी वर्गों के साथ मीटिंग कर जागरूकता अभियान शुरू किया गया। इसी अभियान के सकारात्मक परिणाम मिले और लोगों ने भी भरपूर साथ दिया।  अभियान के तहत जिला को अलग-अलग क्षेत्रों में बांटकर सभी एसडीएम, सीटीएम, सीएमजीजीए व अन्य अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, ऐसीएस देवेंद्र सिंह, ऐसीएस पीके दास द्वारा योजना की मॉनिटरिंग की गई। इसके तहत सब्जी मंडी सोनीपत को सबसे पहले कैशलैस भुगतान करने वाला क्षेत्र घोषित किया गया। यहां अधिकतर व्यापारियों और छोटे विक्रेताओं ने भीम, पेटीएम और स्वैप कार्ड जैसे साधनों का प्रयोग किया। सक्षम युवाओं व स्कूल कालेज के युवाओं के माध्यम से जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया। जिला की सभी 366 राशन की दुकानें आज की समय में पूरी तरह से डिजीटल लेनदेन कर रही हैं। जिला के 100 प्रतिशत पैट्रोल पंपों पर पीओसी मशीनें उपलब्ध हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 1 के 90 प्रतिशत से ज्यादा ढाबे व अन्य कामर्शियल प्वाइंट कैशलैस लेनदेन की सुविधा दे रहे हैं। इसके साथ ही ई-दिशा केंद्रों, खाद बीज की दुकानों सहित अधिकतर बाजारों में भी व्यापारियों द्वारा कैश-लैस लेन देन किया जा रहा है। 
देश के जिलो से मांगे थे आवेदन
फरवरी माह में डिपार्टमेंट आफ एडमिनिस्ट्रेटिव रिफोर्मस एंड पब्लिक ग्रिवांसिस भारत सरकार द्वारा देशभर के जिलों से आवेदन मांगे गए थे। इसमें देशभर के 100 से ज्यादा जिलों में अपने जिलों में किए गए कार्यों के आधार पर आवेदन किया। आवेदन के पश्चात जिला में किए गए कार्यों की एक प्रेजेंटेशन प्रस्तुत की। इसके पश्चात प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा एक विशेष टीम जिला में निरीक्षण के लिए भेजी गई। टीम द्वारा कई दिनों तक जिला में अलग-अलग स्थानों पर घूमकर इस दिशा में किए गए कार्यों पर रिपोर्ट तैयार की गई। आखिर में केंद्रीय कैबिनेट सचिव के साथ विडियो कांफ्रेस के माध्यम से संपूर्ण अभियान पर प्रस्तुती दी गई। सभी चारों कसौटी पर खरा मिलने के बाद जिला सोनीपत को इस दिशा में किए गए कार्यों के लिए देशभर में अव्वल स्थान मिला। 
दो सफल स्टोरी प्रधानमंत्री की काफी टेबल बुक में की गई शामिल 
देशभर में कैशलैस अभियान के तहत डिजीटल लेन-देन के लिए किए गए कार्यों को मिलाकर प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा काफी टेबल बुक का भी प्रकाशन किया गया। इसमें खास बात यह रही कि इस काफी टेबल बुक में जिला की दो सक्सेस स्टोरी को भी स्थान मिला। इन दो सक्सेस स्टोरी में सोनीपत की सब्जी मंडी में डिजीटल पेमेंट को लेकर किए गए प्रयासों को बेहतरीन बताया गया। इसके साथ ही जिला के गांव बसौदी में कैशलैस को लेकर चलाया गया प्रचार अभियान भी काफी सराहा गया और काफी टेबल बुक में स्थान मिला। 
अवार्ड जिला के लोगों को समर्पित : विनय सिंह 
उपायुक्त विनय सिंह ने कहा कि यह सम्मान जिला के लोगों द्वारा कैशलैस योजना को लेकर किए गए बेहतरीन कार्यों की बदौलत मिला है। उन्होंने कहा कि यह सम्मान मैं जिला के लोगों को समर्पित करता हूं। उन्होंने कहा कि इस अभियान को हमें यही नहीं रोकना बल्कि प्रत्येक व्यक्ति को डिजीटल क्रांति से जोड़ते हुए आगे बढऩा है

Have something to say? Post your comment

More in National

हरियाणा में 13 साल बाद फिर लागू होगी एक्सग्रेसिया पॉलिसी

मोदी के गुणगान में जुटे राव इंद्रजीत, हुड्डा और बिरेंद्र का मिलन बना चर्चा का विषय

किसान भवन 31 मार्च तक पूरा करने किया जाये: राणा

हाईवा को बस से टकराकर कर लगी आग, चालक जिंदा जला

दस साल बाद हुआ था बच्चा, अब रोडवेज बस के नीचे आने से हुई मौत

बाबैन के गांव में डीएसपी के रीडर पर बदमाशों ने बरसाई गोलियां, गाड़ी भी लेकर हुए फरार

मेरी इच्छा हिसार से लोकसभा चुनाव लङने की है-दुष्यंत चौटाला

खैरी के विजेंदर ने जीता कुश्ती में सोना

हरियाणा पुलिस कांस्टेबल के 500 पद अब सामान्य श्रेणी से भरे जाएंगे

चमत्कारी उम्मीदवारों के सहारे लोकसभा चुनाव की नैया पार करने की तैयारी में भाजपा