Wednesday, September 19, 2018
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा में सता का फाईनल बेशक दूर लेकिन सेमीफाईनल करीब,निगाहें अरविन्द केजरीवाल के इस दौरे पर टिकीगैंगरेप की घटना को लेकर इनसो के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने किया विरोध-प्रदर्शन, जताया रोषPartapgarh- खुुुलेे में शौच मुक्ति दिवस के रुप में मनाया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिनश्यामपुरा में दो दिवसीय खंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता संपन्नसब जूनियर नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में सतनाली के खिलाडिय़ों ने जीते 2 सिल्वर, 1 ब्रॉन्जदरिंदगी की शिकार हुई छात्रा को न्याय दिलाने के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थी उतरे सडक़ों पर25 सितंबर को मनाए जाने वाले सम्मान समारोह को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियानमहम के गांव मेंऑनर किलिंग का मामला जला रहे थे लड़की का शव,ऑनर किलिंग का शक
National

कैशलैस अभियान में डिजीटल भुगतान के लिए सोनीपत जिला को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया सम्मानित

रणबीर रोहिल्ला | April 21, 2018 05:25 PM
रणबीर रोहिल्ला
कैशलैस अभियान में डिजीटल भुगतान के लिए सोनीपत जिला को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया सम्मानित 
दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त विनय सिंह ने प्राप्त किया सम्मान 
देशभर के 100 से ज्यादा जिले अवार्ड के लिए हुए थे शामिल, सिर्फ दो को मिला अवार्ड, सोनीपत जिला रहा टॉप पर
प्रधानमंत्री की काफी टेबल बुक में जिला की दो सक्सेस स्टोरी को भी मिला स्थान 
अवार्ड के लिए चार स्तरीय मानकों की कसौटी पर जांचा गया अभियान को, सभी में अव्वल रहा जिला  
 
रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत।
 
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के हाथों सम्मानित होने के बाद शनिवार को जिला को एक और बड़ी उपलब्धि मिली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिला को कैशलैस अभियान के दौरान डिजीटल भुगतान के लिए बेहतरीन कार्य करने पर जिला को सम्मानित किया है। उपायुक्त विनय सिंह ने शनिवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के हाथों यह सम्मान और 10 लाख रुपये का चैक प्राप्त किया। यह सम्मान देशभर में सिर्फ दो जिलों को मिला है और सोनीपत इनमें से एक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के बाद देशभर में लोगों को डिजीटल भुगतान के अभियान से जोडऩे का आह्वान किया गया था। इसके लिए देशभर में अभियान चलाया गया। अभियान के तहत जिला सोनीपत में तत्कालीन उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग के नेतृत्व में इस अभियान की कमान संभाली गई। इसके लिए सभी वर्गों के साथ मीटिंग कर जागरूकता अभियान शुरू किया गया। इसी अभियान के सकारात्मक परिणाम मिले और लोगों ने भी भरपूर साथ दिया।  अभियान के तहत जिला को अलग-अलग क्षेत्रों में बांटकर सभी एसडीएम, सीटीएम, सीएमजीजीए व अन्य अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, ऐसीएस देवेंद्र सिंह, ऐसीएस पीके दास द्वारा योजना की मॉनिटरिंग की गई। इसके तहत सब्जी मंडी सोनीपत को सबसे पहले कैशलैस भुगतान करने वाला क्षेत्र घोषित किया गया। यहां अधिकतर व्यापारियों और छोटे विक्रेताओं ने भीम, पेटीएम और स्वैप कार्ड जैसे साधनों का प्रयोग किया। सक्षम युवाओं व स्कूल कालेज के युवाओं के माध्यम से जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया। जिला की सभी 366 राशन की दुकानें आज की समय में पूरी तरह से डिजीटल लेनदेन कर रही हैं। जिला के 100 प्रतिशत पैट्रोल पंपों पर पीओसी मशीनें उपलब्ध हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 1 के 90 प्रतिशत से ज्यादा ढाबे व अन्य कामर्शियल प्वाइंट कैशलैस लेनदेन की सुविधा दे रहे हैं। इसके साथ ही ई-दिशा केंद्रों, खाद बीज की दुकानों सहित अधिकतर बाजारों में भी व्यापारियों द्वारा कैश-लैस लेन देन किया जा रहा है। 
देश के जिलो से मांगे थे आवेदन
फरवरी माह में डिपार्टमेंट आफ एडमिनिस्ट्रेटिव रिफोर्मस एंड पब्लिक ग्रिवांसिस भारत सरकार द्वारा देशभर के जिलों से आवेदन मांगे गए थे। इसमें देशभर के 100 से ज्यादा जिलों में अपने जिलों में किए गए कार्यों के आधार पर आवेदन किया। आवेदन के पश्चात जिला में किए गए कार्यों की एक प्रेजेंटेशन प्रस्तुत की। इसके पश्चात प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा एक विशेष टीम जिला में निरीक्षण के लिए भेजी गई। टीम द्वारा कई दिनों तक जिला में अलग-अलग स्थानों पर घूमकर इस दिशा में किए गए कार्यों पर रिपोर्ट तैयार की गई। आखिर में केंद्रीय कैबिनेट सचिव के साथ विडियो कांफ्रेस के माध्यम से संपूर्ण अभियान पर प्रस्तुती दी गई। सभी चारों कसौटी पर खरा मिलने के बाद जिला सोनीपत को इस दिशा में किए गए कार्यों के लिए देशभर में अव्वल स्थान मिला। 
दो सफल स्टोरी प्रधानमंत्री की काफी टेबल बुक में की गई शामिल 
देशभर में कैशलैस अभियान के तहत डिजीटल लेन-देन के लिए किए गए कार्यों को मिलाकर प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा काफी टेबल बुक का भी प्रकाशन किया गया। इसमें खास बात यह रही कि इस काफी टेबल बुक में जिला की दो सक्सेस स्टोरी को भी स्थान मिला। इन दो सक्सेस स्टोरी में सोनीपत की सब्जी मंडी में डिजीटल पेमेंट को लेकर किए गए प्रयासों को बेहतरीन बताया गया। इसके साथ ही जिला के गांव बसौदी में कैशलैस को लेकर चलाया गया प्रचार अभियान भी काफी सराहा गया और काफी टेबल बुक में स्थान मिला। 
अवार्ड जिला के लोगों को समर्पित : विनय सिंह 
उपायुक्त विनय सिंह ने कहा कि यह सम्मान जिला के लोगों द्वारा कैशलैस योजना को लेकर किए गए बेहतरीन कार्यों की बदौलत मिला है। उन्होंने कहा कि यह सम्मान मैं जिला के लोगों को समर्पित करता हूं। उन्होंने कहा कि इस अभियान को हमें यही नहीं रोकना बल्कि प्रत्येक व्यक्ति को डिजीटल क्रांति से जोड़ते हुए आगे बढऩा है
Have something to say? Post your comment
More National News
Partapgarh- खुुुलेे में शौच मुक्ति दिवस के रुप में मनाया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन
रेवाड़ी - 19 वर्षीय लड़की के साथ गैंगरेप के चौथे दिन सीएम ने तोड़ी चुप्पी बारिस से गिरा कच्चा घर तो कहीं हुयी मौत, कहीं दबा गृहस्थी
घरौंडा की कथित भूतिया कोठी का किया पर्दाफाश
भारत के जींद में मांगें पूरी न होने से गुस्साए 320 दलितों ने किया धर्म परिवर्तन
राज्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र जगदीशपुर की गड्ढा युक्त सड़कों पर सपाईयों ने धान लगाकर किया प्रदर्शन, समाजसेवी ने पहले ही की थी शिकायत
आज भाजपा सरकार द्वारा चुनाव के समय जनता से किए गए प्रत्येक वायदे को किया पूरा: रामबिलास शर्मा
झूठी शान के लिए बेटियों की हत्या करना शर्मनाक-प्रतिभा सुमन
अमेठीः माननीय मंत्री जी कहते है गॉवों का होगा विकास, प्रशासन कह रहा है मेरे पास नहीं बजट, देखिए विशेष रिपोर्ट
मेरा महेंद्रगढ़, मेरा स्वाभीमान बैनर के नीचे की स्मारक स्थल की साफ-सफाई