कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल,प्रशिक्षण के दौरान हासिल किया प्रथम स्थान, जिला प्रशासन ने किया सम्मान समारोह आयोजित,गांव कुराड़ के रोहित गिल ने फ्लाईंग ऑफिसर का पद हासिल किया। अहम पहलू है कि प्रशिक्षण के दौरान उन्होंने प्रथम स्थान हासिल किया, जोकि जिला के युवाओं के लिए प्रेरणादायक है। अब रोहित गिल का चयन अंबाला एयरबेस स्टेशन के लिए हुआ है, जहां पर वे राफेल विमान उड़ाएंगे।
कलायत, 1 सितंबर (अटल हिन्द/तरसेम सिंह )
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
संघ लोक सेवा आयोग द्वारा राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के एयर फोर्स विंग में गांव कुराड़ के रोहित गिल ने फ्लाईंग ऑफिसर का पद हासिल किया। अहम पहलू है कि प्रशिक्षण के दौरान उन्होंने प्रथम स्थान हासिल किया, जोकि जिला के युवाओं के लिए प्रेरणादायक है। अब रोहित गिल का चयन अंबाला एयरबेस स्टेशन के लिए हुआ है, जहां पर वे राफेल विमान उड़ाएंगे।

कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल

बुधवार को जिला प्रशासन द्वारा लोक निर्माण विश्राम गृह में सम्मान समारोह आयोजित किया गया, जिसमें उपायुक्त प्रदीप दहिया व अन्य उच्चाधिकारियों सहित रोहित गिल के परिवार के सदस्य मौजूद रहे।
उपायुक्त प्रदीप दहिया ने रोहित गिल को सम्मानित करते हुए कहा कि इंसान किसी भी मुकाम को हासिल करने का दृढ़ निश्चय कर लें तो उसे हासिल कर सकता है। कड़ी मेहनत और लगन से जो व्यक्ति एक लक्ष्य निर्धारित करके पढ़ाई या किसी भी क्षेत्र में कार्य करता है तो एक दिन निश्चित तौर पर वह सफलता हासिल करता है।
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
रोहित गिल ने फ्लाईंग ऑफिसर का पद हासिल करके जिले के युवाओं को प्रेरणा दी है। उन्होंने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की और जिले के युवाओं से आह्वान किया कि सच्ची लग्र और निष्ठा से जीवन में आगे बढ़ें। सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाकर युवा आगे बढ़ने का कार्य करें।
इस मौके पर फ्लाईंग ऑफिसर रोहित गिल ने बताया कि उन्होंने शिक्षा भारती स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा ली। इसके बाद पिता व मामा से मिले मार्गदर्शन के बाद कुंजपुरा स्थित सैनिक स्कूल में एडमिशन लिया। सैनिक स्कूल में शिक्षा हासिल करने के दौरान एक बार ग्लाईडर उड़ाने का मौका मिला तो उसी दिन सोचा कि एक दिन भारतीय वायु सेना में पायलट बनना है। इसके बाद 12वीं के बाद एनडीए में दाखिला लेकर ट्रेनिंग की और उसके बाद भारतीय वायु सेना में फाईटर पायलट के तौर पर चयन हुआ और अंबाला एयरबेस में राफेल विमान उड़ाने के लिए चयन हुआ है।
रोहित गिल ने अपनी सफलता का श्रेय अपने अभिभावकों को दिया। जिला प्रशासन की ओर से रोहित गिल की दादी व मां को डीआईपीआरओ सोनिया ने शॉल भेंट कर सम्मानित किया। इस मौके पर एसडीएम विरेंद्र ढुल, डीडीपीओ जसविंदर सिंह, डीआईपीआरओ सोनिया, सुरेश कुमार, राजू कौशिक, धर्मपाल धीमान, संजय सिंगला, सुच्चा सिंह, सतबीर गिल, बलबीर सैनी, सतनाम आदि मौजूद रहे।

 

बॉक्स: रोहित गिल की मां को बनाया पोषण अभियान का ब्रांड एम्बेसडर
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
उपायुक्त प्रदीप दहिया ने सितंबर माह में चल रहे पोषण माह के लिए रोहित गिल की मां को ब्रांड एम्बेसडर बनाया है। उन्होंने कहा कि मां-बाप द्वारा दिए गए संस्कारों को अपनाकर व्यक्ति ऊंचे लक्ष्य को हासिल कर सकता है। मां द्वारा बच्चों को सही दिशा में चलने की प्रेरणा दी जाती है, जिसे अपनाकर बच्चा कामयाबी के शिखर पर पहुंचता है। कुछ ऐसा ही रोहित गिल ने किया है। ऐसी मां को सम्मान देना भी प्रशासन का नैतिक कर्तव्य है, जो कि अन्य अभिभावकों के लिए प्रेरणा बनता है।

 

बॉक्स: दादी, मां व पिता ने कहा बच्चों को दिए संस्कार, आगे बढऩे के लिए किया प्रेरित
कलायत के गांव कुराड़ का  रोहित गिल उड़ाएगा  राफेल
रोहित गिल की मां सुच्च कौर ने कहा कि उन्होंने बच्चों को संस्कार दिए और जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। कभी भी अनावश्यक दबाव बेटे पर नहीं डाला, बल्कि उसकी रूचि के अनुसार उसे शिक्षा प्राप्त करने के लिए भेजा। आज बेटे ने फ्लाईंग ऑफिसर का पद हासिल करके गर्व से सीना चौड़ा कर दिया है। ऐसी संतान  सभी को मिलनी चाहिए। इस मौके पर उनकी दादी मरिया ने भी अपने पोते को आशीर्वाद देते हुए उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की और कहा कि पौते ने पूरे परिवार का नाम रोशन किया है। उनके पिता सुरेश गिल ने कहा कि हर मां-बाप का सपना होता है कि उनकी संतान जीवन में सफल हो और ऊंचे पद को हासिल करें। कुछ ऐसा ही रोहित ने किया है, जोकि बड़े ही गर्व की बात है।

Share this story