कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न : प्रदीप दहिया
कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत  मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न :  प्रदीप दहिया

कैथल, 18 अगस्त ( ) उपायुक्त प्रदीप दहिया ने कहा कि कोरोना काल में गरीबों व किसानों ने बहुत सी दिक्कतों का सामना किया है। सरकार द्वारा जरूरतमंदों की हर तरह से सहायता की गई है। गरीबों को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत मुफ्त में प्रति व्यक्ति 5 किलो अन्न देने का कार्य किया गया है, जोकि इस समय सराहनीय कदम है। जिले में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर हैं, जिसके तहत 5 लाख 66 हजार 201 लाभार्थी व्यक्ति हैं, जिन्हें दो दिवसीय अन्नपूर्णा उत्सव के तहत 451 डिपो के माध्यम से अन्न वितरित किया जाएगा।

कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत  मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न :  प्रदीप दहिया
उपायुक्त प्रदीप दहिया अन्नपूर्णा महोत्सव के तहत गांव खुराना में जिला स्तरीय कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने गांव के गरीब लाभार्थियों को अन्न वितरित किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि सरकार द्वारा मुफ्त में अन्न देने का कार्य किया गया है, जोकि सराहनीय प्रयास है। वैश्विक महामारी कोरोना के चलते जरूरतमंदों के लिए शासन व प्रशासन द्वारा निरंतर कार्य किया जा रहा है।

कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत  मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न :  प्रदीप दहिया

ग्रामीण आंचल में आमजन को प्रशासन का पूरा सहयोग करना चाहिए। विकास कार्यों के लिए आपसी मंत्रणा करके प्रशासन को अवगत करवाएं, ताकि सभी के सुझाव से गांव में होने वाले विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाया जा सके। विकास कार्यों के लिए पैसों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिवेश किसान पारम्परिक फसलों के साथ-साथ वैकल्पिक खेती की ओर कदम बढ़ाए, जिससे उनकी आय में बढ़ोत्तरी होगी। ग्रामीण आंचल की विशेषता रही है कि यहां पर सभी लोग भाईचारे के साथ रहते हैं, जोकि सामाजिक परंपरा का अनूठा उदाहरण है और अच्छा भी है। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय कार्यक्रम के लिए गांव का चयन इसलिए किया गया है, ताकि ग्रामीण आंचल में रह रहे लोगों से संवाद हो सके।

कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत  मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न :  प्रदीप दहिया
एसडीएम संजय कुमार ने कहा कि अन्नपूर्णा उत्सव के तहत गरीबों को दो दिन अन्न बांटने का कार्यक्रम हैं, जिसके तहत पूरे जिला को कवर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा समय-समय पर जरूरतमंदों के लिए कार्य किया जाता है। उपायुक्त प्रदीप दहिया के मार्गदर्शन में पिछले दिनों कुछ गांव में जलभराव की समस्या आई थी, जिसे तुरंत दूर किया गया है। डीडीपीओ जसविंदर सिंह ने उपायुक्त का स्वागत करते हुए कहा कि अन्नपूर्णा उत्सव के तहत कार्यक्रम स्थल का चयन गांव में करना प्रशंसनीय कदम है। डीएफएससी प्रमोद शर्मा ने उपायुक्त का गांव में पहुंचने पर स्वागत किया और अन्नपूर्णा उत्सव के तहत अन्न बांटने के कार्य के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।
इस मौके पर एसडीएम संजय कुमार, डीडीपीओ जसविंदर सिंह, डीआईपीआरओ सोनिया, डीएफएससी प्रमोद शर्मा, रामफल मलिक, विक्रम सिंह, राममेहर खुराना, ठाकूर, रामफल, ओमप्रकाश, संजीव कुमार, नरेश कुमार के अलावा अन्य ग्रामीण मौजूद रहे।

कैथल में एक लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्नपूर्णा उत्सव के तहत  मुफ्त में वितरित किया गया है अन्न :  प्रदीप दहिया

बॉक्स: जिला में 1 लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को वितरित किया जाएगा अन्न
अन्नपूर्णा उत्सव के तहत जिला के 1 लाख 22 हजार 662 कार्ड होल्डर को अन्न वितरित किया जाएगा। इन कार्ड होल्डर में 5 लाख 66 हजार 201 लाभार्थी व्यक्ति हैं। चीका में 21 हजार 279 कार्ड होल्डर हैं, जिनके 1 लाख 1 हजार 758 लाभार्थी व्यक्ति हैं। ढांड में 10 हजार 519 कार्ड होल्डरों में 47 हजार 239 लाभार्थी हैं। कैथल में 36 हजार 166 कार्ड होल्डर में 1 लाख 65 हजार 337 लाभार्थी हैं। कलायत में 16 हजार 211 कार्ड होल्डरों में 74 हजार 236 लाभार्थी हैं। पूंडरी में 19 हजार 580 कार्ड होल्डरों में 88 हजार 197 लाभार्थी हैं। राजौंद में 12 हजार 171 कार्ड होल्डरों में 55 हजार 431 लाभार्थी हैं। इसी प्रकार सीवन में 6 हजार 736 कार्ड होल्डरों में 34 हजार 3 लाभार्थी व्यक्ति हैं।

बॉक्स: लाभार्थियों ने जताया सरकार का आभार
अन्नपूर्णा महोत्सव के जिला स्तरीय कार्यक्रम में योजना के लाभार्थी मनीषा, रीना, ठाकुर, जसमेर, रमेश कुमार आदि ने सरकार का आभार जताते हुए कहा कि इस समय सरकार द्वारा जरूरतमंदों को अन्न वितरित करना सराहनीय है। इससे पहले भी समय-समय पर शासन व प्रशासन द्वारा हर तरह की मदद की जाती रही है।

Share this story