कैथल में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर उपायुक्त प्रदीप दहिया ने ली समीक्षा बैठक
कैथल में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर उपायुक्त प्रदीप दहिया ने ली समीक्षा बैठक

कैथल में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर उपायुक्त प्रदीप दहिया ने ली समीक्षा बैठक
रिपोर्ट के अनुसार सभी अधिकारी करें कार्य, उठाएं कारगर कदम- डीसी प्रदीप दहिया
कैथल, 5 अगस्त ( atal hind) उपायुक्त प्रदीप दहिया ने कहा कि प्रदूषण नियंत्रण को लेकर सभी संबंधित अधिकारी जरुरी व कारगर कदम उठायें। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा बनाई गई एक्शन टेकन रिपोर्ट के मुताबिक जनस्वास्थ्य विभाग, सिंचाई विभाग, पंचायत विभाग व अन्य संबंधित विभाग कार्य कर जल्द रिपोर्ट बनाएं। मामले पर अगली बैठक अगस्त के आखिरी सप्ताह में होगी।

कैथल में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर उपायुक्त प्रदीप दहिया ने ली समीक्षा बैठक
उपायुक्त प्रदीप दहिया लघु सचिवालय स्थित कॉन्फ्रेंस हॉल में प्रदूषण नियंत्रण को लेकर समीक्षा बैठक ले रहे थे। बैठक में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के रिजनल ऑफिसर राजेंद्र शर्मा ने बताया कि रिपोर्ट के मुताबिक जिला स्तर पर घग्घर नदी में कोई भी गंदा पानी, घरेलू कार्य का ग्रे पानी व दूषित पानी किसी भी प्रकार से नदी के पानी को दूषित ना करें। जन स्वास्थ्य विभाग, नगर परिषद, सिंचाई व नहरी विभाग द्वारा ड्रेनेज को नदी से जोडऩा व सीवर लाइन बिछा कर कार्य करने संबंधी विषयों पर चर्चा की गई। रिजनल ऑफिसर राजेंद्र शर्मा ने बताया कि घग्घर में दूषित पानी छोडऩे की पर बोर्ड द्वारा तीन राइस मिल्स से 35 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया व क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है। उपायुक्त प्रदीप दहिया ने सीएमओ डॉ जयंत आहूजा से कहा कि पर्यावरण को ध्यान में रखकर मेडिकल वेस्ट का निष्पादन किया जाए। उपायुक्त ने पर्यावरण के प्रति जागरुकता कार्यक्रमों को भी जारी रखने के निर्देश दिए ताकि लोगों को पर्यावरण के लिए सचेत किया जा सके। साथ ही अधिकारियों को कहा कि जल प्रबंधन, जल संरक्षण, प्रदूषण नियंत्रण, कचरा प्रबंधन, सीवरेज सिस्टम व पर्यावरण संवर्धन को लेकर किए जा रहे कार्यों में कोई भी ढिलाई ना बरती जाए।
इस बैठक में जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी जसविंद्र सिंह, सिविल सर्जन डॉ. जयंत आहूजा, कार्यकारी अभियंता प्रशांत कुमार, हिमांशु लाटका, केके भाटला, डीआईसी विजय लक्ष्मी के अलावा अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Share this story