कैथल पोलिस ने एटीएम कार्ड का क्लोन बना जालसाजी करने वाले 2 शातिर अपराधी गिरफ्तार किये 
कैथल पोलिस ने एटीएम कार्ड का क्लोन बना जालसाजी करने वाले 2 शातिर अपराधी गिरफ्तार किये 

कैथल पोलिस ने एटीएम कार्ड का क्लोन बना जालसाजी करने वाले 2 शातिर अपराधी गिरफ्तार किये
सादा कपड़ों में गश्त दौरान नकदी निकालने के लिए एटीएम में घुसे सीआईए-टू पुलिस के जवानों के एटीएम कार्ड का क्लोन करना पड़ा भारी,
आरोपियों के कब्जे से 12 एटीएम कार्ड, एटीएम कार्ड रीडर, मोबाइल फोन तथा फोर्ड फिस्टा गाड़ी बरामद
news kaithal, 05 जून ( atal hind ) अपराधी तत्वों बारे गोपनीय तरीके से जानकारी हासिल करने के लिए सादा कपड़ों में गश्त कर रहे सीआईए-टू पुलिस के दो जवानों द्वारा एटीएम कक्ष से नकदी निकालते समय एटीएम कक्ष के अंदर जाल बिछाए बैठे जालसाजों को पुलिस कर्मचारी का कार्ड का क्लोन करना पड़ा महंगा पड़ा। मौके से फरार होने की कोशिश दौरान दोनों आरोपी सीआईए-टू पुलिस द्वारा काबु कर लिए गये, जिनके कब्जे से 12 एटीएम कार्ड, एटीएम कार्ड रीडर, मोबाइल फोन तथा वारदात उपरांत मौके से फरार होने में प्रयुक्त की जा रही फोर्ड फिस्टा गाड़ी बरामद कर ली गई। दोनों आरोपी शनिवार को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिए गये।
पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह ने बताया कि सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर सोमबीर के निर्देशानुसार सीआईए-टू पुलिस के हेड कांस्टेबल रामपाल शमशेर सिंह की टीम शाम के समय सादा कपड़ों में अपराध व अपराधियो के बारे में सुचना इकट्ठी  करने के लिए गांव पाडला के बस अड्डा के पास पहुंची। एचसी रामपाल को वहां सडक़ के किनारे ईन्डीकैश का एटीएम दिखाई दिया तो जरुरत के अनुसार रुपए निकालने हेतू वह मशीन के पास गया तो वहां पर पहले से दो नौजवान मुंह बांधे हुए मौजुद थे। जिनमें से युवक एटीएम मशीन से रुपए निकालने का प्रयास कर रहा था। जिन्होने कक्ष में घुसे रामपाल को पहले रुपए निकालने के बारे में कहा तो उसने अपना एटीएम कार्ड मशीन में डाला तो पैसे निकालने की प्रोसैसिंग में कुछ दिक्कत आई, जिसके दौरार उस नौजवान ने कहा कि मैं प्रयास करता हुं जिस पर सादा कपडे पहले हैडकांस्टेबल को कुछ शंका हुई, परंतु उसने अपना एटीएम कार्ड मदद हेतू संदिगध युवक के सुपूर्द कर दिया। इस दौरान दूसरा युवक रामपाल का ध्यान भटकाने के लिए उसे मशीन बारे बताने लगा तो पुलिस कर्मी को शक हुआ कि कहीं जिस लडक़े ने मेरा कार्ड लिया था उसने एटीएम कार्ड को अपने हाथ में पकड़ी छोटी स्वैप मशीन में डालकर कर स्वैप ना कर लिया हो। वापिस दिए गये कार्ड को जब रामपाल द्वारा मशीन मे डाला तो वह फिर से नहीं चला, परंतु उसने वापिस मुडक़र उन दोनो लडक़ो की तरफ देखा तो वो दोनो तुरंत एटीएम रुम से बाहर भाग गए। सतर्क एचसी द्वारा बाहर खडे अपने साथी हैडकांस्टेबल शमशेर सिहं को संदिगध युवकों को पकडऩे के लिए आवाज दी तथा अतंत: दोनों पुलिस कर्मचारियों द्वारा दोनों संदिगध नौजवान लडक़े काबु कर लिए गये, जिनमें से एक युवक एक छोटी एटीएम कार्ड को स्वैप करने वाली मशीन हाथ में लिए पाया गया, जो मदद के बहाने उसका एटीएम कार्ड मशीन में स्वैप कर चुका था। इस दौरान एनडीपीएस एक्ट के एक मामले की जांच हेतू पातड़ां  पंजाब जा रही सीआईए-टू के सहायक उसनिरिक्षक जसवंत सिंह की टीम गढ़ी बस अड्डे से थोडी आगे पहुंची थी, कि वे एचसी रामपाल की सुचना उपरांत त्वरित कार्रवाई करते हुए घटनास्थल पर पहुंची। जहां काबु किए गये आरोपियों से पूछताछ दौरान रामपाल कार्ड लेने वाले नौजवान व्यक्ति ने अपना नाम राजेश पुत्र सतबीर वासी शोरखी हाल रतन विहार किरारी सुलेमान नगर उतर पश्चिमी दिल्ली व उसका सहयोग करने वाले नौजवान ने अपना नाम पाला राम पुत्र गजा वासी गांव लुहारी राघो जिला हिसार बतलाया। राजेश की तलाशी ली गई तो उसके बांये हाथ में एक नीले रंग की छोटी एटीएम कार्ड स्वैप करने की मशीन मिली। पुछताछ पर दोनों ने कबुल किया कि उन्होने योजनाबद्ध तरिके से कार्ड का डाटा धोखाधड़ी से स्वेप मशीन में रिकोर्ड करके धोखाधड़ी से क्लोन एटीएम कार्ड तैयार करके क्लोन कार्ड की मार्फत अपने शिकार के खाता से रुपये निकलवाने के लिये कार्ड को स्वेप किया है। थाना सदर कैथल में आरोपियों के खिलाफ भादसं. की धारा 420/120बी अंतर्गत अभियोग दर्ज करके दोनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गये। जांच के दौरान मौके से आरोपियों की फोर्ड फिस्टा गाड़ी जब्त कर ली गई, जिसके अंदर से एक दर्जन अन्य एटीएम कार्ड व एक मोबाइल फोन बरामद हुआ। व्यापक पूछताछ उपरांत दोनों आरोपी शनिवार को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिए गये।

Share this story