सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग   
सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग   
सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग    

दिल दहला देने वाली यह घटना पटौदी रामपुर रोड वार्ड एक की

आरोपी दामाद रिंकू पुत्र महेंद्र भी लगाई गई आग में स्वयं झुलसा

पेट्रोल की आग में चार वर्ष  व 8 माह की बच्ची व अन्य भी झुलसे

आग लगाने के बाद आरोपी दामाद रिंकू ने किया भागने का प्रयास

आग में झुलसे दोनों मासूम बच्चों की हालत बेहद बताई गई गंभीर

फतेह सिंह उजाला

सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग   
पटौदी । दिवाली जैसे त्योहार से पूर्व एक सनकी दामाद ने अपनी ससुराल पहुंच पेट्रोल छिड़ककर आग लगाने का तांडव कर डाला। यह घटना पटौदी-रामपुर रोड पर पटौदी नगर पालिका के वार्ड 1 की ही है। दिल दहला देने वाली घटना में पेट्रोल डालकर लगाई गई व भड़की आग में 8 माह की मासूम बच्ची 4 वर्ष का मासूम बच्चा तथा परिवार के तीन और सदस्य बुरी तरह से झुलस गए । आग में झुलसे दोनों मासूम बच्चों की हालत बेहद गंभीर बताई गई है । कथित रूप से 4 वर्षीय बच्चे को उसकी गंभीर हालत को देखते हुए गुरुग्राम से दिल्ली के लिए रेफर किया जी आने की जानकारी मिली है।

दिल दहला देने वाली घटना की पुष्टि करते हुए पटौदीी थाना के एसएचओ अमित कुमार ने बताया आरंभिक जानकारी के मुताबिक आरोपी रिंकू पुत्र महेंद्र निवासी अस्थल बोहर रोहतक पेट्रोल अपने साथ ही लेकर आया था और यहां आकर उसमें घर में अचानक पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। आग में झुलसे सभी लोगों को सबसे पहले पटौदी नागरिक अस्पताल लाया गया और यहां से उनकी गंभीर हालत को देखते हुए गुरुग्राम रेफर कर दिया गया है । पुलिस ने आग में झुलसे पीड़ितों के बयान दर्ज करने की अपनी प्रक्रिया आरंभ कर दी है।

सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग   

जानकारी के मुताबिक पटौदी निवासी सुमन जिसके पिता की बचपन में ही मृत्यु हो गई थी। उसकी शादी अस्थल बोहर रोहतक निवासी रिंकू पुत्र महेंद्र के साथ हुई थी । बताया गया है कि इन दोनों के एक पुत्र भी है । इस पूरे घटनाक्रम में जानकारी के मुताबिक शादी के बाद से ही पति रिंकू और पत्नी सुमन के बीच में अनबन की वजह से विवाद इतना बढ़ा की दोनों के बीच में मामला तलाक के लिए अदालत में विचाराधीन है । सूत्रों से उपलब्ध जानकारी के मुताबिक तलाक के इस विवाद का निकट भविष्य में फैसला भी होने वाला था। मंगलवार को रिंकू अपनी ससुराल पटौदी में पत्नी सुमन के यहां घर पर पहुंचा था। बताया गया है कि उस समय पत्नी सुमन परिवार के अन्य सदस्यों के साथ दिवाली के त्यौहार के दृष्टिगत बाजार में खरीदारी के लिए गई हुई थी ।

इसी बीच में रिंकू पुत्र महेंद्र निवासी रोहतक में अपनी ससुराल में अचानक पेट्रोल छिड़ककर आग लगा डाली । पेट्रोल के कारण आज इतनी तेजी से फैली और भड़की कि उस समय घर में मौजूद लोगों को कुछ भी नहीं सूझा और धुआं भर जाने की वजह से सभी बुरी तरह से दम घुटने के कारण घबरा गए। बताया गया है कि पेट्रोल के कारण लगी आग से आरोपी रिंकू का साला अथवा पत्नी सुमन का भाई गौरव उर्फ सोनू का 4 वर्षीय पुत्र चीनू और 8 माह की मासूम बच्ची मानवी बिस्तर पर ही बुरी तरह से झुलस गए। घर में ही मौजूद आरोपी रिंकू की पत्नी सुमन के भाई गौरव की पत्नी ज्योति भी आग में बुरी तरह से झुलस गई । जिस समय घर में पेट्रोल डालकर आग लगाई गई घर पर सुमन का मामा नरेश पुत्र हीरालाल और नाना हीरालाल पुत्र नंदलाल भी मौजूद थे, इन दोनों में भी मामा नरेश और नाना हीरालाल आग में झुलसने से नहीं बच सके । बताया गया है जिस समय पेट्रोल डालकर आरोपी के द्वारा घर में आग लगाई गई उसी सुलगती आग की चपेट में रिंकू भी बुरी तरह से झुलस गया। जैसे ही यह आग लगाई गई सबसे पहले सुमन की भाभी ज्योति घर से बाहर भाग कर आई और बचाने के लिए शोर मचाना आरंभ कर दिया। शोर-शराबा सुनकर जैसे ही पड़ोसी बचाव के लिए घटनास्थल पर पहुंचे।

सनकी दामाद की दबंगई ससुराल में पहुंच पेट्रोल डाल लगाई आग   

सबसे पहले आग लगाने वाला आरोपी रिंकू दामाद ही वहां से फरार होने के लिए घर से निकलकर गुरुग्राम पटौदी रोड की तरफ दौड़ पड़ा। कथित रूप से दामाद रिंकू ने अपने साथ में चाकू अथवा धारदार जैसा कोई हथियार भी लिया हुआ था और गुरुग्राम रोड पर पहुंचकर कथित रूप से उसके द्वारा एक लड़की की स्कूटी छीन कर भी भागने का प्रयास किया गया। लेकिन इस प्रयास में वह नाकाम रहा और मौके पर पुलिस के द्वारा दबोच लिया गया । जानकारी के मुताबिक आग लगाकर घर से बाहर भागने के प्रयास में निकले दामाद रिंकू को झुलसा हुआ देखकर आस-पड़ोस के लोगों ने सबसे पहले उसकी ही आग बुझाई और इसी बात का फायदा उठाते हुए उसने मौके से फरार होने का भी प्रयास किया।

सुमन पत्नी रिंकू निवासी रोहतक कथित रूप से तलाक के विवाद के कारण बीते काफी समय से पटौदी में अपने मायके में ही रह रही थी। बताया गया है कि दोनों के बीच जो भी कोई विवाद था , उसको सुलझाने के लिए पंचायती और सामाजिक स्तर पर भी प्रयास किए गए और इसके बाद में रिंकू पुत्र महेंद्र अपनी पत्नी सुमन को रोहतक ले गया था । लेकिन कुछ दिन के बाद में ही सुमन अपने पुत्र के साथ में पटौदी अपने मायके लौट आई । सनकी दामाद रिंकू पुत्र महेंद्र निवासी अस्थल बोहर रोहतक के द्वारा पेट्रोल डालकर लगाई गई आग की वजह से 4 वर्ष का चीनू पुत्र गौरव , 8 माह की मासूम बच्ची मानवी पुत्री गौरव ,सुमन का मामा नरेश पुत्र हीरालाल , सुमन की भाभी ज्योति पत्नी गौरव तथा नाना हीरालाल पुत्र नंदलाल भी आग की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गए।  इन सभी को पटोदी नागरिक अस्पताल में प्राथमिक उपचार देते हुए गंभीर हालत को ध्यान में रखकर उपचार के लिए गुरुग्राम रेफर कर दिया गया। बताया गया है कि इस आगजनी में 4 वर्षीय चीनू पुत्र गौरव की गंभीर हालत को देखते हुए उसको उपचार के लिए गुरुग्राम से दिल्ली रेफर कर दिया गया है । फिलहाल पटोदी थाना पुलिस इस पूरे आगजनी के मामले में पीड़ित पक्ष के बयान दिए जाने का इंतजार है । उसके बाद में ही आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया जा सकेगा।

Share this story