कासन हत्याकांड को अंजाम देने वाला मास्टरमाइंड पुलिस की गिरफ्त से बाहर,एक के बाद एक कुल चार घायलों की मौैत
पुलिस के मुताबिक इनके कब्जा से 01 ईको गाङी, 04 मोबाईल फोन, 01 कैन्टर की चाबी  तथा 02 देशी कट्टे , 01 पिस्टल , 07 जिन्दा कारतूस, 0 5 ख़ाली खोल व 01 मोटरसाईकिल पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए है।

कासन हत्याकांड के कासन हत्याकांड के शामिल शार्प शूटर को पुलिस ने दबोचा.

कासन  हत्याकांड को अंजाम देने वाला मास्टरमाइंड पुलिस की गिरफ्त से बाहर

03 नाबालिक सहित कुल 10 आरोपियों को पुलिस द्वारा काबू किया गया

गिरफ्तार दो नाबालिकों ने की थी कासन में हुए हत्याकांड से पहले रेकी

अभी तक इस वारदात में एक के बाद एक कुल चार घायलों की मौैत

by-फतह सिंह उजाला

crime
गुरूग्राम।
 दीपावली पर गाँव कासन की ढाणी में पूर्व सरपंच के घर पर धन्धाधुन्ध फायरिंग करके 04 लोगों को मौत के घाट उतारने व 02 को घायल करने की वारदात को अन्जाम देने वाले हत्याकाण्ड के सरगना सहित 04 आरोपियों को अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने काबू किया है। अब तक 03 नाबालिक आरोपियों सहित इस मामले में कुल 10 आरोपियों को गुरुग्राम पुलिस द्वारा काबू किया जा चुका है।’ वारदात के मास्टरमाईन्ड ने अपने भाई की हत्या का बदला लेने के लिए के इस हत्याकाण्ड के मुख्य सरगना के साथ मिलकर ही साजिश रची थी तथा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया गया था। इस हत्याकाण्ड का मुख्य सरगना हत्या, हत्या का प्रयास व लूट की 02 दर्जन से भी अधिक वारदातों को अंजाम दे चुका है।’ एसीपी क्राइम प्रीतपाल ने इस सनसनी खेज हत्याकांड की वारदात के बार में जानकारी देते बताया कि अब तक इस मामले में कुल 10 आरोपियों को गुरुग्राम पुलिस टीम द्वारा काबू किया जा चुका है ।

पुलिस के मुताबिक इनके कब्जा से 01 ईको गाङी, 04 मोबाईल फोन, 01 कैन्टर की चाबी  तथा 02 देशी कट्टे , 01 पिस्टल , 07 जिन्दा कारतूस, 0 5 ख़ाली खोल व 01 मोटरसाईकिल पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए है।’ चार नवंबर को थाना सैक्टर-7 आई.एम.टी. मानेसर पुलिस कोएक सूचना गाँव कासन की ढाणी मे पूर्वं सरपंच गोपाल के मकान पर 5-6 लोगों को गोली मार देने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई। पुलिस टीम तुरन्त गाँव कासन की ढाणी में गोपाल के मकान पर पहुंच गई जहां पर बिमला देवी पत्नी स्वर्गीय सरपंच गोपाल मिली , जिसने बतलाया कि इसके लड़को व इसके भाई इत्यादि को गोलियां मारी गई है। जिन्हें ईलाज के लिए गुरुग्राम अस्पताल में ले गए हैं और इस घटना के बारे में इसके लड़के या उसका भाई इत्यादि आपको लिखित शिकायत देकर बतलाएगें।

इस मामले में कार्यवाही करते हुए उप-निरीक्षक संजीव कुमार, अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम ने अपनी समझबुझ से हत्या की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपियों पनाह (ठहराने का प्रबन्ध) देने वाले 02 आरोपियों अमित सिहं पुत्र सुभाष सिह निवासी मकान नम्बर-231 देवीगढ रोड गली नम्बर-2 थाना सैक्टर-19 कैथल जिला कैथल और तरुण कुमार उपनाम चीनु पुत्र राजेश कुमार निवासी वार्ड नम्बर-14 कृष्णा कॉलोनी शनिदेव मन्दिर के पास समालखा थाना समालखा, जिला पानीपत को 10.11.2021 को गाँव कासन से काबू करने में बङी सफलता हासिल की। निरीक्षक जोगिन्द्र सिंह, प्रभारी अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम के नेतृत्व में कार्यवाही करते हुए सहायक उप-निरीक्षक जितेन्द्र, अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम ने अपनी पुलिस टीम के साथ अपनी समबुझ से उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 04 आरोपियों को दिनांक गुरूवार को के.एम.पी. पुल के नीचे फरुखनगर, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की। इनकी पहचान अभिशेख सरोहा उर्फ त्ब् उर्फ तारा बवाना उर्फ रोहित पुत्र नरेंद्र सरोहा निवासी गाँव बवाना मोहल्ला माडान पाना थाना बवाना दिल्ली, संजीव उर्फ संजू उर्फ बाबा पुत्र रमेश निवासी बखेता, जिला रोहतक, साहिल उर्फ भीमा पुत्र पवन निवासी फिरोजपुर बांगड़ थाना खरखोदा, जिला सोनीपत और विकास पुत्र उर्फ काला पुत्र ईकबाल निवासी बख्तावरपुर थाना मुरथल, जिला सोनीपत के तौर पर की गई है।

वारदात के पहले इस हत्याकांड में शामिल रहे दो नाबालिग युवकों ने रेकी की थी,जिन्हें एसआईटी टीम ने गिरफ्तार कर लिया । पुलिस की माने तो पूर्व सरपंच के घर दीपावली की रात योजनाबध्द तरीके से हमला किया गया था। इस मामले में अब तक 10 लोगो को गिरफ्तार किया गया है। जबकि मुख्य आरोपी रिंकू की तलाश जारी है। पुलिस की माने तो इस हत्या कांड की मुख्य वजह 2007 में हुई रंजिश का ही नतीजा है। इतना ही नही इस वारदात मे शामिल रहे लोग आपराधिक प्रवर्ती के है,जिनकी तलाश में गुरुग्राम पुलिस की टीमें जुटी हुई है। पुलिस की मानें तो इस पूरे हत्याकांड में मुख्य भूमिका निभाने वाले तीन शार्प शूटर भी कल देर रात क्राइम ब्रांच पालम विहार ने गिरफ्तार कर लिए हैं । अभिषेक संजू और साहिल के तौर पर तीनों मुख्य चार शूटरों की पहचान हुई है तस्वीरों में दिख रहे यह अपराधी कोई मामूली अपराधी नहीं बल्कि लूट हत्या फिरौती जैसे संगीन वारदातों को बीते लंबे समय से अंजाम दे रहे थे जो कि अब गुरुग्राम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिए हैं। हालांकि गुरुग्राम पुलिस ने पूरे हत्याकांड मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है । मगर अभी भी इस पूरे हत्याकांड को अंजाम देने वाला मुख्य मास्टरमाइंड रिंकू पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहा है। वह तो अब देखना होगा कि गुरुग्राम पुलिस कब तक इस रिंकू नाम के मुख्य अपराधी को गिरफ्तार कर पाती है

Share this story