अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन
अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन

अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन

गयब मिले 2 सहायक अभियंता तथा एक कार्यकारी अभियंता पर एक्शन

फर्जी संतुष्टि पत्र पर भुगतान के मामले में एफआईआर के दिए निर्देश

जलनिकासी की योजना तैयार करने को किया जाएगा कमेटी का गठन

कार्यालय में हाजरी रजिस्टर एवं मूवमेंट रजिस्टर की हो व्यवस्था

फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम।
 हरियाणा के गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने नगर निगम गुरूग्राम के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। वह अचसनक ही प्रात 10. 30 बजे निगम कार्यालय पहुंच गए तथा 12. 30 बजे तक अकाऊंट एवं इंजीनियरिंग विंग की कार्यप्रणाली को देखने-समझनेे के साथ ही कर्मचारियों से जानकारी भी प्राप्त की।

अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन

एचएम विज ने निगम कार्यालय में गायब मिलने वाले दो सहायक अभियंताओं नामतः राकेश शर्मा तथा कुलदीप यादव को मौके पर ही निलंबित करने तथा कार्यकारी अभियंता धर्मबीर मलिक को कार्यभार मुक्त करने के निर्देश दिए। इसके अलावा, अकाऊंट ब्रांच के सैक्शन ऑफिसर भुपेन्द्र सिंह का दो घंटे का वेतन काटने की बात मंत्री द्वारा कही गई। उन्होंने कहा कि निगम पार्षदों के फर्जी संतुष्टि-पत्र पर भुगतान के मामले में एफआईआर दर्ज करवाकर संबंधित अधिकारियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाए। उन्होंने चीफ अकाऊंट ऑफिसर विजय कुमार की कार्यशैली पर संतुष्टि जताई तथा निगम की आय बढ़ाने के रास्तों पर ध्यान केन्द्रित करने के निर्देश भी दिए।

कार्यालय निरीक्षण के दौरान एचएम विज अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यप्रणाली से असंतुष्ट नजर आए। उन्होंने नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा से कहा कि सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों का हाजरी एवं मूवमैंट रजिस्टर होना चाहिए तथा कर्मचारियों का बेहतर उपयोग होना चाहिए। उन्होंने कहा कि 20 जुलाई को सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों द्वारा किए गए कार्यों की रिपोर्ट प्रत्येक कर्मचारी के हिसाब से उनके कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें।

मीडिया से बातचीत करते हुए गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री ने कहा कि गुरूग्राम में जलभराव की समस्या के स्थाई समाधान निकालने की योजना तैयार करने के लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि औचक निरीक्षण के दौरान नगर निगम गुरूग्राम की कार्यप्रणाली से वे संतुष्ट नहीं हैं, इसमें बहुत सुधार की आवश्यकता है। इस बारे में उन्होंने निगमायुक्त को निर्देश दिए हैं। साथ ही प्रत्येक कर्मचारी द्वारा 20 जुलाई को किए गए कार्य की रिपोर्ट उनके कार्यालय में भिजवाने के निर्देश दिए हैं। निगम कार्यालय में गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज द्वारा छापेमारी की सूचना से उत्साहित काफी निगम पार्षद व भाजपा कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए। जिस समय श्री विज कार्यालय का निरीक्षण कर रहे थे, भाजपा कार्यकर्ता निगम कार्यालय के बाहर खड़े होकर ‘अनिल विज जिंदाबाद’ के नारे भी लगाए। भाजपा के पूर्व कार्यकारी जिलाध्यक्ष कुलभूषण भारद्वाज ने कहा कि श्री विज से गुरूग्राम के लोगों को बहुत उम्मीदें हैं तथा इस प्रकार के दौरे से निगम की कार्यप्रणाली में सुधार आएगा तथा गुरूग्राम विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा। इस मौके पर उनके साथ गुरूग्राम की मेयर मधु आजाद, भाजपा नेता अनिल यादव, कुलभूषण भारद्वाज, निगमायुक्त मुकेश कुमार आहुजा, एडीशनल म्यूनिसिपल कमिशनर रोहताश बिश्नोई सहित निगम पार्षद उपस्थित रहे।

Share this story