logo
  • Fri Dec 31 2021
  • 5:23:59 PM
ये हरियाणा है और हिन्दू संगठन है अब मुस्लिम समुदाय को कब्रिस्तान के लिए हरियाणा में लेने के लिए विरोध सहना पड़ेगा क्या ?
sone
 स्पष्टीकरण में मेयर ने लिखा है कि उन्होंने किसी को भी कब्रिस्तान के लिये जमीन देने का लिखित में कोई वायदा नहीं किया है। उनके लेटर हेड का गलत इस्तेमाल किया गया है। 

ये हरियाणा है और हिन्दू संगठन है अब मुस्लिम समुदाय को कब्रिस्तान के लिए हरियाणा में लेने के लिए विरोध सहना पड़ेगा क्या ?

sonepay
सोनीपत (Atal Hind )

सोनीपत नगर निगम में शहर की सरकार बने अभी एक साल भी नहीं बीता कि एक बड़ा विवाद सामने आ गया है। सोशल मीडिया पर बुधवार देर शाम से मेयर निखिल मदान का अपने लेटर पैड वायरल हो रहा है। जिस पर देवडू गांव में मुस्लिम समुदाय को 6 एकड़ जमीन कब्रिस्तान के लिए देने के बारे में लिखा गया है। इस पत्र के वायरल होते ही हड़कंप की स्थिति पैदा हो गई है। वायरल पत्र में दावा किया गया है कि मेयर निखिल मदान जमीन आरक्षित करने का प्रस्ताव हाउस की बैठक में पास करवाएंगे। लैटर वायरल होने के बाद हिंदू संगठनों ने इसका कड़ा विरोध जताया और मेयर के खिलाफ प्रदर्शन की चेतावनी दे दी। इस बारे में जब मेयर को जानकारी हुई तो उन्होंने भी स्पष्टीकरण जारी कर दिया। अपने स्पष्टीकरण को उन्होंने अपने ऑफिशियल लैटर पैड पर लिख कर जारी किया है। जिसे सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा है। इस स्पष्टीकरण में मेयर ने लिखा है कि उन्होंने किसी को भी कब्रिस्तान के लिये जमीन देने का लिखित में कोई वायदा नहीं किया है। उनके लेटर हेड का गलत इस्तेमाल किया गया है। मेयर के अनुसार इस तरह से फर्जी पत्र वायरल कर सामाजिक ताने-बाने को खराब करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि लोगों की समस्याओं का निवारण करना उनका दायित्व है। यदि किसी धर्म या समाज के लोग उनसे मिलते हैं तो वे उनकी समस्या के समाधान का भरपूर प्रयास करेंगे।स्पष्ट किया गया है कि मंदिर, शमशान घाट या कब्रिस्तान के लिए जमीन देने का प्रस्ताव बाकायदा हाउस की बैठक में रखा जाता है, जिसमें सांसद, विधायक व सभी पार्षद मौजूद होते हैं। हाऊस में पास होने के बाद उसे सरकार के पास भेजा जाता है और सरकार ही उस प्रस्ताव को मंजूरी देती है। ऐसा लगता है कि कुछ लोग सामाजिक ताने-बाने को खराब करना चाहते हैं और जानबूझकर विवाद खड़ा करना चाहते हैं। गलत मंशा से इस तरह का भ्रामक प्रचार सोशल मीडिया के जरिये किया जा रहा है, जोकि बेहूदा हरकत है। निगम की ओर से ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Share this story